126 लाभुकों को मिला जॉब कार्ड व 36 वृद्धों को कंबल

कोकपाड़ा पंचायत भवन में आपके अधिकार कार्यक्रम शिविर का आयोजित हुई। शिविर में ग्रामीणों को बीडीओ सविता टोपनो ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की जो भी समस्या है इसे देखते हुए पंचायत में शिविर आयोजित की जा रही है।

JagranPublish:Fri, 03 Dec 2021 08:30 AM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 08:30 AM (IST)
126 लाभुकों को मिला जॉब कार्ड व 36 वृद्धों को कंबल
126 लाभुकों को मिला जॉब कार्ड व 36 वृद्धों को कंबल

संसू, धालभूमगढ़ : कोकपाड़ा पंचायत भवन में आपके अधिकार कार्यक्रम शिविर का आयोजित हुई। शिविर में ग्रामीणों को बीडीओ सविता टोपनो ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की जो भी समस्या है इसे देखते हुए पंचायत में शिविर आयोजित की जा रही है। समस्याओं का समाधान किया जा रहा है। सरकार सभी लोगों की समस्याओं के सामाधान का प्रयास कर रही है। योग्य लाभुूक को पेंशन के साथ ग्रीन कार्ड भी उपलब्ध कराएगी। किसी गरीब को राशन की समस्या नही होगी। शिविर में विभन्न विभाग के द्वारा स्टॉल लगाया गया था। मुख्यमंत्री राज्य विधवा, वृद्धा, दिव्यांग पेंशन का 50 आवेदन प्राप्त हुआ। केसीसी 3, मनरेगा 126 लाभुकों को जॉब कार्ड, 36 वृद्ध को कंबल वितरण सहित अन्य योजना का लाभ दिया गया। मौके पर कार्यक्रम में पार्षद आरती सामद, विधायक प्रतिनिधि अर्जुन चंद्र हांसदा, मुखिया बुद्धेश्वर नायक पंसस प्रतिनिधि संजीत भालूक सुबोध मुर्मू, पंचायत सचिव, रोजगार सेवक, जन सेवक, अचंल निरीक्षक, प्रखंड कर्मी उपस्थित थे। विधायक ने पीड़ित परिवार को दी 25 हजार की आर्थिक सहायता राशि : पिछले 28 जून को एनएच में सड़क दुर्घटना में भिखारी दास की मौत हो गई थी। वह विवाहित था। घटना के बाद विधायक के प्रयास से पीड़ित परिवार को वाहन के मालिक के द्वारा 2 लाख 25 हजार रुपए मुआवजा देने का आश्वासन दिया था। पीड़ित परिवार को 2 लाख का चेक प्रदान किया गया था। इसके साथ ही 25 हजार रुपए नगद राशि दी गई थी। लेकिन मुआवजा राशि देने के वक्त मृतक की पत्नी नही थी। सिर्फ लड़के के घरवाले ही थे। मायके वाले व ससुराल पक्ष में कुछ अनबन थी। जिसपर विधायक ने दोनों परिवार के सदस्यों से कहा था कि वे एक साथ जब आएंगे तब ही उन्हें 25 हजार रुपये की शेष राशि दी जाएगी। गुरुवार को दोनों परिवार के सदस्य पहुंचे। जिसके बाद विधायक ने दोनों परिवार के सदस्यों की उपस्थिति में मृतक की पत्नी के हांथों 25 हजार रुपए की आर्थिक सहयोग राशि प्रदान किया। विधायक से परिजनों ने कहा कि वाहन मालिक के द्वारा उन्हें कहा जा रहा कि जब मुआवजा पर बात हो गई थी तो फिर केस क्यों किया गया। जिसपर विधायक ने कहा कि जो मुआवजा का 2 लाख का चेक दिया गया है उसे बैंक में जमा करें। अगर खाते में पैसा नहीं होगा तो फिर चेक बाउंस कर केस करें। मौके पर मुक्ता दास, बद्रीनाथ दास, उषा रानी दास, जगन्नाथ दास, झामुमो नेता जगदीश भगत, काजल डॉन, विश्वनाथ गोराई, अम्पा हेम्ब्रम समेत अन्य मौजूद थे।