Mahaparinirvan Diwas 2021: बाबा साहेब को देश के साथ धनबाद कर रहा याद, आंबेडकर मिशन ने दी श्रद्धांजलि

Mahaparinirvan Diwas 2021 डा. भीमराव राव आंबेडकर (बाबासाहेब आबंडेकर) की 65वीं पुण्यतिथि है। उनका निधन सन्न 1956 में 6 दिसंबर के दिन हुआ था। वो भारती बहुज्ञ विधिवेता अर्थशास्त्री राजनीतिज्ञ और समाजसुधारक के रूप में जाने जाते थे।

MritunjayMon, 06 Dec 2021 12:54 PM (IST)
बाबा साहेब को श्रद्धांजलि देने धनबाद के डीआरएम चाैक पर जुटे लोग ( फोटो जागरण)।

जागरण संवाददाता, धनबाद। भारतीय संविधान के मुख्य शिल्पकार डा. भीमराव रामजी आंबेडकर (बाबासाहेब आबंडेकर) की आज सोमवार को 65वीं पुण्यतिथि है। उनका निधन सन्न 1956 में 6 दिसंबर के दिन हुआ था। वो भारती बहुज्ञ, विधिवेता, अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ और समाजसुधारक के रूप में जाने जाते थे। पुण्यतिथि के अवसर पर बाबा साहेब को देश और झारखंड के साथ धनबाद भी याद कर रहा है। उन्हें याद करने और श्रद्धांजलि देने के लिए धनबाद में कई जगह कार्यक्रम आयोजित किए गए। इंटरनेट मीडिया के माध्यम से भी लोग श्रद्धांजलि दे रहे हैं। धनबाद के डीआरएम चाैक पर नेशनल फेडरेशन ऑफ अंबेडकर मिशन ने की तरफ से श्रद्धांजलि समारोह का आयोजन किया गया। इसमें बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया। 

सामाजिक भेदभाव मिटाने के लिए चलाया बड़ा अभियान

बाबासाहेब आंबेडकर ने दलित बौद्ध आंदोलन को प्रेरित किया था साथ ही अछूतों से सामाजिक भेदभाव के विरोध में बड़े अभियान की भी शुरुआत की थी। श्रमिकों से लेकर किसान और महिलाओं के अधिकार के वो लड़े भी थे और उनका जमकर समर्थन भी किया था। आंबेडकर ने अपना पूरा जीवन जातिवाद को खत्म करने, गरीबों, दलितों और पछिड़े वर्गों के लिए अर्पित किया था। इस कारण बाबा आंबेदकर की पुण्यतिथि को महापरिनिर्वाण दिवस के रूप में मनाया जाता है। 

विधायक राज और अनंत ने ट्वीट कर दी श्रद्धांजलि

भाजपा विधायक अनंत ओझा ने ट्वीट कर बाबा साहेब को श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने लिखा है-भारतीय संविधान के निर्माता, स्वतंत्र भारत के प्रथम कानून मंत्री, महान समाज सुधारक, भारत रत्न डा. भीमराव अंबेडकर को शत शत नमन। धनबाद के विधायक राज सिन्हा ने भी ट्विटर के माध्यम से बाबा साहेब को याद किया है।

माकपा ने मनाया सांप्रदायिकता विरोधी तथा भाईचारा रक्षा दिवस

भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) माकपा लोकल कमिटी धनबाद ने डीआरएम ऑफिस के सामने डा. भीमराव अंबेडकर के प्रतिमा पर फूल माला अर्पित करते हुए पुण्यतिथि को सांप्रदायिकता विरोधी तथा भाईचारे रक्षा दिवस के रूप में मनाया।  इससे पहले कार्यकर्ताओं ने डीआरएम आफिस के गेट के पास से जत्था निकाला, जो डा. अंबेडकर चौक पर पहुंच कर डॉ. भीमराव अंबेडकर के विशाल मूर्ति का परिक्रमा करते हुए कार्यकर्ताओं ने डा. भीमराव अंबेडकर अमर रहे।, बाबा भीमराव अंबेडकर के सपनों को मंजिल तक पहुंचाएंगे।, सांप्रदायिकता के खिलाफ और भाईचारे की रक्षा के लिए कौन लड़ेगा, हम लड़ेंगे- हम लड़ेंगे। संविधान की रक्षा कौन करेगा, हम करेंगे- हम करेंगे।, देश की रक्षा कौन करेगा, हम करेंगे- हम करेंगे। गगनभेदी नारे लगाने के साथ प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया।

इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि डाक्टर भीमराव अंबेडकर के पुण्यतिथि पर ही भाजपा एंड आर एस एस के लोगों ने विवादित बाबरी मस्जिद- राम मंदिर को विध्वंस कर देश को और संविधान को कलंकित किया था। यह बात देश की जनता को नहीं भूलना चाहिए। हमें बाबा भीमराव अंबेडकर को याद करते हुए, सांप्रदायिकता जैसी काली ताकतों को परास्त करने के लिए संकल्प लेना होगा। भाईचारे की रक्षा के लिए एकजुट होना होगा। देश के संविधान, लोकतंत्र तथा आजादी की रक्षा के लिए लड़ाई जारी रखना होगा, तभी बाबा भीमराव अम्बेडकर के सपनों का भारत बनेगा।

वक्ताओं में पार्टी जिला सचिव मंडल सदस्य सपन माजी, सीटू राज्य उपाध्यक्ष भारत भूषण, बीसीकेयू साथी राम कृष्णा पासवान तथा मजदूर कर्मचारी समन्वय समिति के संयोजक साथी हेमंत मिश्रा शामिल थे, जबकि कार्यक्रम की अध्यक्षता पार्टी धनबाद लोकल कमिटी सचिव रामबालक ने किया। इस कार्यक्रम में सीपीआई(एम) शाखा सचिव लीलामय गोस्वामी के अलावे देवाशीष वैद्य, ओम प्रकाश पासवान, केडी सिंह, कृष्णा मुंडा, समसुद्दीन अंसारी, ज्ञान उदय गोर्की, आजरानी निशानी तथा कई अन्य साथी उपस्थित थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.