बिष्टुपुर में गैस रिसाव का हुआ मॉकड्रिल, 10 काल्पनिक घायलों को पहुंचा गया टीएमएच

मॉकड्रिल में एनडीआरएफ के साथ जिला पुलिस भी सक्रिय रहीं।

Mockdrill of gas leak in Bistupur. औद्योगिक नगरी होने के नाते जमशेदपुर में गैस रिसाव की संभावना बनी रहती है। इसे लेकर बुधवार को जिला प्रशासन ने बिष्टुपुर में मॉकड्रिल किया। इसमें गैस रिसाव से कुल 10 लोगों को प्रभावित दिखाया गया।

Rakesh RanjanWed, 24 Feb 2021 05:17 PM (IST)

जमशेदपुर, जासं। औद्योगिक नगरी होने के नाते जमशेदपुर में गैस रिसाव की संभावना बनी रहती है। इसे लेकर बुधवार को जिला प्रशासन ने बिष्टुपुर में मॉकड्रिल किया। इसमें गैस रिसाव से कुल 10 लोगों को प्रभावित दिखाया गया। इन्हें बारी-बारी से एंबुलेंस में लादकर टीएमएच पहुंचाया गया।

मॉकड्रिल में एनडीआरएफ के साथ जिला पुलिस भी सक्रिय रहीं। इसमें घटनास्थल टाटा स्टील कंपनी परिसर से लेकर टीएमएच तक बनाया गया था। इसकी तैयारी करीब एक सप्ताह से चल रही थी। इसमें वोल्टास बिल्डिंग को शेल्टर प्वाइंट बनाया गया था, जहां कम प्रभावित लोगों को रखा गया।

मॉकड्रिल के दौरान चारों ओर लगा जाम

मॉकड्रिल के दौरान बिष्टुपुर मेन रोड के चारों ओर लंबा जाम लग गया। शहरवासियों का कहना था कि माॅकड्रिल का जिला प्रशासन ने काफी प्रचार प्रसार किया, लेकिन शहरवासियों को यह रूट नहीं बताया कि इस दौरान वे बिष्टुपुर में कहां से गुजरेंगे। इसकी वजह से बिष्टुपुर पोस्ट ऑफिस से लेकर टाटा स्टील के जनरल ऑफिस गेट, उधर टीएमएच के आगे से बेल्डीह चर्च, आदित्यपुर के खरकई पुल और जुगसलाई के पिगमेंट गेट तक लंबा जाम लग गया। लोगों को यह समझ में नहीं आ रहा था कि वह बिस्टुपुर कैसे पार करें। अपनी ड्यूटी या गंतव्य स्थल पर कैसे पहुंचें। इसे लेकर एक दो जगह पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ा। लोगों का कहना था कि प्रशासन को कम से कम दो दिन पहले रूट चार्ट बता देना चाहिए था कि साकची, जुगसलाई, सोनारी, कदमा या आदित्यपुर से आने वाले लोग, जो बिष्टुपुर मेन रोड क्रॉस करके जाते हैं, वह कैसे जाएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.