हाथियों के झुंड ने मचाया उत्पात , फसलों को रौंदा, घरों को ध्वस्त किया

हाथियों के झुंड ने मचाया उत्पात , फसलों को रौंदा, घरों को ध्वस्त किया

संसू कटकमदाग (हजारीबाग) थाना क्षेत्र के सुदूरवर्ती गांव बेस के डुबकिया टोला में बुधवार को घर डैमेज कर दिया।

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 09:25 PM (IST) Author: Jagran

संसू, कटकमदाग (हजारीबाग) : थाना क्षेत्र के सुदूरवर्ती गांव बेस के डुबकिया टोला में बुधवार की रात हाथियों के झुंड ने जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान इलाके के खेतों की फसल को रौंद डाला। वहीं आधा दर्जन घर को क्षतिग्रस्त कर किया। इसी महेश भुइयां नाम का एक ग्रामीण झुंड की चपेट में आने से बाल बाल बचा। बाद में मुखिया प्रतिनिधि शंकर राणा व पंसस तिलेश्वर गंझू द्वारा घटना की सूचना देकर विभाग कर्मचारियों से संपर्क कर बुलाया। हालांकि ग्रामीणों ने बताया कि वन कर्मी हाथियों को भगाने के बजाय उपाय बताकर चलते बने । हाथियों का झुंड सदर प्रखंड के हुपाद गांव के जंगल से प्रवेश कर गया है। झुंड में चार बच्चों समेत लगभग डेढ़ दर्जन हाथी शामिल हैं। बेस गांव के पास जंगल में हाथियों के झुंड जमे होने की खबर से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है । लोगों का कहना है कि अगर वन विभाग द्वारा हाथियों को भगाया नहीं जाएगा तो हमलोगों को जान बचाने के लिए कहीं और जाना होगा।

जिन ग्रामीणों को पहुंचा नुकसान

हाथियों के झुंड के गांव के आस-पास भटकने से कई ग्रामीणों को नुकसान हुआ। उनमें महेश भुइयां (पिता शिबू भुइयां), सुदी भुइयां (पिता रोहनिया भुइयां), भीखु भुइयां (पिता भूनू भुइयां), मसोमात बंधनी (पति महेश भुइयां), बसमतिया (पति स्व. बंशी भुइयां) का घर और फसल व मवेशी, राजेश भुइयां (पिता करीवा भुइयां) का टमाटर व मिर्चा की खेती, कमल भुइयां (पिता का नाम काली भुइयां) का आलू की उपज, जितेंद्र भुइयां (पिता काली भुइयां) के खलिहान में रखा हुआ सैंकड़ों बोझा धान बर्बाद हुआ ।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.