मुख्यमंत्री से बात हुई है, झारखंड में भी होगा लागू 27 फीसद ओबीसी आरक्षण

शनिवार को धनबाद में जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से आयोजित सम्मान सह अभिनंदन समारोह में पहुंचे प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि वे न विधायक हैं और न मंत्री एक सामान्य कार्यकर्ता हैं और यहां तक पहुंचे।

JagranSat, 25 Sep 2021 09:37 PM (IST)
मुख्यमंत्री से बात हुई है, झारखंड में भी होगा लागू 27 फीसद ओबीसी आरक्षण

धनबाद : शनिवार को धनबाद में जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से आयोजित सम्मान सह अभिनंदन समारोह में पहुंचे प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि वे न विधायक हैं और न मंत्री, एक सामान्य कार्यकर्ता हैं और यहां तक पहुंचे। इसलिए आप सभी के हित की बात करेंगे। मुख्यमंत्री से बात हुई है, झारखंड में भी 27 फीसद ओबीसी आरक्षण लागू होगा। इस पर मुख्यमंत्री विचार कर रहे हैं।

जब अलग-अलग पार्टी के लोग गठबंधन की सरकार बनाते हैं तो विरोधाभासी चीजें भी होती हैं। सरकार हमारी है तो विरोध भी हमारा होगा। नाराजगी भी हमारी होगी और खुशियां भी हमारी होंगी। किसी को चिता करने की जरूरत नहीं है। हम झूठ नहीं बोलते और जो बोलते हैं वह करके दिखाते हैं। सात साल से मोदी सरकार है, क्या बदलाव कर दिया। झारखंड में भी डबल इंजन की सरकार थी, कुछ नहीं हुआ। धनबाद को सबसे अधिक बर्बाद पूर्व की सरकार ने किया। किसी ने पान चबाकर धनबाद को बेच दिया तो किसी ने रेल, भेल, कोयला बेचकर बर्बाद कर दिया। ऐसे लोगों से निजात पाने की आवश्यकता है। हमारी गठबंधन की सरकार संजीदा है और हर मुद्दे पर काम कर रही है। प्रधानमंत्री की तरह हमारे मुख्यमंत्री तानाशाह नहीं हैं। हर चीज का वक्त होता है। सही वक्त पर झारखंड के लोगों को हर सुविधा मिलेगी। जहां जनता के हित की बात होगी और अगर उन्हें अपनी सरकार के विरोध में भी खड़ा होना पड़े तो खड़े होंगे। जातिगत जनगणना को लेकर रविवार को गृहमंत्री अमित शाह से हमारी मुलाकात होगी। बहुत सी चीजें साफ हो जाएंगी। झारखंड से इतने सांसद चुनकर पहुंचे हैं, लेकिन किसी ने भी झारखंड हित की बात नहीं उठाई। कांग्रेस पार्टी का ही बनेगा मेयर, एक उम्मीदवार पर होगी सहमति :

प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जलेश्वर महतो ने नगर निगम चुनाव में कांग्रेस दावेदारी पर स्थिति स्पष्ट कर दी है। सम्मान समारोह में उन्होंने कहा बहुत से लोगों में मेयर बनने की ख्वाहिश है। तैयारी भी कर रहे होंगे। लेकिन त्याग कीजिए, क्योंकि त्याग का फल मीठा होता है। कांग्रेस पार्टी का ही मेयर बनना चाहिए, इसलिए कांग्रेस पार्टी किसी एक योग्य उम्मीदवार पर दांव खेलेगी। इसके लिए प्रदेश अध्यक्ष और अन्य पदाधिकारियों से चर्चा की जा रही है। बन्ना ने लूट ली महफिल : 16 मिनट के अपने ओजस्वी भाषण में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने महफिल लूट ली। हिदी, उर्दू, मगही, भोजपुरी में मुहावरे बोलकर यह बताने का प्रयास किया कि कांग्रेस पार्टी सभी की हितैषी है। किसी एक वर्ग धर्म समुदाय की पार्टी नहीं है। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि हिदू-मुस्लिम के नाम पर मोदी सरकार भाईचारे को खत्म कर रही है। सड़क पर श्रीराम बोलने से या मंदिर में पूजा अर्चना करने से श्रीराम उनके नहीं हो जाएंगे। प्रभु श्रीराम हमारे दिल में हैं। कांग्रेस पार्टी के लिए सभी धर्म, जाति, समुदाय समान है। न तो मैं हिदू हूं न मुसलमान हूं मैं सिर्फ एक इंसान हूं। सिर्फ इंसानियत की भाषा जानता हूं। बिगड़े बोल :

बातों ही बातों में प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने देश के एक प्रतिष्ठित औद्योगिक घराने के खिलाफ विवादित टिप्पणी कर दी। इसमें केंद्र की सत्तारूढ़ पार्टी को भी कटघरे में खड़ा कर दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.