Jharkhand Weather Update : 48 घंटे से हो रही भारी बारिश, नदियों में उफान, आज भी बरसेगी इंद्र की कृपा

Kolhan Weather Update जमशेदपुर सहित पूरे झारखंड में भारी बारिश हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार बादल छंटेंगे लेकिन शनिवार को भी हल्की बारिश होने की संभावना है। उधर निचले इलाके में पानी भरने से प्रशासन सतर्क हो गया है।

Jitendra SinghSat, 31 Jul 2021 06:00 AM (IST)
48 घंटे से हो रही भारी बारिश नदियों में उफान

जमशेदपुर : जमशेदपुर समेत पूरे झारखंड में तेज हवा के साथ पिछले 48 घंटे से बारिश हो रही है। मौसम विभाग के अनुसार जमशेदपुर, रांची, धनबाद, बोकारो, खूंटी, सिमडेगा, हजारीबाग, कोडरमा, सहित पूरे झारखंड में शनिवार को भी बारिश का दौर जारी रहेगा। उधर, शहर में जल जमाव होने से लोग परेशान है। कई बस्तियों में बारिश का पानी घुस जाने से लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है।

मौसम हुआ सुहाना, चादर ओढ़कर रात भर सोए लोग

जमशेदपुर में शनिवार देर रात तक 40 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। बारिश के साथ ही 14 से 22 किमी प्रति घंटे के हिसाब से हवा भी बह रही है। इससे ठंड महसूस हो रही है। इससे उमस भरी गर्मी से लोगों ने राहत की सांस ली है। हालांकि बारिश से पूरा शहर का हाल बेहाल है।

बिरसानगर में गिरा मकान का दीवार, दो लोग घायल

लगातार बारिश के कारण मानगो के बिरसारोड में एक मकान का दीवार गिर जाने से दो लोगों को आंशिक रूप से चोट लगा। लगातार बारिश होने के कारण स्वर्णरेखा व खरकई नदी के जलस्तर भी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में उठे साइक्लोन का ही असर है कि जमशेदपुर समेत पूरे झारखंड में बारिश हो रही है।

खरकई और स्वर्णरेखा नदी का जलस्तर बढ़ा

लगातार बारिश के कारण चांडिल डैम के साथ ही नदियों के जलस्तर भी बढ़ रहा है। इस संबंध में चांडिल डैम का देखरेख कर रहे कार्यपालक अभियंता संजीव कुमार ने बताया खरकई नदी का जल स्तर 127.190 मीटर था जबकि खतरे का निशान 129 मीटर होने से होता है। इसी तरह स्वर्णरेखा नदी का जल स्तर 117.260 मीटर पर बह रहा है, जबकि खतरे का निशान 121 मीटर से अधिक होने पर होता है।

किसानों को पेड़ के नीचे नहीं रूकने की सलाह

मौसम विभाग ने द्वारा जारी रेड अलर्ट में खेतों में काम कर रहे किसानों को चेतावनी दिया गया है कि वह बारिश के दौरान पेड़ के नी9चे नहीं जाएं। बारिश होने पर किसी सुरक्षित स्थान पर चले जाएं। मौसम विभाग ने अपील किया है कि पेड़ के आसपास आकाशीय बिजली गिरने से जान-माल का नुकसान हो सकता है। ऐसी स्थिति में बारिश व गर्जन होने के समय पेड़ के नीचें बिलकुल नहीं जाएं।

पूर्वी सिंहभूम के पटमदा-बोड़ाम में सर्वाधिक 75 मिमी हुई बारिश

पूर्वी सिंहभूम जिले में शुक्रवार को झमाझम बारिश हुई। जिसमें सर्वाधिक बारिश पटमदा व बोड़ाम प्रखंड में 75-75 मिमी रिकार्ड की गई। जिले में औसत 50.2 मिमी बारिश हुई।

शुक्रवार को प्रखंडवार बारिश एक नजर में

जमशेदपुर - 34.0 मिमी पोटका - 34.4 मिमी पटमदा - 75.0 मिमी बोड़ाम - 75.0 मिमी मुसाबनी - 50.2 मिमी डुमरिया - 31.4 मिमी घाटिशला - 56.0 मिमी धालभूमगढ़ - 44.4 मिमी चाकुलिया - 68.4 मिमी बहरागोड़ा - 62.4 मिमी गुड़ाबांधा - 23.6 मिमी

बाढ़ की संभावना के मद्देनजर नदी किनारे के लोगों को किया गया सतर्क

दो दिनों से हो रही लगातार बारिश के कारण नदियों का जलस्तर बढ़ने व डैम से पानी छोड़ने की संभावना को देखते हुए शुक्रवार को मानगो नगर निगम के कार्यपालक पदाधिकारी दीपक सहाय के निर्देश पर तटीय इलाके में बसे लोगों को माइकिंग के माध्यम से सतर्क किया गया। माइकिंग से लोगों को कहा गया कि यदि असुरक्षित महसूस कर रहे हों तो नगर निगम द्वारा बनाए गए अस्थाई राहत शिविरों में आश्रय ले सकते हैं। दीपक सहाय ने बताया कि लक्ष्मण नगर, श्याम नगर, रामनगर, वर्कर्स कॉलेज क्षेत्र के आसपास के क्षेत्रों में माइकिंग करते हुए लोगों को अलर्ट किया गया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.