मुसाबनी में पुल निर्माण कार्य में अनियमितता की शिकायत, बाल मजदूरों से कराया जा रहा था काम Jamshedpur News

निर्माणाधीन पुल की जांच करते जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू। जागरण

ग्रामीणों ने भंडारबोरो - जादूगोड़ा पुल के निर्माण में नियम कानून को ताक पर रखकर कार्य करने की शिकायत मुसाबनी के जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू से की। ग्रामीणों की शिकायत पर जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू ने शनिवार को अपनी टीम के साथ निर्माणाधीन पुल का निरीक्षण किया।

Publish Date:Sat, 16 Jan 2021 03:44 PM (IST) Author: Rakesh Ranjan

मुसाबनी, जासं। पूर्वी सिंहभूम के  मुसाबनी प्रखंड के भंडारबोरो -जादूगोड़ा पुल निर्माण कार्य में भारी अनियमितता बरते जाने का मामला प्रकाश में आया है।

इस बाबत ग्रामीणों ने भंडारबोरो - जादूगोड़ा पुल के निर्माण में नियम कानून को ताक पर रखकर निर्माण कार्य जारी रखने की शिकायत मुसाबनी के जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू से की। ग्रामीणों की शिकायत पर जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू ने शनिवार को अपनी टीम के साथ निर्माणाधीन पुल का निरीक्षण किया। जिला पार्षद भुनेश्वर मुर्मू ने बताया कि संवेदक द्वारा पुल निर्माण में सारे नियम कानून व गुणवत्ता को ताक पर रख दिया गया है।

न्‍यूनतम मजदूरी का भुगतान नहीं

पुल का पहला पिलर ढलाई को आधा से भी कम ढलाई कर छोड़ दिया गया जो भविष्य में भारी वाहन की आवाजाही से कभी भी ढह सकता है। पुल ढलाई मानक के अनुसार नहीं हो रही है। कई जगह रॉड की दूरी मानक से अधिक है। मजदूरों को सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी नहीं देकर सिर्फ 200 रुपया ही दिया जा रहा है। संवेदक द्वारा बाल श्रम कानून का उल्लघंन करते हुए बाल श्रमिकों के द्वारा काम कराया जा रहा है । जिसका भुगतान भी समय पर नहीं किया जाता है । महिला श्रमिकों को सुबह 6 बजे से लेकर रात के 8 बजे तक काम कराया जाता है और अतिरिक्त भत्ता भी नहीं दिया जाता है । 

उपायुक्‍त से करेंगे शिकायत

जिला पार्षद ने कहा कि इस अनियमितता को लेकर वे जल्द ही उपायुक्त से मिलकर शिकायत करेंगे । मुख्यमंत्री एवं श्रम विभाग को भी लिखित शिकायत की जाएगी ताकि बाल मजदूरी को रोका जा सके। इस अवसर पर रवि सिंह, रुनू पातर, प्रसाद टुडू,मंगलदेव पातर,कुश पातर,विष्णु टुडू,रवि कर्मकार,अकुल राउत,शेख फिरोज,अजय टुडू,परमेश्वर हांसदा,जगन्नाथ टुडू के साथ साथ काफी संख्या में मजदूर व ग्रामीण उपस्थित थे ।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.