Jharkhand Mining Department: कोयला चोरी रोकेगा वाहन ट्रेकिंग डिवाइस, इसके बिना नहीं मिलेगा माइनिंग चालान

Jharkhand Mining Department लीज धारकों एवं आउट साइड परिवहन कर्ता को भी इस डिवाइस का इस्तेमाल करना पड़ेगा। इसकी अवधि तीन वर्ष होगी। वही विभाग ने कुल 8 वेंडरों को इसके लिये रजिस्टर किया है। उस कंपनी के डिवाइस लेने के बाद ही यह मान्य होगी।

MritunjayTue, 07 Dec 2021 02:57 PM (IST)
कोयला परिहवन में लगे वाहनों में लगाना होगा वाहन ट्रेकिंग डिवाइस।

संजय बर्मन, पंचेत। झारखंड खनन विभाग के वाहन ट्रेकिंग डिवाइस नही लिया तो अब परियोजना में कोयला उठाव का खनन चालान विभाग जारी नही करेगा।इसको लेकर विभाग ने बीसीसीएल प्रबंधन को ताकीद कर दिया है। झारखंड खनन एवं भूतल विभाग ने प्रिवेंट ऑफ इलीगल माइनिंग ट्रांसपोर्ट एवं स्टोरेज को रोकने के लिये सभी कैरिंग वैकेल में जीपीएस वाहन ट्रैकिंग डिवाइस लगाने की अनुशंसा की गई है। ताकि सरकार के राजस्व की चोरी रोका जा सके। खनन विभाग के निदेशक के द्वारा जारी आदेश को सभी जिला के खनन अधिकारियों को दे दिया गया है। इसमें डीओ ट्रकों में कोयला के जाने वालों के साथ बीसीसीएल के वैसे वाहन भी शामिल होंगे जो खनन परियोजना से सीधे रेलवे साइडिंग तक कोयला परिवहन करते है।

लीज धारकों एवं आउट साइड परिवहन कर्ता को भी इस डिवाइस का इस्तेमाल करना पड़ेगा। इसकी अवधि तीन वर्ष होगी।वही विभाग ने कुल 8 वेंडरों को इसके लिये रजिस्टर किया है। उस कंपनी के डिवाइस लेने के बाद ही यह मान्य होगी। सरकार द्वारा आदेश के पालन नही करने पर माइनिंग विभाग आगे। माइनिंग चालान उपलब्ध नही कराने की बात कही है। खनन एवं भूतल विभाग के इस आशाय का आदेश पत्र जारी किया है। जानकारी हो कि पहले बीसीसीएल, एमपीएल, डीवीसी एवं एनटीपीसी अपना जीपीएस परिवहन कंपनियों को उपलब्ध कराती थी। ऐसी व्यवस्था सिर्फ कैप्टिव माइंस के लिये था। लेकिन वैसे परिवहन कर्ता जो थोड़े समय के लिये परिवहन का ठेका लेगी।उसके लिये परेशानी का सबब बन सकता है। वही अब ट्रांसपोटिंग के एनआईटी में भी इसका कंपनियों को जिक्र करना होगा कि इसका देनदार कौन होगा।

डिवाइस के लिये रजिस्टर कंपनियां बिट्स एंड बाइट्स सॉफ्ट प्राइवेट टीएनटी , जनरल वाई वेंचर्स प्राइवेट I -ट्राएंगल इन्फोटेक प्राइवेट , पोनाडियो कॉम लिमिटेड , निप्पॉन ऑडियोट्रोनिक्स प्रा। लिमिटेड, रोडपॉइंट लिमिटेड वोल्टी लॉट सॉल्यूशंस प्रा।अटलांटा सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड उपरोक्त उपकरणों के ऊपर दिए गए मूल्य मॉडल के अनुरुप तय की गयी है।

क्या कहते है अधिकारी

बीसीसीएल के क्षेत्रीय विक्रय अधिकारी सम्राट चक्रवर्ती का कहना है कि इसको लेकर जिला खनन अधिकारी से सोमवार को वार्ता हुई है। उन्होंने हर हाल में डिवाइस लगाने की बात कही है अन्यथा माइनिंग चालान नही देने की बात कही है। विभाग से कंपनी के वहनों के लिये समय मांगा गया था। फोटो

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.