फलों के दाम में लगी आगः मद्रासी आम हो गया 70, तरबूज 10 रुपये किलो, अंगूर भी इतरा रहा

मध्यप्रदेश से आ रहा खरबूज भी 18-20 रुपये किलो बिक रहा है।

Fruit Price in Jamshedpurगर्मी का मौसम और कोरोना की मार से फल बाजार भी गरमा गया है। अधिकांश फल अभी महंगे हैं क्योंकि अभी इनका सीजन भी नहीं है। सेब व अंगूर की पैदावार अभी नहीं के बराबर होती है जिससे इनके दाम चढ़े हुए हैं।

Rakesh RanjanWed, 05 May 2021 10:08 PM (IST)

जमशेदपुर, जासं। गर्मी का मौसम और कोरोना की मार से फल बाजार भी गरमा गया है। अधिकांश फल अभी महंगे हैं, क्योंकि अभी इनका सीजन भी नहीं है। सेब व अंगूर की पैदावार अभी नहीं के बराबर होती है, जिससे इनके दाम चढ़े हुए हैं। मद्रासी आम भी इतरा रहा है।

मानगो के फल व्यवसायी मोहम्मद हैदर बताते हैं कि सेब अभी हिमाचल प्रदेश और पंजाब से आ रहा है, जबकि अंगूर नासिक से मंगाया जा रहा है। उत्पादन कम होने से इनके दाम गर्मी में चढ़ ही जाते हैं। वहीं मद्रासी आम भी 120 रुपये से गिरकर 70 रुपये तक हो गया है। तरबूज भी पटमदा व पुरुलिया का आने लगा है, तो 20 रुपये से घटकर 10-15 रुपये किलो हो गया है। मध्यप्रदेश से आ रहा खरबूज भी 18-20 रुपये किलो बिक रहा है। अनार का भी अभी सीजन नहीं है, इसलिए 140 रुपये किलो बिक रहा है। अनार भी नासिक से आ रहा है। बंगाल चुनाव की वजह से डाभ का दाम थोड़ा बढ़ा हुआ है, अब इसमें कमी आएगी। वैसे बिक्री बहुत कम है। दो बजे के बाद दुकान बंद करना पड़ता है। धूप की वजह से कोई नौ बजे के बाद निकलना नहीं चाहता। कोरोना के डर से भी ग्राहक बहुत कम निकल रहे हैं।

फल : कीमत (रुपये प्रति किलो)

आम : 70-80 अंगूर : 120-130 तरबूज : 10-15 खरबूज : 18-20 सेब : 180-200 संतरा : 140-150 डाभ : 30-35 (पीस) केला : 40-50 (दर्जन)

दो दिन के लिए चढ़ा था आलू का भाव, फिर गिर गया

आलू का भाव दो दिन के लिए चढ़ गया था, जिससे बाजार में खलबली मच गई थी। सोमवार को बाजार में 22-25 रुपये किलो तक आलू बिका था। मंगलवार -बुधवार तक यह 16 से 20 रुपये किलो तक आ गया। आलू के थोक कारोबारी राजकुमार साह ने बताया कि एक मई को मजदूर दिवस होने की वजह से आलू की ढुलाई या बिक्री नहीं हुई थी। वहीं दो मई को बंगाल चुनाव की मतगणना की वजह से ट्रकों की आवाजाही बंद थी। जमशेदपुर में ज्यादातर आलू बंगाल से ही आता है। इस वजह से सोमवार को थोक बाजार में ही आलू 15 रुपये किलो हो गया था। जाहिर सी बात है कि जिस कारोबारी ने यह खरीदा, उसने 20 से 25 रुपये किलो तक आलू बेचा। अब चूंकि स्थिति सामान्य हो गई है, तो मंगलवार को थोक बाजार में 11.50 रुपये से 12.50 रुपये किलो तक आलू बिका। यह आलू बाजार में पहुंचते ही रेट गिर गया। छोटा आलू 16 रुपये और मध्यम आकार का आलू 20 रुपये किलो तक बिका।

खुदरा कारोबारी ले रहे ज्यादा मुनाफा

थोक कारोबारी विनोद कुमार ने बताया कि अभी कोल्ड स्टोरेज का आलू ही बाजार में आ रहा है, इसलिए खुदरा बाजार में अभी 15 से 20 रुपये के बीच ही भाव रहेगा। वहीं बाजार में प्याज की कीमत भी 20 रुपये किलो है, जबकि थोक बाजार में मंगलवार को 17 से 18.50 रुपये किलो प्याज था। आलू में खुदरा कारोबारी कुछ ज्यादा ही मुनाफा कमा रहे हैं, जो गलत है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.