Bollywood News : अभिनेता आर माधवन कभी नहीं चाहते थे, पिता की तरह टाटा स्टील में काम करें, जानिए इसके पीछे की कहानी

Bollywood News फिल्मी दुनिया में मैडी के नाम से मशहूर अभिनेता आर माधवन जमशेदपुर में पले-बढ़े। हर बाप की तरह उनके पिता का भी सपना था कि बेटा उनकी तरह इंजीनियर बन टाटा स्टील में नौकरी करें। लेकिन आर माधवन तो धुन के पक्के थे...

Jitendra SinghTue, 07 Dec 2021 11:15 AM (IST)
Bollywood News : अभिनेता आर माधवन कभी नहीं चाहते थे, पिता की तरह टाटा स्टील में काम करें

जमशेदपुर। भारतीय सिनेमा के चॉकलेटी बॉय आर माधवन उर्फ ​​मैडी न सिर्फ एक बेहतरीन अभिनेता हैं बल्कि असल जिंदगी में भी विनम्र हैं। दशकों बाद आज भी वह अपने प्रशंसकों के दिल चुराते हैं और अगर फैंस को माधवन कहीं मिल जाए तो फिर भीड़ ही लग जाती है।

3 इडियट्स' की कहानी माधवन से मिलती जुलती

फिल्म 'रंग दे बसंती' से लेकर रहना है 'तेरे दिल में' तक उनके किरदारों ने हमारे दिलों में एक स्थायी जगह बना ली है। '3 इडियट्स' के फरहान कुरैशी याद हैं? इस फिल्म में उनका किरदार के नजदीक आज हर युवा नजर आता है। आर माधवन कहते हैं, 3 इडियट्स का दृश्य मेरे जीवन से मिलता जुलता है। मेरे पिताजी और मां वास्तव में चाहते थे कि मैं एक इंजीनियर के रूप में वापस आऊं और टाटा के लिए काम करूं और वहां (जमशेदपुर) बस जाऊं। आर माधवन के पिता रंगनाथन अयंगर टाटा स्टील में मैनेजमेंट एग्जिक्यूटिव थे और उनकी मां सरोजा बैंक ऑफ इंडिया में मैनेजर थीं।

शुरू से ही नौकरी में नहीं थी रुचि

लेकिन मुझे यह नहीं पता था कि मुझे क्या करना है। पर इतना पता था कि जमशेदपुर में रहकर एक रूटीन लाइफ नहीं जीना चाहता है और लगातार 30 वर्षों तक वही काम करना नहीं चाहता था जो मेरे पिता ने बहुत आसानी से किया। वे (उनके माता-पिता) व्याकुल थे। मेरा फैसला सुन वास्तव में मेरे पिताजी के आंसू में बह गए थे। मेरे फैसले पर आज वह कहते हैं 'मुझे आश्चर्य है कि मैंने आपके साथ क्या गलत किया है।

सर्वश्रेष्ठ एनसीसी कैडेट रह चुके हैं माधवन

बहुत कम लोग जानते हैं कि जब माधवन 22 साल के थे, तब उन्हें महाराष्ट्र के सर्वश्रेष्ठ एनसीसी कैडेटों में से एक माना जाता था। उन्हें सात अन्य एनसीसी कैडेटों के साथ इंग्लैंड की यात्रा करने का मौका मिला। माधवन ने अपने तीन दशक से अधिक के करियर में कई ब्लॉकबस्टर फिल्म दिए हैं। उन्हें पहली बार मणिरत्नम की सफल रोमांस फिल्म अलैपायुथे के माध्यम से पहचान मिली।

उन्होंने जल्द ही हिंदी फिल्म उद्योग में अपनी जगह बनाई और 13 बी, तनु वेड्स मनु, तनु वेड्स मनु रिटर्न्स, विक्रम वेधा जैसी उल्लेखनीय फिल्मों में दिखाई दिए। अभिनय के अलावा, उन्होंने फिल्मों में एक लेखक के रूप में भी काम किया है और कई टीवी शो की मेजबानी की है। वह अगली बार वाईआरएफ के पहले ओटीटी प्रोजेक्ट द रेलवे मेन में दिखाई देंगे, जिसमें के के मेनन, दिव्येंदु शर्मा और इरफान खान के बेटे बाबिल खान भी हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.