Saraikela, Jharkhand News: खरसावां के हरिभंजा में आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन

PM Van Dhan Vikas Yojana बीडीओ गौतम कुमार ने चलाये जा रहे आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम के दौरान विभिन्न विभागों की ओर से लोगों को लाभ पहुंचाने के लिये स्टॉल लगा कर लोगों से आवेदन लिया गया।

Rakesh RanjanTue, 30 Nov 2021 05:05 PM (IST)
खरसावां में मनरेगा के तहत रोजगार महादिवस भी मनाया गया।

संवाद सूत्र, खरसावां : सरायकेला-खरसावां जिले के खरसावां के हरिभंजा पंचायत में मंगलवार को आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन बीडीओ गौतम कुमार, मुखिया जानोमाई जामुदा आदि ने दीप प्रज्वलित कर किया। मौके पर बीडीओ गौतम कुमार ने चलाये जा रहे आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम के दौरान विभिन्न विभागों की ओर से लोगों को लाभ पहुंचाने के लिये स्टॉल लगा कर लोगों से आवेदन लिया गया।

गर्भवती महिलाओं की गोद भराई, नवजात का कराया गया मुंहजुठी, धोती-साड़ी, कंबल का वितरण सहित परिसंपत्तियों और प्रमाण पत्रों का वितरण किया गया। मौके पर नये राशन कार्ड के लिए आवेदन पत्रों की स्वीकृति, उसकी त्रुटियों को दूर करने, पेंशन प्राप्त करने में लाभान्वितों को हो रही समस्या का निराकरण किया गया। साथ ही मनरेगा के तहत नये जॉब कार्ड, प्रवासी श्रमिकों के लिए प्राथमिकता के तौर पर जॉब कार्ड बनाने, जमीन का लगान की रसीद काटने, कृषि ऋण माफी, ई-श्रम पोर्टल पर निबंधन के आवेदन सहित विभिन्न मामलों का निपटारा किया गया। मौके पर मनरेगा के तहत रोजगार महादिवस भी मनाया गया। मौके पर झामुमो जिला प्रवक्ता अनूप सिंहदेव, प्रखंड कृषि पदाधिकारी परशुराम महतो, बीटीएम निरज श्रीवास्तव, प्रभारी सीडीपीओ प्रिया कुमारी, मनरेगा के जेई निरज सिन्हा, शकीला टुडु, पीएम आवास योजना के ब्लॉक कोऑर्डिनेटर बीना बांकिरा, पंचायती राज के ब्लॉक कोऑर्डिनेटर पंकज कुम्हार, बबलू महतो आदि उपस्थित थे।

पीएम वन धन विकास योजना के प्रगति की समीक्षा बैठक

प्रधानमंत्री वन धन विकास योजना की प्रगति को लेकर कुचाई प्रखंड कार्यालय सभागार में समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बताया गया कि भारत सरकार के जनजातीय कार्य मंत्रालय की अनुषंगी ईकाई ट्रेइफेड़ के जरिये वन धन योजना का संचालन किया जा रहा है। भारत सरकार के जनजातीय मामलों के मंत्रालय द्वारा जनजातीय समुदाय के लोगों को लाभान्वित करने के लिए वन-धन विकास योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना व केंद्रों के जरिये जनजातीय समाज के लोगों को वनोत्पाद के माध्यम से आजीविका के साधन उपलब्ध कराने की पहल की गयी है। बैठक में मुख्यरुप से जन धन केंद्रों का वैल्यू एड़िशन पर जोर देते हुए जनजातीय समुदाय के लोगों की आजीविका को बढ़ावा देने पर जोर दिया गया।

आदिवासी इलाकों में उपलब्ध होगी आजीविका

साथ ही ईमली, लाह, हल्दी, चिरौंजी, महुआ, कुसुम समेत अन्य वनोत्पाद के लिए प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित करने पर चर्चा की गयी। इसके लिये ट्रेइफेड़ के जरिये केंद्र सरकार आर्थिक मदद करेगी। गांव के लोगों को वनोत्पाद का सही दाम मिलेगा। इस योजना व केंद्र के आरंभ करने से आदिवासी इलाकों में आजीविका उपलब्ध हो सकेगी। वन धन विकास योजना के तहत वन धन विकास केंद्र के माध्यम से साथ ही स्वरोजगार भी उपलब्ध कराया जायेगा।

इनकी रही कार्यक्रम में मौजूदगी

मौके पर ट्रेइफेड़ के दिनेश कुमार रंजन, जेएसएलपीएस के स्टेट टीम में अंतरिक्ष बारा, झामको लैंपस से प्रवीण कुमार, झामको फेड़ से सिकंदर, जेएसएलपीएस के डीपीएम शैलेंद्र जारिका, आजीविका के जिला प्रबंधक सुषमा बारवा, जेएसएलपीएस के बीपीएम रमेश प्रसाद द्विवेदी, वन धन विकास केंद्र के अध्यक्ष मारथा गागराई, संकुल अध्यक्ष पार्वती गागराई समेत वन केंद्र केंद्र के सदस्य उपस्थित थे। बताया गया कि सरायकेला -खरसावां जिले के कुचाई प्रखंड में वन धन विकास केंद्र कुचाई की शुरुआत 16 अक्तूबर 2019 को की गई। इसमें 31 समूहों के 306 सदस्य हैं, जिसमें 253 अनुसूचित जन जाति एवं 53 अन्य पिछड़ा वर्ग के लोग शामिल हैं। इस केंद्र के दायरे में कुल चार पंचायतें, 263 समूह, 25 ग्राम संगठन शामिल हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.