Attention: जमशेदपुर शहर की पुरानी सरदूल फैक्ट्री को बंद कराने की रची जा रही साजिश, जानिए

सरदूल ऑटो वर्कर्स के डायरेक्टर सरदार सरदूल सिंह ने उपायुक्त सूरज कुमार को मांग पत्र सौंपा।

Sardul factory in Jamshedpur. जमशेदपुर की सबसे पुरानी फैक्ट्री में एक मानगो जवाहरनगर रोड नंबर 12 स्थित सरदूल कंपनी को बंद कराने की साजिश रची जा रही है। 52 वर्ष पुरानी टाटा मोटर्स की अनुषंगी ईकाई के डायरेक्टर ने उपायुक्त सूरज कुमार को मांग पत्र सौंपा।

Rakesh RanjanWed, 24 Feb 2021 01:02 PM (IST)

जमशेदपुर, मनोज सिंह। जमशेदपुर शहर की सबसे पुरानी फैक्ट्री में से एक मानगो जवाहरनगर रोड नंबर 12 स्थित सरदूल कंपनी को बंद कराने की साजिश रची जा रही है। इस संबंध में 52 वर्ष पुरानी टाटा मोटर्स की अनुषंगी ईकाई सरदूल ऑटो वर्कर्स के डायरेक्टर सरदार सरदूल सिंह ने उपायुक्त सूरज कुमार को मांग पत्र सौंपा।

मांग पत्र के माध्यम से सरदूल सिंह ने कहा है कि मानगो रोड नंबर 12 में 1969 से फैक्ट्री संचालित है, जिसमें आसपास के सैकड़ों लोगों काे रोजी-रोजगार मिला हुआ है और उनका परिवार का पालन होता है। सरदूल सिंह ने कहा कि मेरे बगल में डाबर रोलिंग मिल की जमीन पर कुछ साल पहले बर्मामाइंस में स्क्रैप का काम करने वाले शौकत, जावेद, जसबी ने खरीदा। सरदूल सिंह ने कहा कि जब से उपरोक्त तीनों व्यक्ति मेरे बगल में आए हैं, उसी दिन से किसी न किसी बहाने से तीनाें व्यक्ति हमारे औद्योगिक कार्य में अशांति और बाधा पहुंचाने का काम कर रहे हैं। जबकि वास्तविक्ता यह है कि पदाधिकारियों के निरीक्षण के बाद हमारे उद्योग को सभी तरह की कानूनी प्रक्रिया और निर्धारित मापदंडों पर सही है।

कोरोना काल में भी किया बेहतर काम

रोना काल में उद्योग के लिए आर्थिक विषम परिस्थितियों में भी सैकड़ों मजदूरों के साथ काम सरदूल सिंह ने उपायुक्त से मांग की है कि कोरोना काल में उद्योग के लिए आर्थिक विषम परिस्थितियों में भी सैकड़ों मजदूरों के साथ काम कर रहे हैं।  सरदूल सिंह ने उपायुक्त से अनुरोध करते हुए कहा है कि मैं बीते 30 वर्षों से संत कुटिया गुरुद्वारा का प्रधान हूं, रमगढ़िया समाज के ट्रस्टी, मानगो शांति समिति, सिंहभूम इंडस्ट्रीज एसोसिएशन का वाइस प्रेसिडेंट भी रह चूूका हूं। यदि इस यही हाल रहा तो हमें सैकड़ों कामगारों के साथ सड़क पर आना पड़ेगा। उपायुक्त से मांग की गई कि मेरी फैक्ट्री के परिचालन में जो भी असमाजिक तत्व अशांति व भय का माहौल बनाकर बाधा पहुंचाने का काम कर रहे हैं, उनके खिलाफ अपने स्तर से जांच कराकर कर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की कृपा करें ताकि हम शांति से अपना फैक्ट्री चला सकें। उन्होंने इसकी प्रतिलिपी मुख्यमंत्री, डीआईजी, एसएसपी,व आजादनगर थाना प्रभारी को भी सौंपी है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.