Hair Care Tips : अगर गंजा हो रहे हैं तो यह करें 5 उपाय, जल्द मिल जाएगी मुक्ति

Ayurvedic Remedies For Hair Fall बालों का गिरना सबसे बड़ी समस्या है। अगर इस ओर समय रहते ध्यान नहीं दिया गया तो फिर आप गंजे हो सकते हैं। बालों का गिरना या फिर गंजापन रोकने के कुछ आयुर्वेदिक उपाय हैं जिसे आप आजमा सकते हैं...

Jitendra SinghTue, 30 Nov 2021 11:45 AM (IST)
Hair Care Tips : अगर गंजा हो रहे हैं तो यह करें 5 उपाय, जल्द मिल जाएगी मुक्ति

जमशेदपुर : आपके बालों का गौरव कभी-कभी अभिशाप हो सकता है। उलझे बालों को ब्रश या कंघी में देखना हमारी रातों की नींद हराम कर सकता है। बालों की झड़ने की समस्या से कई लोग परेशान रहते हैं। लगातार बाल झड़ना वास्तव में हमारे लिए बेहद परेशान करने वाला हो सकता है।

आयुर्वेदाचार्य सीमा पांडेय के अनुसार, बाल झड़ने में हमारी व्यस्त दिनचर्या, प्रदूषण और मिलावटी प्रोडक्ट का उपयोग बालों को झड़ने के लिए जिम्मेदार हैं। इससे बचने के लिए ऐसे उत्पाद से सावधान रहना चाहिए, जिनमें हानिकारक रसायन होते हैं। जो हमारे बालों को और ज्यादा नुकसान करते हैं। कुछ ऐसे आयुवेर्दिक उपाय हैं जो बालों को झड़ना रोकने और बालों को रिग्रोथ करने में मदद कर सकता है।

आंवला

आवंला एक प्राकृतिक इम्यूनिटी बूस्टर है और बालों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए सबसे पसंदीदा है। आंवला में बहुत सारे आवश्यक फैटी एसिड होते हैं, जो बालों के रोम को मजबूत करते हैं, जिससे आपके बालों को मजबूती और चमक मिलती है। विटामिन सी बालों को सफेद होने से रोकने में मदद करता है। इसकी उच्च आयरन, शक्तिशाली एंटी ऑक्सीडेंट, गैलिक एसिड और कैरोटीन स्कैल्प के चारों ओर ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करती है और बालों के विकास करती है। नींबू का रस और आंवला पाउडर मिलाकर पेस्ट बना लें इसे अपने स्कैल्प और बालों में मसाज करें। अपने सिर को ढकने के लिए शॉवर कैप का उपयोग करें ताकि पेस्ट सूख न जाए इसे एक घंटे तक रखें और फिर नॉर्मल पानी से धो लें।

भृंगराज

भृंगराज एक टेस्टेड प्राकृतकि घटक है जो इन दिनों बालों की देखभाल के नियमों में जरूरी हो गया है। आप नियमित रूप से भृंगराज तेल से अपने स्कैल्प की मालिश करें, क्योंकि यह बालों के तेजी से विकास को प्रोत्साहित कर सकता है। भृंगराज एक जड़ी-बुटी है जो नम क्षेत्रों में सबसे अच्छी होती है। भृंगराज के कुछ पत्ते लें, उन्हें कुछ दिनों के लिए धूप में सुखा लें। नारियल के तेल के एक जार में पत्तियों को रख दें। कंटेनर को दो और दिनों के लिए धूप में छोड़ दें तेल का रंग हल्का हरा होने तक प्रतीक्षा करें। इससे स्कैल्प पर मसाज करें और आदर्श रूप से इसे रात भर के लिए छोड़ दें।

शिकाकाई

शिकाकाई शानदार बालों को साफ करने वाले गुणों के लिए जाना जाता है। इसे अक्सर शैंपू का एक प्राकृतिक विकल्प माना जाता है। शिकाकाई एंटीआक्सिडेंट और विटामिन ए, सी, के और डी से भरपूर होती है, जो बालों को पोषण देने का काम करती है। शिकाकाई फली को कुछ दिनों तक धूप में सुखाकर फिर मिक्सर में पीस लें। इस पाउडर के लगभग दो बड़े चम्मच लें और इसे नारियल के तेल के जार में डालें कंटेनर को लगभग 15 दिनों के लिए ठंडी, अंधेरी जगह पर स्टोर करें। उपयोग करने से पहले हिलाएं, सप्ताह में कम से कम दो बार इससे अपने सिर की मालिश करें।

रीठा

रीठा या साबुन एक अन्य घटक है, जिसका उपयोग सदियों से बालों की देखभाल के लिए किया जाता रहा है। रीठा एक सैपोनिन है जो आपके बालों को स्वस्थ रखने के लिए उपयोगी है।

नारियल

नारियल में मध्यम मात्रा में फैटी एसिड जैसे लॉरिक और कैप्रिक एसिड जैसे एंटी माइक्रोबायल और एंटीफंगल गुण प्रदान करते हैं। जो मुख्य रूप से बालों के विकास के खिलाफ बाधा के रूप में कार्य करने वाले मुक्त कणों को रोकने के लिए जरूरी होता है। नारियल के अलावा नारियल का दूध भी बालों की ग्रोथ के लिए अच्छा होता है। नारियल को कद्दूकस कर लें और कद्दूकस किए हुए टुकड़ों को एक पैन में लगभग पांच मिनट तक उबालें इसके बाद उसे ठंडा कर लें इसमें एक बड़ा चम्मच पिसी हुई काली मिर्च और मेथी मिलाएं स्कैल्प और बालों पर लगाएं 30 मिनट बाद शैंपू कर लें

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.