Jamshedpur Politics: बर्मामाइंस रघुवर नगर में शिलापट्ट तोड़े जाने का मामला फिर गरमाया, विधायक सरयू राय के चार समर्थकों की गिरफ्तारी के विरोध में थाना का घेराव

Jamshedpur Politics पुलिस ने विधायक सरयू राय के चार समर्थक कमल किशोर अग्रवाल दुर्गा राव रंजीत कुमार और गोल्डेन को गिरफ्तार कर लिया। जिसकी जानकारी के बाद विधायक सरयू राय अपने समर्थकों के साथ बर्मामाइंस थाना पहुंचे। ये रही पूरी जानकारी।

Rakesh RanjanTue, 28 Sep 2021 05:01 PM (IST)
बर्मामाइंस थाना पहुंचे जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय।

जमशेदपुर, जागरण संवाददाता : पूर्वी सिंहभूम जिले के बर्मामाइंस थाना क्षेत्र रघुवर नगर में पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास का शिलापट्ट तोड़े जाने और बस्ती में हुए विवाद मामले ने अचानक से पुलिसिया कार्रवाई होने के कारण मामले ने तूल पकड़ लिया। मंगलवार को पुलिस ने विधायक सरयू राय के चार समर्थक कमल किशोर अग्रवाल, दुर्गा राव, रंजीत कुमार और गोल्डेन को गिरफ्तार कर लिया। जिसकी जानकारी के बाद विधायक सरयू राय अपने समर्थकों के साथ बर्मामाइंस थाना पहुंचे। थाना प्रभारी से मिलकर पुलिस की एकतरफा कार्रवाई का विरोध किया।

प्रभारी ने विधायक को विभाग के वरीय अधिकारी के आदेश पर कार्रवाई करने की जानकारी दी। विधायक समर्थकों की भीड़ थाना में पहुंचने से थाना परिसर में अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया। पुलिस कंट्रोल रूम से क्यूआरटी फोर्स समेत अन्य थाना की पुलिस की बुला लिया गया। इधर, भाजमो के जिला महामंत्री मनोज सिंह उज्जैन ने कहा कि जब घटना हुई थी, तब दोनों ओर से बर्मामाइंस थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई थी। पुलिस किसके इशारे पर अचानक से एकतरफा कार्रवाई कर रही है। इसका विरोध पार्टी करती है और आगे भी करेगी। विधायक के दिशा-निर्देश पर रणनीति तैयार होगी। गौरतलब है कि बर्मामाइंस के रघुवर नगर में विधायक सरयू राय और पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास के समर्थकों के बीच विवाद हुआ था। दोनों पक्ष की ओर से प्राथमिकी दर्ज की गई थी। रघुवर दास का शिलापट्ट तोड़े जाने के आरोप भाजमो समर्थकों पर लगा था। भाजमो और भाजपा समर्थकों के बीच 2019 विधानसभा चुनाव के बाद से जमशेदपुर के पूर्वी विधानसभा चुनाव में कई जगहों पर विवाद हुआ। एक-दूसरे पर हमला किया गया। बिरसानगर, सिदगोड़ा, बर्मामाइंस, सीतारामडेरा और गोलमुरी थाना दोनों पक्ष के बीच प्राथमिकी दर्ज है। दोनों पार्टी के बीच विवाद में पुलिस अधिकारी निशाना बनते रहे हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.