हड़कतोड़िया गांव में 6 परिवारों को सार्वजनिक काली पूजा समारोह में शामिल होने से रोकने पर तनाव

हड़कतोड़िया गांव के लोगों द्वारा सरकारी योजनाओं में बाधा डालने के चलते छह परिवारों को सार्वजनिक पूजा करने से रोक दिया है।

JagranFri, 03 Dec 2021 08:08 PM (IST)
हड़कतोड़िया गांव में 6 परिवारों को सार्वजनिक काली पूजा समारोह में शामिल होने से रोकने पर तनाव

संस, निरसा : हड़कतोड़िया गांव के लोगों द्वारा सरकारी योजनाओं में बाधा डालने एवं गांव के विकास में अड़ंगा डालने के कारण 6 परिवारों को वार्षिक अगहन काली पूजा समारोह में शामिल होने से रोक दिया। यह निर्णय गांव के सोलहआना कमेटी के सदस्यों ने लिया। इसके विरोध में वार्षिक पूजा से अलग किए गए लोगों ने एसडीएम, निरसा सीओ, बीडीओ एवं एमपीएल ओपी प्रभारी से शिकायत की है।

एमपीएल ओपी प्रभारी वसीम अनवर खान शुक्रवार को गांव पहुंचे और ग्रामीणों के साथ वार्ता की।

पुलिस ने कहा कि शुक्रवार की रात्रि में अगहन काली पूजा गांव के सभी लोग करेंगे तथा शनिवार की सुबह गांव के 6 परिवार रोहन मंडल, रामपदो मंडल, माखन मंडल, अनंतो मंडल, दशरथ मंडल एवं धरनी मंडल पूजा करेंगे। उन्हें गांववालों ने सार्वजनिक काली पूजा में शामिल होने से रोक दिया है। दूसरी ओर विधि व्यवस्था न बिगड़े तथा शांति पूर्वक पूजा संपन्न हो इसे लेकर एसडीएम द्वारा मनरेगा के जेई सुनील यादव को दंडाधिकारी के रूप में गांव में प्रतिनियुक्त किया है। मामले की सूचना पाकर रात्रि में निरसा बीडीओ विकास कुमार राय पहुंचे तथा लोगों से शांतिपूर्वक काली पूजा मनाने का आग्रह किया। गांव में स्थिति तनावपूर्ण है।

ग्रामीण अमलचंद्र दास, विमल मंडल, हराधन सिंह, नेपाल मंडल, धन्नू बाउरी, पवन मंडल आदि ने बताया कि रोहन मंडल, रामपदो मंडल, माखन मंडल, अनंतो मंडल, दशरथ मंडल एवं धरनी मंडल सरकारी योजनाओं में बाधा डालने का काम करते हैं। सार्वजनिक सामुदायिक भवन एवं चापाकल आदि पर ये लोग कब्जा जमा कर बैठे हैं। गांव में सोलहआना की बैठक हुई। उसमें इन लोगों ने गांव के लोगों को गाली देनी शुरू कर दी। पिछले वर्ष भी ग्रामीणों ने काली पूजा रात में सार्वजनिक रूप से की जबकि उपरोक्त परिवार के लोगों ने सुबह पूजा की। सार्वजनिक तालाब, मंदिर, स्कूल आदि का इस्तेमाल करने पर कोई रोक नहीं है।

दूसरी ओर माखन मंडल के बेटे परितोष मंडल का कहना है कि सरकारी योजनाओं का गलत तरीके से कुछ लोग लाभ लेना चाहते हैं। इसका हम लोग विरोध करते हैं। इसके कारण सभी लोगों ने हम लोगों को सार्वजनिक काली पूजा कार्यक्रम से बाहर कर दिया है। हमलोग इसके विरोध में कानूनी लड़ाई लड़ने को तैयार हैं।

--------------

ग्रामीणों के बीच मतभेद के कारण ऐसी स्थिति उत्पन्न हुई है। प्रशासन यहां पर रात्रि में कैंप करेगी। पूजा के बाद पूरे मामले की जांच कर विचार किया जाएगा।

विकास कुमार राय, निरसा बीडीओ

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.