टुंडी में जंगली मशरूम चुनने गई महिला को हाथी ने कुचलकर मार डाला

टुंडी टुंडी के मनियाडीह थाना क्षेत्र अवस्थित पलमा बस्तीकुल्ही जंगल में शुक्रवार को खुखड़ी (मशरूम) चुनने गई महिला व पुरुषों पर झुंड से बिछड़े दो हाथियों ने एक महिला को कुचलकर मार डाला। वन विभाग के मशालची टीम व ग्रामीणों को घंटों मशक्कत के बाद महिला का शव बुरी हालात में बीच जंगल में मिला।

JagranFri, 23 Jul 2021 09:53 PM (IST)
टुंडी में जंगली मशरूम चुनने गई महिला को हाथी ने कुचलकर मार डाला

संवाद सहयोगी, टुंडी : टुंडी के मनियाडीह थाना क्षेत्र अवस्थित पलमा बस्तीकुल्ही जंगल में शुक्रवार को खुखड़ी (मशरूम) चुनने गई महिला व पुरुषों पर झुंड से बिछड़े दो हाथियों ने एक महिला को कुचलकर मार डाला। वन विभाग के मशालची टीम व ग्रामीणों को घंटों मशक्कत के बाद महिला का शव बुरी हालात में बीच जंगल में मिला।

जानकारी के अनुसार शुक्रवार को लगभग 11 बजे पलमा गांव के कुछ ग्रामीण मशरूम चुनने के लिए जंगल में गए थे। इसी बीच अचानक दो हाथी महिलाओं को दिखा। हाथियों को देखते ही ग्रामीण अपनी जान बचाकर इधर-उधर भागने लगे। सभी जब भागते हुए गांव मे पहुंचे, लेकिन बिनी लाल बेसरा की 50 वर्षीय पत्नी फुकु मंझियान घर नहीं पहुंची। लगभग तीन घंटा बीत जाने के बाद जब वह घर नहीं आई तो ग्रामीण खोजने निकले। इस बीच जिप सदस्य रायमुनी देवी ने वन विभाग को सूचित किया। सूचना पाकर वन विभाग की मशालची टीम के साथ गांव प्रधान मथुरा मुर्मू व वन समिति के अध्यक्ष पलमा पहुंचे। इसके बाद वन विभाग, पलमा व बस्तीकुल्ही के ग्रामीणों की टीम फुकु मंझियान को खोजने लगी। घंटों मशक्कत के बाद शाम को उसकी लाश मिली। जंगल खुखड़ी चुनने गए ग्रामीणों के दल में पानमुनी देवी, लीलमुनी देवी, जमीन बेजरा, रणधीर मुर्मू आदि थे। इस घटना के बाद पहाड़ की तलहटी पर बसे गांव के ग्रामीण रतजगा करने को विवश हैं। अभी दो हाथी पारसबनी व तीन हाथी पलमा बस्तीकुल्ही जंगल में मौजूद हैं।

तोपचांची रेंजर अजय कुमार मंजुल के अनुसार 22 हाथियों के झुंड में 17 गिरिडीह जिले में प्रवेश कर गए हैं। पांच हाथी दो गुट में बंटकर टुंडी व तोपचांची रेंज में हैं। इसी में से एक गुट ने घटना को अंजाम दिया है। शनिवार को शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाएगा। मृतक के स्वजनों को आंशिक मुआवजा भी दिया जाएगा। वन विभाग ने मृत महिला के स्वजनों को पांच हजार रुपये की तत्काल सहायता प्रदान की है। महिला के चार पुत्र व तीन पुत्रियां है। 30 प्रशिक्षित मशालचियों ने किया कैंप :

टुंडी रेंजर विनोद ठाकुर ने कहा कि दो हाथी टुंडी रेंज के पारसबनी व तीन हाथियों ककेपलमा बस्तीकुल्ही में होने के संकेत मिले हैं। दोनों रेंज की तरफ से 30 प्रशिक्षित मशालची उस स्थान के आसपास कैंप किए हुए हैं। पहाड़ से उतरते ही मशालची हाथियों को वापस पहाड़ पर चढ़ाने का प्रयास करेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.