कोल्‍हान के सबसे बड़े सरकारी अस्‍पताल एमजीएम में कफ सिरप खत्म, मरीजों की बढ़ी परेशानी

MGM hospital Jamshedpur. एमजीएम के दवा काउंटर पर तैनात कर्मचारियों ने कहा कि तीन माह से सिरप खत्म हो गई है। इसकी जानकारी विभाग को दी गई है। वहीं अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि जो दवाएं खत्म हुई है उसका टेंडर निकाला गया है।

Rakesh RanjanPublish:Tue, 22 Dec 2020 11:52 AM (IST) Updated:Tue, 22 Dec 2020 01:39 PM (IST)
कोल्‍हान के सबसे बड़े सरकारी अस्‍पताल एमजीएम में कफ सिरप खत्म, मरीजों की बढ़ी परेशानी
कोल्‍हान के सबसे बड़े सरकारी अस्‍पताल एमजीएम में कफ सिरप खत्म, मरीजों की बढ़ी परेशानी

जमशेदपुर, जासं।  महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) मेडिकल कॉलेज अस्पताल में कफ सिरप खत्म होने से मरीजों की परेशानी बढ़ गई है। अभी ठंड में सबसे अधिक सर्दी-खांसी व वायरल फीवर के ही मरीज पहुंच रहे हैं। ऐसे में सिरप खत्म होने की वजह से अधिकांश मरीजों को नहीं मिल पा रही है।

मंगलवार की सुबह ओपीडी में इसे लेकर मरीजों ने विरोध भी दर्ज कराया है। दरअसल, ओपीडी के दवा काउंटर पर एक मरीज सिरप लेने पहुंचा तो उसे बाद में आने को कहा गया। इसके बाद मरीज भड़क गया। वह कहने लगा कि बीमारी अभी हुई है और दवा बाद में मिलेगी। ऐसे में खांसी ठीक कैसे होगा। इसके बाद मरीज ने बाहर के एक दवा दुकान से कफ सिरप खरीदा। भुइयांडीह निवासी बलराम भुइयां ने बताया कि वे मजदूरी का काम करते हैं। उनके पास दवा खरीदने का पैसा नहीं है। सोचा कि एमजीएम में इलाज हो जाएगा लेकिन यहां भी दवा नहीं मिल रही है।

तीन माह से सिरप नहीं

एमजीएम के दवा काउंटर पर तैनात कर्मचारियों ने कहा कि तीन माह से सिरप खत्म हो गई है। इसकी जानकारी विभाग को दी गई है। वहीं, अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि जो दवाएं खत्म हुई है उसका टेंडर निकाला गया है। टेंडर लगभग फाइनल प्रक्रिया में है। जल्द ही 443 तरह की दवाएं खरीदने की तैयारी है ताकि मरीजों को किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। एमजीएम अस्पताल में आने वाले अधिकांश मरीज गरीब होते है जो दवा खरीदने में भी असमर्थ होते हैं।