दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Amitabh Bachchan को 2 करोड़ वापस करने की मांग, कोविड सेंटर के लिए रकाबगंज गुरुद्वारा साहिब को दी थी रकम

ऑल इंडिया सिख यूथ फेडरेशन ने अमिताभ को पैसा लौटाने का कहा है।

ऑल इंडिया सिख यूथ फेडरेशन के महामंत्री सतनाम सिंह गंभीर ने अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार हरप्रीत सिंह को पत्र लिखकर अमिताभ बच्चन द्वारा गुरुद्वारा साहिब में संचालित कोविड सेंटर के लिए दिए गए दो करोड़ रुपये वापस करने की मांग की है।

Rakesh RanjanWed, 12 May 2021 05:47 PM (IST)

जमशेदपुर, जासं। ऑल इंडिया सिख यूथ फेडरेशन के महामंत्री सतनाम सिंह गंभीर ने अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार हरप्रीत सिंह को एक पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने गुरुद्वारा साहिब में संचालित कोविड सेंटर के लिए बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन द्वारा दिए गए दो करोड़ रुपये वापस करने की मांग की है।

बकौल गंभीर, मेरा मक़सद 1984 क़त्लेआम के पीड़ित परिवारों को इंसाफ़ दिलाने का है। अमिताभ बच्चन द्वारा कोविड सेंटर को दो करोड़ रुपये देना और इस पर दिल्ली कमेटी के प्रधान मनजिंदर सिंह सिरसा द्वारा अमिताभ बच्चन की शान में कशीदे पढना यह साबित कर दिया कि 1984 क़त्लेआम की लड़ाई से कोई सरोकार नहीं है। सब जानते हैं कि अमिताभ बच्चन ने इंदिरा गांधी की मौत के बाद 31 अक्टूबर 1984 को दिल्ली एम्स हॉस्पिटल के बाहर खून का बदला खून और इंदिरा के खून के छींटे सिखों के घरों तक पहुंचने चाहिए जैसे बयान दिए थे। उनका यह बयान दूरदर्शन के माध्यम से पूरे देश ने देखा था। साल 2011 जब अमिताभ बच्चन को विरासत ए खालसा के उदघाटन के लिए आमंत्रित किया तो अमिताभ बच्चन का सिखों ने पुरज़ोर विरोध किया था। इसके बाद अमिताभ बच्चन ने श्री अकाल तख़्त साहिब के जत्थेदार को पत्र लिख कर क़त्लेआम में उनका हाथ ना होने की सफ़ाई दी थी।

सतानाम ये ये भी किया जिक्र

इसके बाद 1984 कत्लेआम की गवाह जगदीश कौर ने अमिताभ बच्चन के ख़िलाफ़ सारे सबूत दिए थे जिस पर अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है और मामला आज भी विचाराधीन है। लगता है मनजिंदर सिंह सिरसा ने अकाल तख़्त साहिब और कत्लेआम में मारे गए पीड़ित परिवार जो कि अभी तक इंसाफ़ की लड़ाई लड रहे हैं या जो इंसाफ की उम्मीद में दुनिया छोड़ चुके हैं उनको नीचा दिखाकर अमिताभ बच्चन से पैसे लेकर उसको निजी तौर पर क्लीन चिट दे दी है। सतनाम सिंह गंभीर ने श्री अकाल तख़्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह से अपील करते हुए कहा कि सरदार सिरसा को अकाल तख़्त साहिब तलब कर सिख मर्यादा के अनुसार कार्रवाई की जाए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.