1977 में जुगसलाई सीट से कार्तिक कुमार ने दर्ज की थी जीत

जासं, जमशेदपुर : वर्ष 1977 में जुगसलाई को अलग विधानसभा सीट बनाया गया। उस समय कराए गए चुनाव में जनता पार्टी के प्रत्याशी कार्तिक कुमार विजेता बने। इसके बाद 1980 में तुलसी रजक (सीपीआइ) तथा 1985 में त्रिलोचन कालिंदी (कांग्रेस) यहां से विधायक बने। वर्ष 1990 में मंगल राम ने (झामुमो) पहली बार जुगसलाई सीट पर कब्जा जमाया। इसके बाद झामुमो लगातार चार बार इस सीट पर कब्जा बनाए रखा। इनमें दुलाल भुइयां अकेले विधायक हैं जिन्होंने हैट्रिक जमाने में कामयाबी पाई। दुलाल पहली बार 1995 में जीते। इसके बाद लगातार 2000, 2005 में जीत दर्ज की।

वर्ष 2009 में दुलाल भुइयां को मंत्री रहते उनके लिए काम कर चुके बोड़ाम के मुचीडीह निवासी कार्यकर्ता व (आजसू) प्रत्याशी रामचंद्र सहिस ने पटखनी दे दी। इस चुनाव में दुलाल भुइयां तीसरे पायदान पर रहे। आजसू प्रत्याशी रामचंद्र सहिस को जहां कुल 42810 मत मिले वहीं भाजपा प्रत्याशी राखी राय 39328 मत प्राप्त कर दूसरे नंबर पर रही। जबकि झामुमो प्रत्याशी दुलाल भुइयां को 35629 मत मिले।

---

लगातार तीन बार जीते दुलाल

दुलाल भुइयां ने 1995 में (कांग्रेस) प्रत्याशी हरि मुखी को 16486 मतों से पराजित कर दिया। दुलाल भुइयां को जहां 38816 मत मिले वहीं हरि मुखी को 22330 मत मिला। वर्ष 2000 में दुलाल रिकार्ड 69989 मत मिले जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंदी (भाजपा) के मंगल राम को मात्र 26648 मत ही मिले। इसके बाद लगातार तीसरी बार हैट्रिक करते हुए दुलाल भुइयां ने 2005 में अपने निकटत प्रतिद्वंदी भाजपा के हराधन दास को 2654 मत से हरा दिया। 2005 में दुलाल भुइयां को 59649 मत मिले तो (भाजपा)प्रत्याशी हराधन दास को 56995 मत मिले।

----

दुलाल का रिकार्ड की बराबरी करने का मौका सहिस के पास

रामचंद्र सहिस 2009 व 2014 में लगातार यहां से विधायक चुने गए। सहिस यदि 2019 का चुनाव जीत जाते हैं तो वह पूर्व मंत्री दुलाल भुइयां के तीन बार का रिकार्ड की बराबरी कर लेंगे।

----

जुगसलाई विधानसभा से अब तक बने विधायक

सन विधायक पार्टी

1977 कार्तिक कुमार जनता पार्टी

1980 तुलसी रजक सीपीआई

1985 त्रिलोचन कालिंदी कांग्रेस

1990 मंगल राम झामुमो

1995 दुलाल भुइयां झामुमो

2000 दुलाल भुइयां झामुमो

2005 दुलाल भुइयां झामुमो

2009 रामचंद्र सहिस आजसू

2014 रामचंद्र सहिस आजसू

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.