National Game Scam के आरोपित धनबाद नगर निगम के मुख्य अभियंता का निधन, पांच महीने से नहीं आ रहे थे दफ्तर

National Game Scam धनबाद नगर निगम के मुख्य अभियंता अजीत लुइस लकरा का निधन हो गया है। उनका एशियन जालान अस्पताल में इलजा चल रहा था। सोमवार को निधन हो गया। वह काफी दिनों से बीमार थे। दफ्तर नहीं आ रहे थे। राष्ट्रीय खेल घोटाले में आरोपित थे।

MritunjayMon, 30 Aug 2021 01:48 PM (IST)
धनबाद नगर निगम के मुख्य अभियंता अजीत लुइस लकड़ा ( फाइल फोटो)।

जागरण संवाददाता, धनबाद। धनबाद नगर निगम के चीफ इंजीनियर अजीत लुईस लकड़ा की सोमवार को हार्ट अटैक से मौत हो गई। जालान अस्पताल में एक दिन पहले रविवार को भर्ती कराया गया था। अजीत लकड़ा पिछले चार-पांच महीने से नगर निगम कार्यालय नहीं आ रहे थे। धनबाद में 2011 हुए नेशनल गेम्स घोटाले में चीफ इंजीनियर अजीत लकड़ा को भी आरोपित बनाया गया था। 10 साल बाद इसी वर्ष इनकी गिरफ्तारी के लिए आदेश भी जारी हुआ था। तब से चीफ इंजीनियर फरार चल रहे थे। 28.34 करोड़ के नेशनल गेम्स घोटाला मामले में नगर निगम के चीफ इंजीनियर अजित लुईस लकड़ा समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार करने का आदेश जारी हुआ था। लंबे अरसे बाद भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की विशेष अदालत से चारों आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर गैर जमानतीय वारंट प्राप्त किया था। अजीत लकड़ा की मौत की सूचना पर निगम के कई इंजीनियर अस्पताल पहुंचे। पुलिस भी मामले की पड़ताल करने मौके पर पहुंची।

यह है मामला

नेशनल गेम्स घोटाले को लेकर निगरानी कांड संख्या 49/10 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। जांच के दौरान अन्य आरोपितों की मिलीभगत सामने आयी थी। इसमें सेवानिवृत्त कल्याण पदाधिकारी सुविमल मुखोपाध्याय, नगर निगम धनबाद के चीफ इंजीनियर अजित लुईस लकड़ा, सेवानिवृत्त कार्यपालक अभियंता कैबिनेट (निगरानी) शुकदेव सुबोध गांधी एवं मोरहाबादी के हरिहर सिंह रोड निवासी हीरा लाल दास की मिलीभगत सामने आयी थी। इन सभी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हो चूका है। इन सभी पर गलत तरीके से सरकार के वित्तीय नियमों का दुरुपयोग करने एवं पद का दुरुपयोग करने का आरोप है। इससे पहले राष्ट्रीय खेल आयोजन समिति के महासचिव एसएम हाशमी और निदेशक रहे पीसी मिश्रा को गिरफ्तार किया गया था। कोषाध्यक्ष मधुकांत पाठक ने सरेंडर किया था। सभी जमानत पर हैं।

करोड़ों रुपए की खेल सामग्री हुई थी जब्त

घोटाले के खुलासे के समय करोड़ों रुपये की खेल सामग्री जब्त की गई थी। सभी सामान पैक मिले। असली के साथ-साथ नकली खेल सामग्री और उपकरण भी पाए गए थे। इसमें मैट, बास्केटबॉल, टेनिस बॉल, जेवलिन, हैमर, हर्डल, डिस्कस, शॉर्टपुट, म्यूजिक सिस्टम, साइकिल, शटल, बैडमिंटन, पांच सौ से अधिक तलवार, बैडमिंटन बुनने की मशीनें आदि शामिल थीं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.