Sawan 2021: बाबा बैद्यनाथ को जलाभिषेक करने के लिए देवघर आने का बना रहे प्लान तो यह खबर पढ़ लें, परेशानी से मिलेगी मुक्ति

देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ मंदिर के आस-पास श्रद्धालुओं की भीड़ एकत्रित ना होने पाए एवं कोरोना संक्रमण के संभावित प्रसार के रोकथाम हेतु विभिन्न स्थानों पर ड्राप गेट बैरियर लगाकर पाली वार दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों व पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति तीन पालियों में की गई है।

MritunjaySat, 24 Jul 2021 05:55 PM (IST)
देवघर का बाबा बैद्यनाथ मंदिर ( फाइल फोटो)।

जागरण संवाददाता, देवघर। श्रावणी मेला नहीं लगने के कारण देवघर में तीर्थयात्रियों को प्रवेश नहीं मिलेगा। विधि व्यवस्था और सुरक्षा पर उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने आला अधिकारियों संग बैठक के बाद कहा कि शनिवार से सीमा पर लगे चेक पोस्ट एवं मंदिर के आसपास उडऩ दस्ता दल की प्रतिनियुक्ति की जा रही है। कोरोना की संभावित तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए भारत सरकार व राज्य सरकार के आदेशानुसार अभी मंदिर प्रांगण में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर पूर्णत: रोक है। श्रावणी मेला नहीं लगने की स्थिति में विधि-व्यवस्था व सुरक्षा व्यवस्था को आपसी समन्वय के साथ और भी सु²ढ़ करना होगा। सीमावर्ती इलाकों में बने चेक पोस्ट पर दंडाधिकारी एवं सुरक्षा कर्मियों की शनिवार से तैनाती की जाएगी। मंदिर के आस-पास व रूट लाइन में उडऩदस्ता दल रहेंगे। उपायुक्त ने कहा कि प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी व पुलिस फोर्स चौबीस घंटा सक्रिय मोड में टीम को अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमणशील रखेंगे। आवश्यकतानुसार सुरक्षा बलों की संख्या और भी बढ़ाई जाएगी, ताकि कोई भी बाहरी वाहन या बाहर से पूजा-पाठ करने किसी श्रद्धालु को मंदिर परिसर के आस-पास न जाने दिया जाय। कहा कि कोरोना संक्रमण के रोकथाम को लेकर अभी मंदिर परिसर में आम श्रद्धालुओं का प्रवेश पूर्णत: निषिद्ध है।

ड्राप गेट व बैरियर लगाकर पालीवार प्रतिनियुक्ति

ऐसे में बाबा मंदिर के आस-पास श्रद्धालुओं की भीड़ एकत्रित ना होने पाए एवं कोरोना संक्रमण के संभावित प्रसार के रोकथाम हेतु विभिन्न स्थानों पर ड्राप गेट, बैरियर लगाकर पाली वार दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों व पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति तीन पालियों में की गई है, ताकि लोगों को मंदिर व शिवगंगा के आस-पास इक_ा होने से रोका जा सके। 

वाहनों को रोकने के लिए होगा त्रिस्तरीय सुरक्षा चक्र

जिलावासियों की सुरक्षा व्यवस्था को त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरा का इंतजाम रहेगा। इससे बड़े वाहनों को मंदिर के आस-पास के क्षेत्रों में प्रवेश की इजाजत नहीं दी जाएगी। दूसरे प्रांतों से आने वाले वाहनों को बाहर-बाहर ही उनके गंतव्य स्थान तक भेजने की व्यवस्था होगी। तीसरी कड़ी मंदिर व आस-पास के क्षेत्रों की सुरक्षा व्यवस्था को और भी मजबूत बनाया जाएगा। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण में जिलावासियों ने अब तक जिस प्रकार जिला प्रशासन का सहयोग किया है वह तारीफ योग्य है। उपायुक्त ने भरोसा जताया कि आगे भी जनता का पूरा पूरा सहयोग मिलता रहेगा। 

देवतुल्य श्रद्धालुओं से विनम्रता से करें बात

उपायुक्त ने अधिकारियों से कहा कि कर्तव्य निभाने वाले इस बात का हमेशा ख्याल रखेंगे कि देवतुल्य भक्तों के साथ विनम्रता से पेश आना है। उनको समझाकर उनके गंतव्य तक भेज देना है। प्रचार प्रसार के बाबत कहा कि सीमावर्ती इलाकों, बस स्टैंड, होटल, धर्मशाला, सार्वजनिक स्थल व रेलवे स्टेशनों पर भी बैनर पास्टर का उपयोग करते हुए व्यापक प्रचार-प्रसार की व्यवस्था करें।

रूटलाइन से जुड़े थाना को मिला अतिरिक्त फोर्स

बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक धनंजय कुमार ङ्क्षसह द्वारा जानकारी दी गयी कि संबंधित विभिन्न थानों को अतिरिक्त पुलिस फोर्स दिया गया है, ताकि किसी भी आपात स्थिति से त्वरित निपटा जा सके। कहा कि प्रतिनियुक्त सभी पुलिस पदाधिकारियों व पुलिस के जवानों को ब्री्रफ करते हुए चिन्हित स्थलों पर शनिवार से प्रतिनियुक्त कर दिया जाएगा। छह पेट्रोङ्क्षलग टीम चौबीस घंटा क्षेत्रों में सक्रिय रहेगी, ताकि किसी भी विशेष परिस्थिति से निपटा जा सके। बैठक में उप विकास आयुक्त संजय सिन्हा, नगर आयुक्त शैलेन्द्र कुमार लाल, अपर समाहर्ता चन्द्रभूषण प्रसाद ङ्क्षसह, अनुमंडल पदाधिकारी सह प्रभारी बाबा बैद्यनाथ मंदिर दिनेश कुमार यादव, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पवन कुमार व सभी संबंधित विभाग के पदाधिकारी मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.