राशन नहीं मिलने से नाराज उपभोक्ताओं का हंगामा

राशन नहीं मिलने से नाराज उपभोक्ताओं का हंगामा

खोरीमहुआ (गिरिडीह) विगत तीन माह से राशन नहीं मिलने से नाराज धनवार प्रखंड अंतर्गत बांधी

JagranFri, 26 Feb 2021 05:16 PM (IST)

खोरीमहुआ (गिरिडीह) : विगत तीन माह से राशन नहीं मिलने से नाराज धनवार प्रखंड अंतर्गत बांधी पंचायत के संतरायडीह की महिलाओं ने शुक्रवार को प्रखंड कार्यालय में जमकर हंगामा किया। दर्जनों महिलाओं ने राशन से वंचित रह जाने को लेकर अपना आक्रोश व्यक्त करते हुए एमओ से राशन दिलाने की मांग की। गिरजा देवी, सुनयना देवी, रीना वर्मा, रेणु देवी, गुड़वा देवी, सुनीता देवी, मेघनी देवी, गायत्री देवी, अनिता देवी, सुकनी देवी, मुंद्रिका देवी, सुकरी देवी, मंजू देवी सहित दर्जनों की संख्या में उपस्थित महिलाओं ने बताया कि वे गरीब परिवार से हैं। मेहनत मजदूरी करके परिवार का भरण-पोषण करती हैं। विगत तीन माह से राशन व किरासन नहीं मिलने से उनके समक्ष भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है। कई बार जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों से राशन के लिए गुहार लगाई, लेकिन किसी ने भी उनकी मजबूरी नहीं समझी और न कोई कदम उठाया। डीलर से जब इसकी जानकारी मांगने जाती हैं तो वह भी भड़क उठता है। राशन कार्ड रद करवा देने की धमकी देता है। थककर प्रखंड मुख्यालय स्थित एमओ कार्यालय के समक्ष राशन कार्ड के लिए वे प्रदर्शन कर रही हैं। पहले वे सभी चादगर स्थित गीतांजलि एसएस सहायता समूह से राशन लेती थीं जहां वे सभी संतुष्ट थीं। लॉकडाउन के दौरान भी उसने पूरी ईमानदारी से राशन बांटा। जब से गांव में जागृति एसएचजी नामक नई पीडीएस दुकान खुली है तब से नियमित रूप से राशन वे नहीं ले पा रही हैं। गांव के नए दुकानदार पर महिलाओं ने आरोप लगाया कि नवंबर और दिसंबर का राशन उसने बांटा ही नहीं है जबकि डीलर ने गोदाम से राशन उठा भी लिया है। चना वितरण में भी उसने मनमानी की है। एक किलो के हिसाब से प्रति लाभुकों के बीच चना वितरण किया जाना था पर दो माह में एक ही बार लाभुकों के बीच चना का वितरण किया गया, वह भी नौ सौ ग्राम करके ही बांटा गया। महिलाओं ने एमओ से इसकी शिकायत की कि अब वे गांव के नए डीलर से कभी राशन नहीं लेंगी। उसका आचरण भी ठीक नहीं है। महिलाओं ने एमओ से मांग की है कि उसका राशन कार्ड पुन: चादगर स्थित गीतांजलि स्वयं सहायता समूह के यहां स्थानांतरण कर दिया जाए। एमओ जीतवाहन उरांव ने महिलाओं को भरोसा दिया है कि जितने भी माह का राशन उन्हें नहीं मिला है उसे दिलवाने के साथ उसके राशन कार्ड को भी पुरानी दुकान के यहां स्थानांतरण करवा देंगे।

इस बाबत गांव के जागृति एसएच जी की अध्यक्ष रिकू देवी के पति सह दुकान के संचालक शंकर रजक से जब स्थानीय पत्रकारों ने उसका पक्ष जानने की कोशिश की तो वह भड़क उठा और कोई जवाब दिए बगैर उल्टा पत्रकारों से ही सवाल करने की हैसियत पूछ डाली। अंत में संचालक शंकर रजक ने यह भी कहा कि पत्रकारों के सवाल का जवाब देना भी वह जरूरी नहीं समझते।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.