top menutop menutop menu

सरेंडर नहीं किया तो पुलिस की गोली से मारा जाएगा नक्‍सली सचिन Jamshedpur News

जादूगोड़ा/जमशेदपुर (जेएनएन)। यूसीआइएल जादूगोड़ा आवासीय कॉलोनी स्थित अतिथि गृह में शनिवार को कोल्हान के डीआइजी राजीव रंजन ने ग्रामीण क्षेत्र के थाना प्रभारियों के साथ बैठक की।

बैठक का मुख्य उद्देश्य क्षेत्र में शांति व उग्रवाद को समाप्त करने को लेकर जरूरी दिशा निर्देश देना था।  इस दौरान कोल्हान के ग्रामीण क्षेत्र में सभी डीएसपी थाना प्रभारी व सर्किल इंस्पेक्टर मौजूद थे। बैठक में छेत्र में उग्रवाद पर पूर्ण रोक कैसे लगे और शांति कैसे बनी, रहे इसपर चर्चा की गई। पुराने भगोड़े अपराधियो को सूची बद्ध कर कार्यवाही करने का आदेश दिया। पुलिस और जनता के बीच मे कैसे और अच्छा समन्वय स्थापित किया जाए इन सब बातों पर चर्चा की गई। 

डीआईजी ने कहा कि दस साल पहले जब मैं यहा का ग्रामीण एसपी था उस समय जो इस क्षेत्र में नक्सलियों की गतिविधियों के मामले में आज बेहतर स्थिति है। ऐसा अच्‍छी पुलिसिंग और अच्छे पुलिस अधिकारियों के वजह से हो पाया है। पिछले तीन महीने से पुलिस का पूरा फोकस कोरोना पर ही है। बचे-खुचे कुछ नक्सलियों को सरकार के सरेंडर पॉलिसी के तहत जल्द सरेंडर करवाने या गिरफ्तार करने पर मुख्य रूप से चर्चा हुई। 

सचिन करे सरेंडर वरना पुलिस की गोली से मारा जाएगा : डीआईजी 

डीआइजी ने कहा कि इस छेत्र में सचिन दस्ता ही बचा हुआ है। वो पटमदा का रहने वाला है। मैं समाचार पत्रों के माध्यम से उनके परिवार के लोगो से भी कहना चाहता हु की वो भी पुलिस का सहयोग करे। और सचिन को सरेंडर करवाये। नक्सलियों को अपराध की दुनिया छोड़ के मुख्यधारा में आना चाहिए। पुलिस के सामने सरेंडर करें सचिन अपने पूरे दस्ते के साथ। वरना इस दलदल से निकने का कोई रास्ता नही है। वरना कही न कही पुलिस की गोलियों से मारा जाएगा। झारखंड सरकार की सरेंडर पॉलिसी अन्य सभी राज्यो से बहुत अच्छी है। इसका लाभ ले और सरेंडर करें पुलिस हर सम्भव मदद करेगी सचिन और उसके साथियों की ओर उसके परिवार की अगर वो सरेंडर करता है तो। 

सरेंडर कर चुके नक्सलियों के परिजनों को जल्द मिलेगा मुवावजा

गुड़ाबांधा प्रखंड ने नक्सलियों द्वारा किये गए सरेंडर पर डीआइजी ने कहा कि अगर उनके परिवार को कोई मुवावजा या किसी भी तरह का कोई राशि या कुछ भी बकाया है जो मेरे संज्ञान में आएगा, जो मिलनी थी सरेंडर के एवज में उसे जल्द मिलेगा। इसके लिए जमशेदपुर एसएसपी को निर्देश सिया जा रहा है की किसी भी तरह का अगर कोई बकाया है तो उसे डीसी के माध्यम से सरकार के समक्ष प्रस्ताव रखें। हम भी इसपर सरकार से बात कर जल्द समाधान करवाने की कोसीसी करेंगे। 

नक्सलियों के बहकावे में न आएं प्रवासी 

डीआईजी ने कहा कि दुसरे राज्यो से आये प्रवासी मजदूर नक्सलियों के लोभ में आकर नक्सलवाद के राह पर कभी नही जाए । ये राष्ट्र व्यापी संकट है हम सब मिलके इससे निकलेंगे। रहा सवाल रोजगार कि तो राज्य सरकार प्रवासियों को रोजगार देने के किये प्रयासरत है। सरकार धीरे धीरे नई नई योजना ला रही है जिससे रोजगरा का सृजन हो रहा है और प्रवासियों को रोजगार भी मिल रहा है । इसके बावजूद भी अगर किसी को बहुत दिक्क्त आ रही है तो वे आने छेत्र के थाना प्रभारी से अपने कागजात के साथ मिले। हमलोग भी इसे डीसी के माध्यम से रोजगरा दिलाने का प्रयास करेंगे। लेकिन किसी भी स्तिथी के नक्सल के राह को नहीं चुने प्रवासी या कोई भी युवा।  अवैध शराब के खिलाफ लेकर चलेगा अभियान 

डीजीपी के दिशा निर्देश पर अगले पंद्रह जुलाई तक पूरे झारखंड ने लक्षय बनाया गया है कि राज्य को अवैध शराब मुक्त झारखंड बनाया जायेगा। जिसके लिए सभी अधिकारियों को दिशा निर्देश दे दिया गया है। की छेत्र में लगातर छापा मारी कर अवैध शराब को बंद करवाये। 

रोजगार मुहैया कराने के लिए 1500 प्रवासियों की सूची तैयार : एसएसपी 

जमशेदपुर एसएसपी ने कहा कि प्रवासी मजदूरो को रोजगार मुहैया कराने को लेकर डीसी साहब से मिलकर अब तक जिले में करीब पंद्रह सौ प्रवासियों का लिस्टिंग किया गया है उनके स्किल के हिसाब से धीरे धीरे उनको रोजगरा भी मुहैया करवाने का प्रयास किया जा रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.