Jamshedpur News: योजनाओं में लापरवाही पर पूर्वी सिहंभूम के डीसी ने तीन प्रखंड के अधिकारियों का वेतन रोका

Jamshedpur News जमशेदपुर के डीसी ने कडा एक्शन लिया है। मुख्यमंत्री कन्यादान योजना मुख्यमंत्री सुकन्या योजना व प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना से संबंधित कार्य में लापरवाही पर संबंधित अधिकारियों का वेतन भुगतान अगले आदेश तक रोकने का निदेश दिया गया है।

Rakesh RanjanWed, 15 Sep 2021 09:55 AM (IST)
तीन प्रखंड विकास पदाधिकारियों पर लापरवाही के कारण गाज गिरी है।

जमशेदपुर, जागरण संवाददाता। जिम्मेदारी निर्वहन में कोताही महंगी पडी है। कसूरवारों पर गाज गिरी है।  पूर्वी सिंहभूम के उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी सूरज कुमार की अध्यक्षता में जिला समाज कल्याण शाखा की मासिक समीक्षा बैठक हुई, जिसमें मुख्यमंत्री कन्यादान योजना, मुख्यमंत्री सुकन्या योजना व प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना से संबंधित कार्य में लापरवाही पर धालभूमगढ़, बोड़ाम व पटमदा परियोजना से संबंधित अधिकारियों का वेतन भुगतान अगले आदेश तक रोकने का निदेश दिया गया।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का लक्ष्य अक्टूबर तक शत प्रतिशत पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। मुख्यमंत्री सुकन्या योजना से संबंधित कार्य की प्रगति असंतोषप्रद पाई गई, तो उपायुक्त ने सितंबर, अक्टूबर, नवंबर का माहवार लक्ष्य तय कर नवंबर तक शत-प्रतिशत पूर्ण करने का निदेश दिया गया। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में परियोजना डुमरिया ने केवल 70 प्रतिशत लक्ष्य पूर्ण किया, जिसे नवंबर तक पूरा करने का निर्देश दिया गया। वहीं इसी योजना के लिए बाल विकास परियोजना पदाधिकारी जमशेदपुर सदर की उपायुक्त ने सराहना की। जिले के कुपोषण उपचार केंद्र में बेड की अधिभोग केवल 60 प्रतिशत है। उपायुक्त ने कहा कि किसी भी परिस्थिति में कुपोषण उपचार केंद्र में बेड खाली नहीं रखें। सेविका-सहायिका से संबंधित चयन का कार्य जिन परियोजना में लंबित है, उन्हें अक्टूबर तक पूर्ण करते हुए जिला कार्यालय में प्रस्ताव देने को कहा। लक्ष्मी लाडली एनएससी वितरण 15 अक्टूबर तक पूरा करने, पोषण ट्रैकर एप में धात्री माता व 0-6 माह के बच्चों की संख्या में जो भिन्नता है, उसे एक सप्ताह में पूरा करने को कहा।

ये भी दिए गए निर्देश

पोषण माह के दौरान जन आंदोलन डैशबोर्ड प्रविष्टि अपेक्षाकृत प्रगति कम है। सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी से प्रतिदिन आंगनबाड़ी केंद्र की कम से कम एक गतिविधि कराते हुए डैशबोर्ड में प्रविष्ट करने को कहा। बैठक में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सत्या ठाकुर, सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा अमरेंद्र कुमार, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी जमशेदपुर सदर तथा अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.