टाटा समूह की यह कंपनी लाने वाली है अपनी आइपीओ, जाने कौन सी है वो कंपनी

टाटा समूह की ओर से इंडियन होटल्स कंपनी (आइएचसीएल) जिंजर ब्रांड के रूप में होटल चेन का संचालन करती है। इसमें आरसीएल कंपनी जिसके पास 33 प्रतिशत की हिस्सेदारी है। कंपनी अब जल्द ही आइपीओ लाने वाली है। जिंजर होटल देश के सबसे बड़े होटल चेन में से एक है।

Jitendra SinghThu, 22 Jul 2021 06:00 AM (IST)
टाटा समूह की यह कंपनी लाने वाली है अपनी आइपीओ।

जमशेदपुर : नमक से लेकर सॉफ्टवेयर और स्टील निर्माण से लेकर होटल संचालन में अग्रणी कंपनी टाटा समूह की एक कंपनी जल्द ही आइपीओ लाने की तैयारी कर रही है। आपको बता दें कि टाटा समूह की ओर से इंडियन होटल्स कंपनी (आइएचसीएल) जिंजर ब्रांड के रूप में होटल चेन का संचालन करती है। इसमें

रूट्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड (आरसीएल) कंपनी, जिसके पास 33 प्रतिशत की हिस्सेदारी है, जिंजर होटलों का संचालन करती है जबकि आइएचसीएल के पास कंपनी के 67 प्रतिशत शेयर है। जिंजर होटल देश के सबसे बड़े होटल चेन में से एक है। लेकिन अब आरसीएल इसमें से बाहर निकलना चाहती है। ऐसे में टाटा समूह उस खाली जगह को भरने की तैयारी कर रही है।

अपनी हिस्सेदारी खत्म करना चाहती है आरसीएल

कंपनी के एक अधिकारी के माने तो आरसीएल लंबे समय से अपनी हिस्सेदारी खत्म करना चाहती है। ऐसे में टाटा ऑपच्युनिटी फंड ने वर्ष 2010 में ही 10 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी। कंपनी के सीएफओ सह एक्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट गिरिधर संजीव ने आइएचसीएल के निवेशक दिवस समारोह में इसका खुलासा भी किया था। संजीव ने बताया कि यदि आरसीएल अपनी हिस्सेदारी खत्म करना चाहती है तो कंपनी के पास दो रास्ते हैं। पहला, 100 होटलों और 10 हजार कमरों वाली जिंजर होटल के लिए अगले तीन-चार वर्षो में आइपीओ लाया जाए या फिर किसी दूसरे निवेशक को कंपनी में निवेशक करने के लिए खोजा जाए। लेकिन फिलहाल हमारी प्राथमिकता आरसीएल के हटने से पहले आइएचसीएल को टाटा समूह की शत प्रतिशत अनुषंगी इकाई बनाना है। संजीव का कहना है कि फिलहाल आइपीओ लाने पर अभी कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया है। बातचीत अभी प्रारंभिक चरण में है। कंपनी देख रहे है कि रणनीतिक रूप से यह कदम कितना सहीं होगा। हालांकि आपको बता दें कि वर्ष 2012 में आइएचसीएल की वार्षिक आम बैठक में टाटा समूह के तत्कालीन चेयरमैन रतन टाटा ने जिंजर होटल के नाम से आइपीओ लाकर कंपनी को सूचीबद्ध करने की रुचि दिखाई थी। वर्तमान में आइएचसीएल के तीन होटल ब्रांड हैं जिनमें ताज, विवांता और सेलक्यूशंस शामिल है।

जमशेदपुर में भी है जिंजर का एक होटल

जमशेदपुर शहर में ही टाटा स्टील की नींव रखी गई और यहीं से देश में औद्योगिक क्रांति की शुरूआत हुई। इस शहर में भी टाटा समूह का जिंजर होटल संचालित है। जहां 50 से अधिक कमरे हैं। इसके अलावा कंपनी के 50 शहरों में 78 होटल संचालित है।

घाटे में चल रही है कंपनी

कोविड 19 के कारण कंपनी के व्यवसाय व उसके राजस्व पर सीधा असर पड़ा है। आइएचसीएल द्वारा जारी आंकड़ों के तहत आरसीएल ने 31 मार्च 2021 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में 134.86 करोड़ का राजस्व अर्जित किया। जबकि 31 मार्च 2020 में यह आंकड़ा 212.65 करोड़ रुपये था। ऐसे में बीते वित्तीय वर्ष की तुलना में राजस्व में 37 प्रतिशत की गिरावट आई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.