Coronavirus Symptoms : कोरोना मरीजों में बुखार से पहले दिख रहे ये दो लक्षण, 75 फीसद में ये परेशानी, जानें

कोरोना मरीजों को बुखार से पहले आ रहा ये दो लक्षण। 75 फीसद में देखी जा रही ये परेशानी।

Coronavirus Symptoms कोरोना की दूसरी लहर काफी खतरनाक साबित हो रही है। लगातार नए-नए लक्षण सामने आ रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार 75 फीसद लोगों में सबसे अधिक दो तरह के लक्षण सामने आ रहे हैं। ये दो लक्षण दिखें ताे सावधान हो जाएं ।

Jitendra SinghThu, 06 May 2021 04:37 PM (IST)

जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : Coronavirus Symptoms : कोरोना के दूसरे लहर काफी खतरनाक साबित हो रहा है। लगातार नए-नए लक्षण सामने आ रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, 75 फीसद लोगों में सबसे अधिक दो तरह के लक्षण सामने आ रहे हैं। पहला कमजोरी महसूस होना और दूसरा शरीर से पसीना आना।

ये दोनों ऐसे लक्षण हैं जो पहले ही दिन से सामने आने लगता है। उसके बाद बुखार होना शुरू होता है। ऐसे में लोगों को ये दोनों लक्षणों को पहचाने की आवश्यकता है और उसके बाद अलर्ट हो जाएं। क्योंकि, ये दोनों कोरोना का लक्षण है। ब्रह्मानंद नारायणा हॉस्पिटल के एनेस्थीसिया विभागाध्यक्ष डॉ. उमेश प्रसाद इन दिनों कोरोना मरीजों की सेवा में दिन-रात जुटे हैं। साथ ही, जिला प्रशासन के आग्रह पर फोन के माध्यम से भी वे रोजाना दर्जनों लोगों से संपर्क कर उनका हाल-चाल ले रहे हैं। इसमें कोरोना मरीज भी शामिल होते हैं। वे कहते हैं कि दूसरी लहर में लगभग 75 फीसद मरीजों में देखा जा रहा है कि कमजोरी व शरीर से पसीना आना सामान्य बात है, जिसे पहचानने की जरूरत है। पहले ही दिन से मरीज को ये दोनों लक्षण महसूस होने लगता है। इसे नजरअंदाज नहीं करें। किसी डॉक्टर से परामर्श लेकर उसकी जांच कराएं। ऑक्सीजन लेबल पर ध्यान दें। 92 से कम होने पर चिकित्सक से संपर्क करें।

खाना छोड़े नहीं, पौष्टिक आहार लें

कोरोना मरीजों को स्वस्थ होने में पौष्टिक आहार का भी अहम योगदान हैं। पौष्टिक आहार लें आप जल्द स्वस्थ हो सकते हैं। यहां तक की कोरोना मरीजों के लिए अलग से डाइट बनाया जा रहा है, जिसे उपयोग कर मरीज जल्द से स्वस्थ हो रहे हैं। कोरोना मरीजों में कमजोरी व शरीर से पसीना आने की समस्या सबसे अधिक देखी जा रही है। ऐसे में वे लोग लिक्विड व हाई प्रोटीन डाइट लें। थोड़ा खाएं लेकिन पौष्टिक आहार खाएं। इसमें चिकन सूप, अंडा का सफेद भाग, हरी सब्जी, विटामीन-सी, सत्तु का पानी, छेना, हल्दी दूध, खिचड़ी, दलिया सहित अन्य लें सकते हैं। इससे मरीज का रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ेगा और ताकत भी मिलेगी।

 

कोरोना मरीजों में कई तरह के नए-नए लक्षण सामने आए रहे हैं लेकिन उससे घबराने की जरूरत नहीं है। बल्कि उसे पहचान कर चिकित्सकों से मिलें। शुरुआती दौर में इलाज शुरू होने से मरीज जल्द स्वस्थ हो जाता है। देरी होने से परेशानी बढ़ जाती है।

- डॉ. उमेश प्रसाद, विभागाध्यक्ष, एनेस्थीसिया, ब्रह्मानंद अस्पताल।

शरीर का रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो तो कई बीमारियों से बचा जा सकता है। कोरोना से भी बचने के लिए सबसे अधिक जोर शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने पर दिया जा रहा है। ऐसे में लोग विटामीन-सी का नियमित उपयोग करें। साथ ही पौष्टिक आहार भी लें।

- प्रिया द्विवेदी, डायटीशियन, ब्रह्मानंद अस्पताल।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.