दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

बिटिया का भविष्य संवारने की है चिंता तो जमा करें हर दिन 127 रुपये, शादी के समय मिलेंगे 27 लाख रुपये; सुरक्षा की भी गारंटी

स्कीम के तहत हर दिन 127 रुपये यानि प्रतिमाह 3810 रुपये जमा करना होगा।

एक बेटी के पिता को हमेशा अपने बच्ची की सुरक्षित भविष्य सहित शादी की चिंता होती है। पहले बच्ची को अच्छे स्कूल में पढ़ाई और फिर उसके लिए योग्य वर की तलाश करना। शादी के समय उसे इतना देना कि ससुराल जाकर उसे किसी तरह की तकलीफ न हो।

Rakesh RanjanWed, 05 May 2021 04:56 PM (IST)

जमशेदपुर, जासं। एक बेटी के पिता को हमेशा अपने बच्ची की सुरक्षित भविष्य सहित शादी की चिंता होती है। पहले बच्ची को अच्छे स्कूल में पढ़ाई और फिर उसके लिए योग्य वर की तलाश करना। शादी के समय उसे इतना देना कि ससुराल जाकर उसे किसी तरह की तकलीफ न हो।

इसके लिए हर पिता अपनी बच्ची के लिए उसके बचपन से ही बचत करना शुरू कर देता है। लेकिन इसमें एक समस्या ये रहती है कि यदि किसी पिता की अपनी बेटी की शादी के पहले मौत हो जाती है तो क्या होगा। उसकी शादी कैसे होगी। इस समस्या के समाधान के लिए देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी, भारतीय जीवन बीमा निगम जीवन लक्ष्य पॉलिसी लेकर आया है। इसे बीमा एजेंट कन्यादान स्कीम भी कहते हैं।

जमा करना होगा हर दिन 127 रुपये

इस स्कीम के तहत यदि आपकी उम्र 30 वर्ष है तो कोई भी पिता इस स्कीम का लाभ ले सकता है। इस स्कीम के तहत हर दिन 127 रुपये यानि प्रतिमाह 3810 रुपये जमा करना होगा। इस पॉलिसी की सबसे खास बात यह है कि यह पॉलिसी 25 वर्षों के लिए है लेकिन इसका प्रीमियम 22 साल तक ही भरना होगा। यानि 22 साल में बीमा धारक को 10 लाख 5840 रुपये भरना होगा। बदले में उन्हें बीमा कंपनी बेटी की शादी के समय 27 लाख रुपये देगी। इस पॉलिसी में बेटी की उम्र एक वर्ष या उससे अधिक है तो पॉलिसी की समय अवधि को घटाया या बढ़ाया जा सकता है और कम या ज्यादा प्रीमियम भी तय की जा सकती है।

सुरक्षा की है पूरी गारंटी

इस पॉलिसी की सबसे खास बात यह है कि इसमें फिक्सड इनकम के साथ जमा किए गए पैसों की पूरी गारंटी भी मिलती है। इस स्कीम के बीच में ही बीमाधारक की मौत हो जाती है तो परिवार को कोई प्रीमियम देना नहीं होगा। वहीं, बेटी को पॉलिसी के बचे सालों के दौरान हर साल एक लाख रुपये बीमा कंपनी देगी। इस पॉलिसी को बेटी के पिता के नाम से ही खोला जाता है और पॉलिसी को 18 साल तक प्रीमियम भुगतान करने की शर्त है। इसके लिए पॉलिसी धारक को अपना आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, कोई पहचान पत्र, एड्रेस प्रूफ, जन्म प्रमाण पत्र व पासपोर्ट साइज फोटो जैसे दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

ये भी हैं फायदे

पॉलिसी लेने के बाद बीमाधारक की किसी दुर्घटना में मौत हो जाती है तो परिवार को एक साथ 20 लाख रुपये मिलेंगे। इस पॉलिसी पर न्यूनतम एक लाख रुपये का बीमा भी मिलता है और अधिकतम की सीमा नहीं है। इस पॉलिसी में अगर कोई खाताधारक तीन साल लगातार प्रीमियम का भुगतान करता है तो उसके एक्टिव एकाउंट से लोन भी लिया जा सकता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.