होली में सीसीटीवी से रखी जाएगी हुड़दंगियों पर नजर

जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : लोकसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही आचार संहिता लागू हो गया है। इस वर्ष चुनाव आचार संहिता में ही होली मनाई जाएगी। आचार संहिता लागू रहने के कारण रात 10 बजे के बाद लाउडस्पीकर बजाने पर दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। यह बात जिले के उपायुक्त अमित कुमार ने कही।

बिष्टुपुर थाना परिसर में सोमवार को हुई जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक में उन्होंने कहा कि होली के दौरान शहर में सीसीटीवी के माध्यम से हुड़दंगियों पर नजर रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि होली के मद्देनजर जिले में विधि-व्यवस्था सुचारू रखने के लिए व्यापक इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। होली के मद्देनजर शहर में दो दिनों तक शराब की दुकान सील कराने का आदेश दिया गया है।

निर्बाध होगी बिजली व पानी की आपूर्ति

उपायुक्त ने कहा कि होली के दौरान बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराने के लिए संबंधित पदाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने आश्वस्त किया कि होली के दिन पेयजल और बिजली की आपूर्ति निर्बाध रूप से उपलब्ध रहेगी, इसके लिए तमाम तरह की व्यवस्था जिला प्रशासन की ओर से की गई है। उन्होंने बताया कि होली के दौरान सफाई के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा, जिससे पूरा शहर साफ रहे।

रहेगी दमकल की व्यवस्था

उपायुक्त ने कहा कि होलिका दहन के दिन पर्याप्त संख्या में अग्निशमन दस्ता की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने समाज के प्रबुद्ध लोगों और शाति समिति के सदस्यों से जिला प्रशासन को सहयोग करने की अपील की है।

-----

पुलिस का फ्लैग मार्च आज

मौके पर वरीय आरक्षी अधीक्षक ने लोगों से कहा कि पर्व-त्यौहार के अवसर पर शाति व्यवस्था कायम करना जिला प्रशासन की जिम्मेदारी है, लेकिन उसमें समाज के प्रबुद्ध लोगों की भागीदारी भी होनी उतनी ही आवश्यक है। कहा कि किसी भी प्रकार की घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दें, पुलिस कार्रवाई करेगी। उन्होनें कहा कि पूरे शहर में मंगलवार को वरीय पुलिय पदाधिकारियों के नेतृत्व में फ्लैग मार्च किया जाएगा। आपराधिक प्रवृति के लोगों पर नकेल कसने के लिए जिला प्रशासन पहले से कार्रवाई कर रही है। उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया की सुरक्षा बल के जवान होली त्योहार के दौरान सड़क पर रहेंगे, किसी प्रकार की अप्रिय घटना से निपटने के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह सक्षम है।

सोशल मीडिया पर रहेगी नजर

होली के दौरान सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर पुलिस-प्रशासन की विशेष नजर रहेगी। उन्होंने लोगों से सोशल मीडिया पर भ्रामक और अपुष्ट पोस्ट नहीं करने की अपील की। बैठक में जिला पुलिस प्रशासन के पदाधिकारी समेत प्रबुद्ध लोग उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.