कैरा और उसके परिवार को खोजने की मांग को लेकर रात भर धरने पर बैठे रहे परिवार के सदस्‍य

धरनास्‍थल पर रात में खाना खाते कैरा लागुरी के परिवार के सदस्‍य। जागरण
Publish Date:Thu, 22 Oct 2020 12:35 PM (IST) Author: Rakesh Ranjan

चाईबासा, जासं।   इंसाफ के लिए रात भर खुले आसमान के नीचे गुजार दिया कैरा लागुरी के परिवार के सदस्‍यों ने। पश्चिमी सिंहभूम जिले के टोंटो थाना अंतर्गत बाईहातु गांव निवासी कैरा लागुरी लॉकडाउन के समय से अपने गांव से पत्नी और तीन बच्चों के साथ गायब हो गया था।

इसकी शिकायत कैरा की फूफी नानीके हेस्सा और बहन  रायमुनी लागुरी ने टोंटो थाना, जगन्नाथपुर डीएसपी, पुलिस अधीक्षक चाईबासा, उपायुक्त चाईबासा समेत अन्य जगह करते हुए न्याय की मांग की। इसके बावजूद कोई खोज खबर नहीं होने पर कुछ दिन पहले पुराना समाहरणालय भवन के पास कैरा की बरामदगी के लिए पोस्टर बैनर लेकर धरना भी दिया। इसके बावजूद कोई सुनवाई नहीं होने पर स्थानीय जनप्रतिनिधि पंचायत समिति सदस्य जयंयंती बुडिउली के नेतृत्व में बुधवार सुबह से ही सदर एसडीओ कार्यालय के आगे कैरा लागुरी और उनके परिवार के सदस्य की खोजबीन की मांग को लेकर धरना पर बैठे हैं ।

धरना स्‍थल पर ही सो गए परिवार के सदस्‍य

संध्या तक किसी प्रकार का कोई आश्वासन नहीं मिलने पर परिवार के सदस्य रात भर एसडीओ कार्यालय के बाहर खुले आसमान में धरनास्थल पर ही सो गए। रात में कुछ सामाजिक लोगों की नजर उस पर पड़ी तो उन्होंने रात का खाना 11 बजे लाकर धरना स्थल पर दिया। उसी प्रकार कैरा के परिवार रात भर अपनी मांग को लेकर जमे रहे । गुरुवार को भी धरना जारी रहेगा।

 पंचायत समिति सदस्‍य ने जताई अनहोनी की आशंका

इस संबंध में जानकारी देते हुए पंचायत समिति सदस्य जयंती ने कहा कि कैरा के परिवार के साथ जरूर कुछ अनहोनी हुई है । अगर वह गुमशुदा है तो पुलिस जांच करें। अगर उनकी हत्या हो गई है तो शव बरामद कर दोषियों पर कार्रवाई करें। जब तक कैरा लागुरी और उनके परिवार का कोई पता नहीं चल जाता हम लोग लगातार धरना- प्रदर्शन और सरकार से गुहार लगाते रहेंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.