दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Dhanbad Crime News: कुसुम विहार Sheela मर्डर केस का खुलासा; पत्‍नी व दोस्‍त के साथ म‍िलकर भाड़ेदार ने की थी हत्‍या

बीएसएनएल के एक पूर्व एसडीओ सतीश चंद्र प्रसाद सिन्हा के पत्नी शीला सिन्हा की हत्या। (फाइल फोटो)

बीएसएनएल के एक पूर्व एसडीओ सतीश चंद्र प्रसाद सिन्हा के पत्नी शीला सिन्हा की हत्या। उनके घर के किरायेदार राजकुमार सिंह तथा उसकी पत्नी अर्पणा सिंह ने रवि कुमार साहू नामक युवक के साथ मिलकर किया। रवि कुमार साहू को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

Atul SinghWed, 12 May 2021 11:56 AM (IST)

धनबाद, जेएनएन : राजकुमार की पत्नी का फोन और शीला की डायरी ने हत्या का राज खोल द‍िया। एएसपी मनोज स्वर्गीयारी के गेम ने हत्यारों को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया । कुसुम विहार में बुुजुर्ग शीला सिन्हा की हुई हत्या के मामले में भाड़ेदार राजकुमार सिंह, उसकी पत्नी और एक मित्र रवि साहू पुलिस गिरफ्त में आ चुके हैं। इन्होंने अपने मकान मालकिन की हत्या क्यों की इसका राज अब खुला है। मकान पर कब्जा करने और भाड़ा नहीं देना पड़े इसको लेकर राजकुमार ने पूरा गेम प्लान किया, लेकिन एएसपी विधि व्यवस्था मनोज स्वर्गीयारी के गेम के सामने इनका खेल फेल हो गया। विवाद के कारणों को लेकर शीला सिन्हा की डायरी ने भी पोल खोल दिया।

घर की तलाशी लेने के दौरान पुलिस को एक डायरी मिली है। इस डायरी पर मकान का भाड़ा देने वालों का हिसाब किताब लिखा हुआ है। इस डायरी से पता चलता है कि राजकुमार सिंह लगातार भाड़ा नहीं दे रहा था। कभी कभार कुछ पैसा शीला सिन्हा को दे दिया करता था। भाड़ा को लेकर ही आए दिन राजकुमार और उसकी पत्नी से शीला सिन्हा और भिलाई में रहने वाली उनकी बेटी से लगातार झगड़ा हो रहा था। राजकुमार सिंह का प्लान यह था कि शीला की हत्या के बाद उसकी यह प्रोपर्टी उसके कब्जे में आ जाएगी। वह इसका अंडर टेकर हो जाएगा। क्योंकि शीला की बेटी-दमाद और बेटा सभी बाहर रहते हैं यहां देखने वाला कोई नहीं।

तीन दिन पहले भी हुआ था झगड़ा : पुलिस की मानें तो तीन दिन पहले ही शीला सिन्हा के साथ राजकुमार और उसकी पत्नी का झगड़ा हुआ था। गाली ग्लौज भी हुई थी। शीला ने राजकुमार सिंह को मकान खाली करने की बात कही थी। इसी बात को लेकर भी दोनों में ठन गई थी। मामले की जानकारी मिलने पर शीला सिन्हा की बेटी ने भी फोन पर ही राजकुमार सिंह को काफी कुछ कहा था।

राजकुमार की पत्नी का फोन खाेल दिया पोल : घटना की रात एएसपी विधि व्यवस्था मनोज स्वर्गीयारी मामले की जांच कर रहे थे। इस दौरान पुलिस राजकुमार सिंह से ऐसे ही पूछताछ कर रही थी। इसी बीच राजकुमार की पत्नी का फोन आया। पुलिस ने राजकुमार को स्पीकर ऑन कर बात करने को कहा। राजकुमार ने जैसे ही फोन उठाया उसकी पत्नी ने कहा कि पुलिस से डरने की जरुरत नहीं है। जो बातें तय हुई है वही बताओ। पत्नी ने कहा कि पुलिस चाहे जो कुछ भी करे जुबान नहीं खोलना। इसी बातचीत के दौरान पुलिस को राजकुमार के साथी रवि साहू के कांड में शामिल होने की जानकारी मिली थी।

पूरी प्लानिंग से घटना को दिया अंजाम : घटना को अंजाम देने के लिए राजकुमार और उसकी पत्नी ने पूरी प्लानिंग की थी। प्लानिंग के तहत ही तीनों ने हाथ मे दस्ताना पहन कर घटना को अंजाम दिया। पूछताछ के दौरान राजकुमार सिंह ने पुलिस को कहा था कि उनके फिंगर प्रिंट का मिलान कर लिया जाए। राजकुमार फिंगर प्रिंट का मिलान करने की बात पुलिस को बार-बार कह रहा था। रवि साहू के ब्यान से यह खुलास हुआ कि सभी ने घटना को अंजाम देते वक्त दस्ताने पहन रखे थे।

बीएसएनएल के एक पूर्व एसडीओ सतीश चंद्र प्रसाद सिन्हा के पत्नी शीला सिन्हा की हत्या। उनके घर के किरायेदार राजकुमार सिंह तथा उसकी पत्नी अर्पणा सिंह ने रवि कुमार साहू नामक युवक के साथ मिलकर किया। रवि कुमार साहू को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

 रवि कुमार साहू ने अपने बयान में सुरक्षागार्ड राजकुमार तथा उसकी पत्नी के पोलपट्टी खोल दी है।  रवि कुमार साहू ने पुलिस को बताया है कि घटना के दिन पांच बजे शाम में फोन कर राजकुमार ने बुलाया था। साढ़े छह बजे के करीब वहां आया घर में घुस गया। इस दौरान मेन गेट का अंदरवाला दरबाजा बंद किए।

 उस वक्त शीला सिन्हा पूजा रूम में थी। जैसे ही निकली उसे पकड़े कर बेलन से मारा। वह बेहोश हो गई। उसके बाद राजकुमार व उसकी पत्नी अलमारी खोला और सारा सामान सर्च किया। फिर घर की चाकू से राजकुमार ने शीला सिन्हा की हत्या कर दी। रवि साहू ने यह भी पुलिस को बताया है कि रहै कि राजकुमार उसे इस काम देकर बुलाया था। उसका कहना था कि अगर वह उसका कहना नहीं मानेगा तो वह उसकी पत्नी बच्चा की भी हत्या कर देगा। पुलिस रवि कुमार साहू के बयान का सत्यापन भी कर रही हैे। फिलहाल राजकुमार उसकी पत्नी तथा रवि साहू को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

शीला सिन्हा की हत्या कर पुलिस को झूठ बोल रही थी हत्यारोपी राजकुमार की पत्नी

शीला सिन्हा की हत्या करने के बाद पुलिस को बरगलाने के लिए राजकुमार की पत्नी झूठ बोल रही थी। उसने पुलिस को झूठा बयान दिया था कि रात साढ़े नौ बजे के करीब शीला सिन्हा से उसका गेट में ताला लगाने को लेकर बातचीत हुई थी। जबकि शीला सिन्हा की हत्या वह पहले ही कर चुकी थी। शीला सिन्हा के घर से नगद व जेवरात भी चोरी होने की बात कही जा रही है, पर कितना नगद व जेवरात चोरी हुई। इसका स्पष्ट जानकारी पुलिस को नहीं मिल पाई है। पुलिस ने राजकुमार का खून लगा टीशर्ट भी बरामद कर लिया है। जिसे पहनकर वह घटना को अंजाम दिया था। दरअसल कपड़े में लगे खून साफ करने की भी कोशिश राजकुमार ने थी। यहां तक की जिस चाकू से शीला सिन्हा की हत्या हुई थी खून लगा वह चाकू भी पुलिस के हाथ लग चुका है। पुलिस इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझा चुकी है। हत्या का कारण भी पुलिस को पता चल गया है। रवि साहू ने हत्या में राजकुमार की मदद क्यों कि इसको लेकर पुलिस बिंदु पड़ताल कर पुलिस सत्यापन कर रही है। फिलहाल तीनों को जेल भेजने से पूर्व पुलिस कागजी प्रक्रिया पूरी करने में जुटी है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.