Dhanbad: कलाकारों के बीच से हीरा को तलाशने का काम कर रहे है काला हीरा

कलाकारों को तलाशने का काम कर रहे है काला हीरा। विगत दो वर्षों के कोरोना काल के बाद काला हीरा ने बहुत ही हिम्मत के साथ यह आयोजन करने का बीड़ा उठाया है। जिसमें धनबाद के अलावा सात राज्यों से नाट्य मंडलीया एवं कलाकार धनबाद पहुंचे हैं।

Atul SinghFri, 24 Sep 2021 05:01 PM (IST)
कलाकारों को तलाशने का काम कर रहे है काला हीरा। (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

जासं, धनबाद: तीन दिवसीय पांचवी आल इंडिया सांस्कृतिक फेस्टिवल का काला हीरा की ओर से शुक्रवार को कम्युनिटी हाल सीसीडब्ल्यू धनबाद में आगाज किया गया। जिसका उद्घाटन विधायक राज सिन्हा ने दीप प्रज्वलित कर किया। उद्घाटन समारोह में राजेंद्र प्रसाद डायरेक्टर सांस्कृतिक प्रशिक्षण केंद्र, महेश मोदी, अवधेश कुमार सिंह एआईटीसी, अशोक मेहरा वाइस प्रेसिडेंट एआईटीसी, सतीश कुंदन जनरल सेक्रेटरी एआईटीसी, सरसी चंद्रा प्रिंसिपल सांस्कृतिक परिषद केंद्र, अशोक मानव द क्लब इंडिया डायरेक्टर, संतोष रजक उपस्थित थे। विधायक राज सिन्हा ने कहा कि धनबाद को माफियाओं के नाम से जाना जाता है। लेकिन काला हीरा ने इस आयोजन कर एक अलग ही पहचान धनबाद को दी है।

 कलाकारों को तलाशने का काम कर रहे है काला हीरा। विगत दो वर्षों के कोरोना काल के बाद काला हीरा ने बहुत ही हिम्मत के साथ यह आयोजन करने का बीड़ा उठाया है। जिसमें धनबाद के अलावा सात राज्यों से नाट्य मंडलीया एवं कलाकार धनबाद पहुंचे हैं। इस समय जो परिस्थितियां चल रही है। यह आयोजन एक दुस्साहस है। लेकिन यह कलाकारों के कला प्रदर्शन की पुन:प्रारंभ का श्रीगणेश किया है, जो बहुत प्रशंसनीय एवं सराहनीय प्रयास है। इस संस्था ने इस कशमकश घड़ी में आयोजन का बीड़ा उठाकर कलाकारों को आगे बढ़ने का प्रयास किया है। जो बेहद ही सराहनीय है। बताया गया कि आयोजक का सामंजस्य प्रयाग सांस्कृतिक समिति इलाहाबाद और आल इंडिया काउंसिल थिएटर का समर्थन प्राप्त है। विगत कई वर्षों से काला हीरा में धनबाद और पूरे देश के कलाकारों और नाट्य मंडली ने अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन दिखाकर मेडल पुरस्कार और सम्मान प्राप्त कर एक यादगार छाप छोड़ चुके हैं। कार्यक्रम के प्रथम दिन संस्कृति कंपटीशन बांग्ला ड्रामा, असुख हिंदी ड्रामा, खामोश अदालत जारी है बांग्ला ड्रामा, राजा गजब सिंह की दर्शनीय प्रस्तुति की गई।

काला हीरा के माध्यम से जिले के कलाकार देश विदेशों में बना सकते हैं अपनी पहचान

 काला हीरा के माध्यम से कलाकारों को निखारने तथा उन्हें देश विदेश में अपना परफार्मेंस के लिए मंच देने के लिए काला हीरा बेहतर प्लेटफार्म है। शहर के छोटे कलाकार इस प्लेटफार्म से अपना भविष्य बनाने में भी मदद साबित कर सकते हैं। धनबाद में शीघ्र ही एक बहुत बड़ा सांस्कृतिक महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। जिसमें देश के कलाकार शिरकत करेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.