Jamshedpur, Jharkhand Politics: भाजपा नेताओं को कांग्रेस ने कहा बयान बहादुर, भाजपा सांसद पीएम के सामने क्यों नहीं मुंह खोलते

कांग्रेस ने भाजपा पर जोरदार हमला बोला है एवं कइ आरोप लगाए हैं।

पूर्वी सिंहभूम जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बिजय खां ने कहा कि भाजपा के कुछ बयान बहादुर पदाधिकारी दूसरों की नुक्ताचीनी कर रहे है। उन भाजपा नेताओं को मालूम होना चाहिए कि झारखंड प्रदेश में दो डोज मिला कर लगभग साढ़े छह करोड़ वैक्सीन चाहिए।

Rakesh RanjanFri, 14 May 2021 05:23 PM (IST)

जमशेदपुर, जासं। पूर्वी सिंहभूम जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बिजय खां ने कहा कि भाजपा के कुछ 'बयान बहादुर' पदाधिकारी दूसरों की नुक्ताचीनी कर रहे है। उन भाजपा नेताओं को मालूम होना चाहिए कि झारखंड प्रदेश में दो डोज मिला कर लगभग साढ़े छह करोड़ वैक्सीन चाहिए। वही केंद्र सरकार कुछ हजार ही वैक्सीन दे रही है।

पूरे देश में 1057 आक्सीजन प्लांट खोले जा रहे हैं, वही झारखंड को सिर्फ एक प्लांट चाईबासा में केंद्र सरकार दे रही है। जबकि स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने 28 आक्सीजन प्लांट खोलने का प्रस्ताव रखा था। अभी भी झारखंड को टेस्टिंग किट कम मात्रा में दिया जा रहा है। कुछ आवश्यक दवा भी समय पर नहीं दी जा रही है। केंद्र सरकार से 6000 आक्सीजन सिलेंडर मांग की गई थी, जिसमें सिर्फ 90 सिलेंडर ही झारखंड को दिखा गया। झारखंड में 45 वर्ष से ऊपर के दूसरे डोज के 9 लाख 13 हजार लोगों के स्थान पर 1 लाख 62 हजार डोज ही दिया गया है।

पीएम के समक्ष मुंह नहीं खोलते सांसद

झारखंड में भाजपा के 12 सांसद हैं, परंतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगे मुंह नहीं खोल पाते हैं। झारखंड के लिए मेडिकल उपकरण, वैक्सीन, आक्सीजन मांगने में पीछे हट जाते हैं। भाजपा को झारखंड सरकार पर सवाल करने का अधिकार ही नहीं है। इन्होंने पिछले पंद्रह वर्षों तक शासन किया। अब भाजपा देख ले गठबंधन सरकार आने वाले समय में झारखंड की जनता को दुख तकलीफ नहीं होने देगी। झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के जोनल कोऑर्डिनेटर अशोक चौधरी ने कहा कि जब-जब भाजपा सरकार देश चलाने में असफल होती है, तो कांग्रेस पार्टी को बदनाम करती फिरती है। केंद्र सरकार जल्द से जल्द झारखंड की सवा तीन करोड़ जनता के लिए दोनों डोज दें।

क्यों कराया गया चुनाव

बिजय खां ने कहा कि जब देश को कोरोना से लड़ने की जरूरत थी, तो प्रधानमंत्री, पूरी कैबिनेट, पूरी भाजपा चुनाव में व्यस्त हो गई। पांच राज्यों में चुनाव कराने की क्या जरूरत थी। असंवैधानिक तरीके से एक से पांच लाख तक की रैली करके महामारी के प्रति कर्तव्यहीनता का परिचय दिया। इसी को लेकर सर्वोच्च न्यायालय व उच्च न्यायालय ने फटकार भी लगाई, जो भाजपा के लिए शर्मनाक बात है।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.