top menutop menutop menu

मुलाकात न बात, सोशल साइट पर कर रहे दो-दो हाथ

जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : विधानसभा चुनाव के प्रचार का दायरा बढ़ता जा रहा है। जहां एक ओर चौक-चौराहों से गलियों तक प्रत्याशी अपने पक्ष की हवा बनाने में लगे हुए हैं, वहीं सोशल मीडिया भी अछूता नहीं है। यहां प्रत्याशियों को ऐसे वोटरों से रूबरू होने का अवसर आसानी से मिलता है, जिनके पास ना तो चौक-चौराहों पर बिताने के लिए समय है, ना ही राजनीतिक बहस सुनने की जिज्ञासा।

काम धंधे में व्यस्त व पढ़े-लिखे कुछ ऐसे ही मतदाताओं तक अपनी बातें पहुंचाने के लिए इस बार ट्विटर वार देखने को मिल रहा है। यहां कई दलों के नेता खूब सक्रिय हैं। एक-दूसरे से सवाल करते नजर आ रहे हैं। वहीं विरोधी भी सक्रिय हैं। कार्यकाल के दौरान विकास से संबंधित सवालों की बौछार कर रहे हैं।

----

एक दिन में 15 से ज्यादा ट्विट कर रहे सीएम रघुवर दास

यदि बात करें मुख्यमंत्री रघुवर दास की तो ट्विटर पर उनके तीन लाख से ज्यादा फॉलोअर हैं। जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है, वे ट्विटर पर ज्यादा सक्रिय होते दिख रहे हैं। फिलहाल रघुवर एक दिन में 15 से ज्यादा ट्विट कर रहे हैं। उन्होंने नया नारा दिया है- 'झारखंड पुकारा, भाजपा दोबारा'। साथ ही अपने कामों का ब्योरा भी दे रहे हैं। एक ट्विट में झामुमो पर निशाना साधते हुए कहा कि 14 साल तक झामुमो ने स्थानीय नीति के नाम पर युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है।

कुणाल षाड़ंगी ने ट्विटर पर लगाई चुनावी चौपाल

बहरागोड़ा विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी कुणाल षाड़ंगी ट्विटर को अलग ही तरह से इस्तेमाल कर अन्य प्रत्याशियों से एक कदम आगे निकलते दिख रहे हैं। जहां एक ओर कुछ प्रत्याशी दूसरे दल से हिसाब-किताब मांग रहे हैं, वहीं कुणाल ने ट्विटर पर ही चुनावी चौपाल लगा दी है। कुणाल के ट्विटर हैंडल के अनुसार उनके सात हजार से ज्यादा फॉलोअर हैं। कुणाल हैशटैग कुणाल की चौपाल के माध्यम से लोगों से जुड़ने की कोशिश कर रहे हैं। लोग हैशटैग का इस्तेमाल कर कुणाल से सवाल पूछ सकते हैं। इसके अलावा अपनी रैलियों में भाग लेने वालों से भी तेज वाहन नहीं चलाने की अपील करते नजर आ रहे हैं। हालाकि कुणाल अभी दिन भर में दो से तीन ही ट्विट कर रहे हैं। पूर्वी जमशेदपुर से कांग्रेस प्रत्याशी गौरव वल्लभ ने पूछे सवाल

पूर्वी जमशेदपुर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी गौरव वल्लभ ट्विटर पर सक्रिय हैं। उन्होंने टिविटर पर हैशटैग 11 दिन 11 सवाल का कैंपेन चलाया है। इसमें वे अपने प्रतिद्वंद्वी रघुवर दास से 11 सवाल पूछ रहे हैं। इन सवालों के माध्यम से वे रघुवर दास को घेरे में लेने की कोशिश कर रहे हैं। इन सवालों में उन्होंने झारखंड की शिक्षा और चिकित्सा व्यवस्था में सुधार को लेकर सवाल पूछा। साथ ही 900 करोड़ के मोमेंटम झारखंड के बाद भी औद्योगिक व्यवस्था के पिछड़ने का भी कारण पूछा। हालांकि इस पर रघुवर दास ने अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है, पर एक ट्विटर हैंडल से कमेंट आया कि कइसा पिरोफिरेसर है, ये दूसरों से बस सवाल ही पूछता रहता है। भाई तेरे पास कुछ है देने को या अईसे ही मांग-पानी करता रहेगा। इन कमेंट्स में आधे से ज्यादा ट्रोल करने वाले कमेंट्स हैं, पर कुछ सपोर्टिव कमेंटस भी मौजूद हैं। निर्दलीय प्रत्याशी सरयू राय भी ट्विटर पर दे रहे समय

जमशेदपुर पूर्वी के निर्दलीय प्रत्याशी सरयू राय के ट्विटर पर 13 हजार फॉलोअर हैं। सरयू राय इन दिनों चुनाव को लेकर कई क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं। जिसकी जानकारी वह अपने ट्विटर हैंडल पर भी दे रहे हैं। उन्होंने भी ट्विटर पर नया कैंपेन चलाया है, अबकी बार सरयू सरकार। इन दिनों वे दिन भर में आठ से ज्यादा ट्विट कर रहे हैं। उनके कमेंट्स में काफी लोग उनका साथ देने की बात कह रहे हैं। सुदेश के ट्विट को रीट्विट करते दिख रहे रामचंद्र सहिस

जुगसलाई विधानसभा क्षेत्र से आजसू के प्रत्याशी रामचंद्र सहिस इन दिनों सुदेश महतो के ट्विट को ही रीट्विट कर रहे हैं। हालांकि उन्होंने सीवी रमन की पुण्यतिथि और झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की जयंती पर ट्विट किया है। ये हैं नदारद

बन्ना गुप्ता, मेनका सरदार, देवेंद्र सिंह ट्विटर पर एक्टिव नहीं हैं। वहीं इनके अलावा कई प्रत्याशियों के ट्विटर पर अकाउंट नहीं है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.