IRCTC Indian Railway: आपके रेल टिकट में लिखा होता है कि रिजर्वेशन कंफर्म होगा या नहीं, जानिए कैसे

IRCTC Indian Railway क्या आपको पता है कि जब आप रेल टिकट रिजर्वेशन कराते हैं तो उस टिकट में यह लिखा होता है कि आपका टिकट कंफर्म होगा या नहीं। यह संकेत कोड में लिखा होता है। आइए आप भी जान लीजिए किस कोड का क्या है मतलब...

Jitendra SinghThu, 16 Sep 2021 06:00 AM (IST)
अगर आपके रेलवे टिकट में यह कोड लिखा है तो पक्का कंफर्म होगा टिकट

जमशेदपुर : भारत में रेल परिवहन की धूरी है। बिजनेस क्लास से लेकर दिहाड़ी मजदूरी करने वाले भी इसमें सफर करते हैं और सभी अपने बजट के अनुरूप यात्रा के लिए टिकट रिजर्वेशन कराते हैं। यात्रा से पहले टिकट कंफर्म हो जाए तो बल्ले-बल्ले, लेकिन वेटिंग रह गई तो परेशानी हो जाती है। 

आपने अपनी यात्रा से पहले स्लीपर, 2एस और एसी में टिकट कराया भी होगा। लेकिन कभी आपने गौर किया है कि आरएनडब्ल्यूएल, सीकेडब्ल्यूएल का मतलब क्या है। क्योंकि ट्रेन के रिर्जेवेशन टिकट में कई सारी जानकारियां होती हैं जिसे हम अक्सर नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन यही कोड हमें बताता है कि है कि हमारी टिकट की पोजिशन क्या है। तो आइए जानते हैं कि किस वेटिंग टिकट की श्रेणी में लिखे हुए शब्द का क्या अर्थ होता है।

PNR : इसका मतलब होता है पैसेंजर नेम रिकार्ड। यह रिर्जेवेशन टिकट के लेफ्ट साइड के ऊपर में लिखा होता है। इसमें शुरूआत के एक से नौ अंक बताते हैं कि ट्रेन किस जोन की है। दूसरे अंक संबधित स्टेशन का है जो बताता है कि यात्री कहां से बोर्डिंग करेगा और कहां उसे उतरना है। इसके अलावा सीट संख्या, यात्री की संख्या, पहुंचने वाले स्टेशन का पूरा विवरण रेलवे के पास सुरक्षित रहता है।

GNWL : टिकट में शॉर्ट फॉर्म में लिखे इस शब्द का मतलब होता है जनरल वेटिंग लिस्ट। जब कोई यात्री किसी स्टेशन या आसपास के स्टेशन से यात्रा शुरू करता है कि वेटिंग लिस्ट का यह सबसे सामान्य कोड है। जिसका अर्थ होता है कि ऐसी टिकट जल्द कंफर्म होगी।

TWL : वर्ष 2016 से पहले तत्काल कोटा लिस्ट को सीकेडब्ल्यूएल कोड के रूप में जाना जाता है जिसे बदलकर अब टीक्यूडब्ल्यूएल कर दिया गया है। इसका मतलब होता है तत्काल कोटे की वेटिंग लिस्ट। यदि कोई कंफर्म टिकट रद होता है तो ऐसे टिकट वाले को कंफर्म सीट मिलने की पहली प्राथमिकता मिलती है।

RAC : इसका अर्थ होता है रिर्जेवेशन अगेंस्ट कैंसिलेशन। यानि यात्रा से पहले यदि टिकट कंफर्म नहीं हुआ तो वह खुद ब खुद कैंसिल हो जाएगा और संबधित यात्री का पैसा उसके बैंक खाते में आ जाएगा।

PQWL : इसका मतलब होता है पूल्ड कोटा वेटिंग लिस्ट। यानि छोटे स्टेशनों के लिए जो कंफर्म सीट का कोटा जारी किया जाता है। उस श्रेणी में उक्त टिकट के कंफर्म होने के लिए किसी भी स्टेशन पर कंफर्म टिकट यदि रद होता है तो पीक्यूडब्ल्यूएल वाले यात्री का टिकट कंफर्म हो जाता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.