लॉकडाउन को लेकर ठाकुरगंगटी में सघन जांच

लॉकडाउन को लेकर ठाकुरगंगटी में सघन जांच

संवाद सहयोगी ठाकुरगंगटी रविवार को प्रखंड विकास पदाधिकारी मेघनाथ उरांव ने भगैया

JagranSun, 16 May 2021 08:36 PM (IST)

संवाद सहयोगी ठाकुरगंगटी : रविवार को प्रखंड विकास पदाधिकारी मेघनाथ उरांव ने भगैया में स्थित बिहार की सीमा का पुलिस बल के साथ जाकर पड़ताल की। बाहर से आने वाले व्यक्तियों की जांच के लिए खासकर यहां चेकनाका बनाया गया है। बताते चलें कि भगैया में गोड्डा साहिबगंज जिले की सीमा के साथ-साथ बिहार राज्य के भागलपुर जिले की भी सीमा है । इसलिए यह चेकनाका ठाकुर गंगटी प्रखंड के लिए काफी उपयुक्त माना जा रहा है। साथ ही साथ यह चेकनाका मेहरमा थाना क्षेत्र में पड़ता है । जांच के दौरान सभी प्रकार के दोपहिया तीन पहिया वाहनों के अलावे अन्य व्यक्तियों के आवागमन की भी जांच की गई । सबों से पूछताछ की गई । कि वे कहां से आ रहे हैं कहां गए थे। या प्रखंड क्षेत्र के बाहर उसे कहां किस काम से जाना है । सभी वाहन चालकों के साथ साथ सफर करने वालों का ईपास भी देखा गया । इसके अलावे भी प्रखंड क्षेत्र के प्रचलित परासी चौक सहित अन्य मार्गों व चौक चौराहों पर प्रखंड विकास पदाधिकारी सह अंचलाधिकारी मेघनाथ उरांव के साथ-साथ प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी ठाकुरगंगटी के थाना प्रभारी फुलेश्वर प्रसाद सिंह अन्य पुलिस पदाधिकारी , पुलिसकर्मी द्वारा कड़ाई से जांच पड़ताल की गई। जांच के दौरान सभी चौक चौराहों पर सभी दुकानें बंद थी । लोगों का आवागमन भी काफी कम मात्रा में था । हालांकि आवागमन करने वाले सभी लोगों और वाहन चालकों से कहा गया की ई पास बना करके ही सफर करें । बताया कि सबसे पहले तो घर से निकले ही नहीं । क्योंकि इस कोरोनावायरस जैसे महाकाल और महामारी के मद्देनजर राज्य सरकार द्वारा वृहत रूप से स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के तहत लॉक डाउन लगाया गया है। अपने परिवार के सदस्यों के साथ शारीरिक दूरी का पालन करते हुए अपने घर में ही रहें। बहुत अधिक आवश्यकता पड़ने पर ही घर के सिर्फ एक सदस्य मास्क लगाकर और सेनीटाइजर का उपयोग कर घर से निकलें । और जो भी जरूरी काम हो जल्द से जल्द निपटा कर पुन: घर वापस आ जाएं । घर में प्रवेश करने से पूर्व खाद्य या किसी प्रकार की सामग्री लाने पर सर्वप्रथम पानी से उसकी सफाई करें। और पॉलिथीन के ऊपर सेनीटाइज कर दें । हाथ पांव धोकर ही घर के अंदर प्रवेश करें। बाहर निकलने के बाद अगर कोई परिचायक या कोई व्यक्ति मिले बात करना चाहे तो उसे इशारे इशारे में चंद मिनट में बात कर लें। और बात करने के दौरान निर्धारित दो गज शारीरिक दूरी का पालन करें। ताकि अपने आप में भी सुरक्षित रहें और सबों को सुरक्षित रखें । कहा कि जब तक कोरोना का खतरा टल नहीं जाता तब तक काफी एहतियात बरतने की आवश्यकता है। अन्यथा किसी भी रूप में खतरा हो सकती है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.