ISL : गत चैंपियन मुंबई को मात देने की तैयारी में मेन ऑफ स्टील, होगा रोचक मुकाबला

ISL चार मैचों में दो जीत और दो ड्रॉ यही है जेएफसी की कहानी। आइएलएस 2021-22 में जेएफसी सिर्फ दूसरी टीम है जो अभी तक एक भी मैच हारी नहीं है। इसका श्रेय पूरी टीम को जाता है क्योंकि जमशेदपुर किसी एक स्ट्राइकर या डिफेंडर पर निर्भर नहीं है।

Jitendra SinghThu, 09 Dec 2021 06:05 AM (IST)
ISL : गत चैंपियन मुंबई को मात देने की तैयारी में मेन ऑफ स्टील, होगा रोचक मुकाबला

जमशेदपुर : पिछले साल की चैंपियन मुंबई सिटी एफसी गुरुवार को जब गोवा के फोर्तादा स्टेडियम पर जमशेदपुर एफसी के खिलाफ उतरेगी तो उसके पास जीत का दबाव होगा। मुंबई सिटी एफसी चार मैचों में तीन जीत और एक हार के साथ 9 अंक हासिल कर पहले स्थान पर है, जबकि जमशेदपुर एफसी की टीम चार मैचों में दो जीत और दो ड्रॉ के साथ दूसरे स्थान पर है और टीम के पास अबी आछ अंक हैं।

नए कोच डेस बकिंघम के नेतृत्व में गत चैंपियन टीम ने इस सीजन की शानदार शुरुआत की है। फिलहाल वह अंक तालिका में शीर्ष पर है। हैदराबाद एफसी के खिलाफ सनसनीखेज हार के बाद मुंबई सिटी एफसी संभला और लगातार जीत की ओर अग्रसर है। उसने चिर प्रतिद्वंद्वी एटीके मोहन बागान को 5-1 से पराजित कर अपनी काबिलियत भी साबित की।

किसी एक खिलाड़ी पर निर्भर नहीं हैं मेन ऑफ स्टील

जमशेदपुर एफसी ने सीजन के पहले मैच में शानदार प्रदर्शन किया लेकिन मैच नहीं जीत पाई, वो मैच 1-1 से बराबरी पर खत्म हुआ। उस मैच में कप्तान पीटर हार्टने ने गोल किया और जेएफसी का खाता खोला। उसके बाद अगले मैच में नेरिजस वाल्सकिस और जॉर्डन मरे ने गोल कर टीम को शानदार जीत दिलाई। हैदराबाद के खिलाफ ग्रेग स्टीवर्ट के गोल के बदौलत टीम ड्रॉ खेलने में सफल रही।

उसके बाद पिछले मैच में लेन और एलेक्स ने गोल कर टीम के सीजन की दूसरी जीत पर अपनी मुहर लगा दी। अभी तक छह अलग-अलग खिलाड़ियों ने चार मैचों में गोल किया है। ये प्रदर्शन विपक्षी टीम के लिए खतरनाक बन सकती हैं, क्योंकि उन्हें सभी खिलाड़ियों पर नज़र रखनी पड़ेगी।

जेएफसी कोच को खिलाड़ियों पर पूरा भरोसा

दूसरी ओर, जमशेदपुर ने इस सीजन में चार मैचों में नाबाद रहते हुए अपनी भूमिका निभाई है। पिछले मुकाबले में एटीके मोहन बागान के खिलाफ कोच ओवेन कॉयल की टीम ने शानदार प्रदर्श किया और पिछली बार की फाइनलिस्ट को पूरे मैच में लय में नहीं आने दिया।

जमशेदपुर एफसी के मुख्य कोच ओवेन कोयल ने कहा, हमारे पास ऐसे खिलाड़ियों का एक समूह है जो अपने काफी मेहनती है। हर खिलाड़ी की अलग खासिय है। टीम के सभी खिलाड़ी हमेशा क्लब के लिए, अपने लिए और अपने प्रशंसकों के लिए अच्छा करने के लिए भूखे रहते हैं, जो बहुत महत्वपूर्ण है।

अपने भारतीय खिलाड़ियों के अच्छा प्रदर्शन के बारे में पूछे जाने पर कॉयल ने कहा, वे बहुत मेहनत कर रहे हैं और विदेशी खिलाड़ी उनकी मदद कर रहे हैं। युवा खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करते देखना अच्छा है।

मुंबई सिटी को रहना होगा सतर्क

एटीके मोहन बागान के खिलाफ जितेंद्र सिंह उत्कृष्ट थे, उन्होंने मैच के दौरान यादगार प्रदर्शन किया। कॉयल ने कहा कि मुंबई सिटी एफसी एक बहुत अच्छी टीम है और सकारात्मक परिणाम पाने के लिए उन्हें काफी सतर्क रहना होगा।

जमशेदपुर एफसी इस तथ्य से खुश हो सकता है कि वे और नॉर्थईस्ट यूनाइटेड केवल दो टीमें थीं जो गत सीजन में मुंबई के खिलाफ नाबाद रहीं। दोनों पक्षों के बीच पहला गेम 1-1 की बराबरी पर समाप्त हुआ, जबकि जमशेदपुर ने दूसरे गेम में 2-0 से जीत दर्ज की थी।

कागजों पर किस टीम का पलड़ा है भारी

इंडियन सुपर लीग के इतिहास में अब तक जमशेदपुर एफसी और मुंबई सिटी एफसी आठ बार आमने-सामने हो चुकी हैं। दोनों टीमों के रिकॉर्ड के हिसाब से जमशेदपुर एफसी का पलड़ा भारी नज़र आ रहा है। जमशेदपुर एफसी ने आठ में से चार मैच जीते हैं और दो मैच में ड्रॉ खेला है, तो वहीं मुंबई सिटी एफसी को सिर्फ दो जीत मिली है।

पिछली बार जब दोनों टीमें आपस में भिड़ी थीं, तो हमारी टीम ने मौजूदा चैंपियन को 2-0 से हराया था। दोनों टीमों के बीच का गोल अंतर भी बड़ा है, जहां जेएफसी ने 12 गोल दागे हैं, तो सिर्फ 8 गोल कंसीड किया है। ऐसे में जब मेन ऑफ स्टील मैदान पर उतरेंगे तो पिछले मैच में मिली जीत और मौजूदा चैंपियन के खिलाफ शानदार रिकॉर्ड उनके मनोबल को और बढ़ा देगा।

कैसी होगी मुंबई सिटी एफसी की चुनौती

प्रणय हलदर ने मैच से पहले मीडिया से बात करते हुए बताया कि मुंबई के खिलाफ खेलना कितनी बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा, “हीरो आईएसएल में मुंबई सिटी एफसी का सामना करना सबसे कठिन चुनौतियों में से एक है। उनके नए कोच के साथ उनकी टीम में वास्तव में अच्छे खिलाड़ी हैं लेकिन हम सिर्फ अपने गेम पर ध्यान केंद्रित करेंगे और हमें आगे बढ़ने के लिए अंत तक एकजुट रहना होगा।

उन्होंने कहा कि मुंबई सिटी एफसी के साथ एक सीज़न का हिस्सा था जिसमें हमने 2016 में सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। लेकिन कई बदलावों के साथ टीम में मतभेद हैं लेकिन मैं अहमद जाहौह और रॉलिन बोर्गेस के साथ खेला हूं, यही कारण है कि मैंने आपको बताया था कि उनके पास कुछ अच्छे खिलाड़ी हैं इसलिए हम सभी कल के मुक़ाबले का इंतज़ार कर रहे हैं।

आक्रामक खेल जारी रखेगा मुंबई सिटी एफसी

मेलबर्न सिटी के पूर्व सहायक कोच ने कहा कि यह एक अच्छी शुरुआत है और बस इतना ही। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप अभी लीग में कहां हैं, यह इस बारे में है कि आप कहां खत्म करते हैं। मुंबई ने पिछले दो मुकाबलों में 3-1 और 5-1 के अंतर से जीत के बावजूद दो गोल गंवाए हैं।

बकिंघम ने कहा कि हम चाहेंगे कि मेरी टीम एक बार फिर क्लीन शीट करे। हालांकि इसके लिए हम अपने खेल के तरीके को बदलने नहीं जा रहे। हम हर गेम को क्लीन शीट के साथ जीतना पसंद करेंगे। लेकिन हम फुटबॉल को रोमांचक तरीके से खेलना चाहते हैं। मैं इसे बदलना नहीं चाहता।

दोनों टीमों के बीच के आंकड़ें और एक-दूसरे के खिलाफ मौजूदा रिकॉर्ड

मुंबई बनाम जेएफसी

मैच खेले - 8

2 जीत 4

2 ड्रॉ 2

8 गोल 12

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.