हनवारा को मिले अलग प्रखंड का दर्जा, यूपीए सरकार से बंधी आस

हनवारा को मिले अलग प्रखंड का दर्जा, यूपीए सरकार से बंधी आस

फोटो 2 संवाद सहयोगी हनवारा पिछले एक दशक से महागामा प्रखंड अंतर्गत हनवारा थाना क्षेत्र

JagranMon, 12 Apr 2021 06:28 PM (IST)

फोटो : 2

संवाद सहयोगी, हनवारा : पिछले एक दशक से महागामा प्रखंड अंतर्गत हनवारा थाना क्षेत्र को पृथक प्रखंड का दर्जा देने की मांग तेज रही है। हनवारा के ग्रामीण इसकी लगातार मांग करते आ रहे हैं कि हनवारा को प्रखंड का दर्जा मिलना चाहिए। इस मांगो को लेकर कई बार सियासी गलियारों में उथल पुथल भी हुआ। यहां के कई नेताओं ने हनवारा को प्रखंड बनाने के लिए आवाजें उठाई। लेकिन अबतक इसका फलाफल नहीं मिला है। इस बाद यूपीए सरकार से आस बंधी है। गरीब और अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्र के लोग दिहाड़ी मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं। ऐसे में उन्हें 20 से 25 किलोमीटर की यात्रा कर के प्रखंड मुख्यालय तक मनरेगा में 100 दिनों का काम लेने के लिए चक्कर काटना पड़ता है। हनवारा क्षेत्र महागामा प्रखंड मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर की दूरी पर बसा हुआ है। अगर कोई मजदूर एक बार प्रखंड मुख्यालय पहुंचते हैं तो दोबारा जाने की उनकी हिम्मत नहीं होती हैं कि वो फिर से प्रखंड कार्यालय जा सकें। दस पंचायतों को मिलाकर बन सकता हनवारा प्रखंड : पूर्व में प्रशासनिक स्तर पर हनवारा प्रखंड के लिए दस पंचायतों को चिन्हित किया गया था। इसमें मुख्यालय हनवारा सहित महागामा प्रखंड की पंचायत कोयला, रामकोल, विश्वासखानी, गढ़ी, खोरद, कुशमहरा, परसा , नयानगर एवं दिग्घी पंचायत शामिल है। इन पंचायतों की दूरी महागामा से अधिक है। हनवारा में थाना की स्थापना भी इस उद्देश्य से एक दशक पूर्व की गई थी। महागामा क्षेत्र से इसबार कांग्रेस की दीपिका पांडेय सिंह को जनता ने जीता कर विधानसभा भेजा। राज्य में महागठबंधन की मजबूत सरकार भी बनी। पूर्व में दीपिका पांडेय सिंह जब कांग्रेस की जिलाध्यक्ष हुआ करती थीं तो उन्होंने हनवारा प्रखंड की मांग उठाई थी। अब जबकि महागामा विधायक के रूप में दीपिका पांडेय सिंह को यहां की जनता ने कुर्सी दी है तो उन्हें इसका मान रखना चाहिए। हनवारा को अलग प्रखंड का दर्जा दिलाना प्राथमिकता में शामिल है। कोरोना काल के कारण बीते एक साल से सरकार लोगों की जान बचाने और राहत पहुंचाने में लगी रही। फिर से कोरोना की दूसरी लहर शुरू हो गई है। महामारी को मात देने के बाद हनवारा को अलग प्रखंड का दर्जा दिलाया जाएगा। इसके लिए राज्य विधान सभा में मांग रखी गई है। - दीपिका पांडेय सिंह, विधायक, महागामा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.