JSCA: बोकारो में क्रिकेट स्टेडियम के लिए निकला एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट, सेल के साथ 25 को हो सकता करार

स्टेडियम में मुख्य मैदान के अलावा पवेलियन स्पेक्टर स्टैंड प्रैक्टिस स्पीच कार्यालय ड्रेसिंग रूम जनरेटर रूम के अलावा पंप हाउस चारदीवारी के साथ-साथ पार्किंग की व्यवस्था होगी। इसके अलावा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट क्लब हाउस स्टेडियम में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए आवास का भी निर्माण होगा।

MritunjaySat, 19 Jun 2021 11:59 AM (IST)
बोकारो में बनेगा क्रिकेट स्टेडिमय ( फाइल फोटो)।

बोकारो, जेएनएन। बोकारो में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनने का रास्ता लगभग साफ हो चुका है आगामी 25 जून को बोकारो स्टील प्रबंधन और झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन के बीच में सभी मुद्दों को लेकर करार होने की संभावना है। इससे पहले शुक्रवार को जेएससीए की सर्वेक्षण करने वाली टीम ने बालीडीह स्थित विस्थापित कॉलेज के समीप प्रस्तावित स्टेडियम स्थल का निरीक्षण किया । सर्वेक्षण टीम का विरोध करने पहुंचे लोगों को चास एसडीएम शशि प्रकाश सिंह ने समझाकर वहां से हटाया। लोगों का कहना है कि जमीन उनकी है। इस पर एसडीएम ने कहा कि जो भी दावा कर रहे हैं वे अपने कागजात प्रस्तुत करें। यदि उनका दावा सही है तो न्याय होगा। यदि गलत लोग दावा करेंगे तो कार्रवाई भी होगी। इसके बाद सर्वेक्षण टीम ने स्टेडियम के निर्माण के लिए बैटिंग व पैवेलियन का कोना तय किया । जिसके आधार पर स्टेडियम का नक्शा तैयार होगा।

वहीं क्रिकेट एसोसिएशन ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम ने एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट आमंत्रित किया है। जो कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के मानकों के अनुरूप क्रिकेट स्टेडियम बनाने की क्षमता रखता हो । क्रिकेट स्टेडियम 20 एकड़ भूमि पर 25000 दर्शकों की क्षमता वाला बनेगा।

क्या-क्या बनेगा क्रिकेट स्टेडियम में

स्टेडियम में मुख्य मैदान के अलावा, पवेलियन, स्पेक्टर, स्टैंड , प्रैक्टिस स्पीच, कार्यालय, ड्रेसिंग रूम जनरेटर रूम के अलावा पंप हाउस चारदीवारी के साथ-साथ पार्किंग की व्यवस्था होगी। इसके अलावा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट , क्लब हाउस, स्टेडियम में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए आवास का भी निर्माण किया जाएगा ।

राज्य का तीसरा क्रिकेट स्टेडियम होगा

राज्य में यह तीसरा क्रिकेट स्टेडियम होगा। यहां से पहले जमशेदपुर में किनन स्टेडियम के बाद रांची में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बना है। अब बोकारो में क्रिकेट स्टेडियम बनने जा रहा है। इसके बनने के साथ ही बोकारो इस्पात कारखाना के अतिरिक्त क्रिकेट को लेकर अंतरराष्ट्रीय मानचित्र पर आ जाएगा। जेएससीए ने सुविधाओं को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया है। बोकारो में हवाई अड्डे का काम पूरा हो चुका है। सितंबर माह में इसके चालू होने की संभावना है।

...स्थानीय लोग जता रहे हैं जमीन पर दावेदारी

क्रिकेट स्टेडियम की जमीन को लेकर नरकेरा पुनर्वास पंचायत के आदिवासियों ने अपनी दावेदारी की है। कहना था कि उनके पूर्वजों से बहुत कम मूल्य मिला है। इस्पात कारखाना के लिए जमीन लिया गया है। एक दर्ज लोगों को जमीन लिया गया है शेष भूमि का अधिग्रहण नहीं हुआ है। वर्तमान में नये अधिग्रहण नियम के तहत जमीन का बाजार दर पर मुआवजा मिलना चाहिए। चूंकि जमीन का भौतिक कब्जा सेल ने नहीं लिया है इसलिए यह रैयतों के जीविका साधन है। झामुमो नेता प्रदीप सोरेन का कहना था कि जहां अतिक्रमण हुआ है उसे हटाकर स्टेडियम का निर्माण होना चाहिए। जिला परिषद उपाध्यक्ष हीरालाल मांझी ने पहुंचकर लोगों को समझाया और एसडीएम से अपील किया किया कि रैयतों के कागजात की जांच कर उनके साथ न्याय किया जाय।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.