दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

युवाओं में दिखा उत्साह, 1674 ने लिया वैक्सीन

युवाओं में दिखा उत्साह, 1674 ने लिया वैक्सीन

जागरण संवाददाता गुमला गुमला जिले में 18 प्लस के प्रखंडवार वैक्सीनेशन में सबसे आगे गुमला सदर

JagranFri, 14 May 2021 09:40 PM (IST)

जागरण संवाददाता, गुमला : गुमला जिले में 18 प्लस के प्रखंडवार वैक्सीनेशन में सबसे आगे गुमला सदर रहा। यहां 275 युवाओं ने वैक्सीन लिया जबकि वैक्सीनेशन में सबसे पीछे डुमरी रहा। डुमरी में 30 व बिशुनपुर में मात्र 53 युवाओं ने वैक्सीन लिया. कामडारा में भी वैक्सीनेशन काफी रही। यहां 64 युवाओं ने ही वैक्सीन लिया इसके साथ ही पूरे जिले में 45 प्लस के 106 व 60 प्लस के 85 लोगों ने शुक्रवार को वैक्सीन लिया 18 प्लस की बात करें तो पूरे जिले में 1674 युवाओं ने शुक्रवार को वैक्सीन लिया जबकि पूरे जिले में 1865 लोगों का वैक्सीनेशन शुक्रवार को हुआ। कुल वैक्सीनेशन शुक्रवार को

18 प्लस : 1674

45 प्लस : 106

60 प्लस : 85

कुल : 1865 -------------------

प्रखंडवार वैक्सीनेशन

बसिया : 180

भरनो : 173

बिशुनपुर : 53

चैनपुर : 100

डुमरी : 30

घाघरा : 180

गुमला सदर : 275

कामडारा : 64

पालकोट : 66

रायडीह : 177

सिसई : 200

एनसीडी क्लीनिक :176

==============

जिले में 237 कोरोना के नए संक्रमित मिले, 363 हुए स्वस्थ जागरण संवाददाता, गुमला : गुमला जिले में 237 नए कोरोना संक्रमित मिले है। वहीं 363 संक्रमित स्वस्थ हुए है। जिले में अब तक 28 लोगों की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। जिले में 2045 कोरोना के संक्रमित है। अब तक 7858 लोग कोरोना पाजिटिव हुए थे जिनमें से 5785 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए जिला प्रशासन हर संभव प्रयास कर रही है। बावजूद इसके जिले के गांव देहातों में अब भी जागरुकता का अभाव है। जिले के गांव में बिना मास्क के ही लोग घूम रहे हैं। वैक्सीनेशन को लेकर फैली अफवाह के कारण ग्रामीण वैक्सीनेशन नहीं कराना चाहते हैं। गांव में दर्जनों लोग सर्दी , खांसी व बुखार से पीड़ित है। इसके बावजूद लोग अस्पताल नहीं जाना चाहते है। उन्हें भय है कि अस्पताल में उनका वैक्सीनेशन कर दिया जाएगा।

:::::::::::::::::::

वैक्सीनेशन ने बढ़ाया युवाओं का आत्मविश्वास

फोटो : 21,22,23

जागरण संवाददाता, गुमला : कोरोना के बढ़ रहे खतरे के बीच एक तरफ ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन व कोरोना जांच से ग्रामीण परहेज कर रहे हैं वहीं शहरी क्षेत्र के युवा पीढ़ी ने वैक्सीनेशन का लेकर उत्साहित और गंभीर दिखे। वैक्सीन लेने वाले युवाओं के अंदर आत्मविश्वास बढ़ा है। पहले इन्हें लगता था कि वायरस से वे लोग बच नहीं पाएंगे। लेकिन वैक्सीन लेने के बाद उनके अंदर एक ताकत का संचार हुआ है। कुछ युवाओं ने अपनी बातों को इस तरह रखा। जब तक मैंने वैक्सीन नही लिया था ऐसा लग रहा था कि न जाने कब कोरोना संक्रमण का अटैक हो जाए। घर से निकलना, दोस्तों से मिलना तक बंद हो गया था। परिवार के लोगों में कोरोना के प्रति दहशत हो गई थी। लेकिन वैक्सीन लेने के बाद अंदर जैसे कोई ताकत आ गई हो।

-सुधांशु महंती

--

कोरोना संक्रमण के भय के बीच जी रहा था। लेकिन वैक्सीनेशन होने से मेरा आत्मविश्वास बढ़ गया है। मुझे काफी दिनों से अपनी बारी का इंतजार था। झारखंड सरकार ने उसकी मनोकामना पूरी कर दी।

- आकाश चौरसिया

---

कोरोना संक्रमण से लगातार हो रही मौत व बढ़ रहा संक्रमण का दायरा प्रतिदिन अखबार में पढ़ने से मेरी नींद उड़ी हुई थी. चाह कर भी वैक्सीन नहीं ले पा रही थी. लेकिन 18 वर्ष से अधिक के युवाओं के वैक्सीनेशन की खबर पढ़ते ही रजिस्ट्रेशन करने में मैंने देर नहीं की और पहले दिन ही वैक्सीन का पहला डोज लिया।

- निधि राज सिंह

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.