पड़ोसन के साथ बंद कमरे में CISF जवान कर रहा था गूटर गु, सास ने कर दी छापेमारी; जानिए फिर क्या हुआ

मधुबन थाना प्रभारी सोनू चौधरी ने बताया कि मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा था। दोनों पक्ष ने आज के बाद एक दूसरे से संबंध नही रखने की बात कही है। किसी पक्ष के द्वारा कोई लिखित शिकायत नहीं दी गई । बांड भरवाकर दोनों को छोड़ दिया गया।

MritunjaySat, 19 Jun 2021 06:58 AM (IST)
महिला के साथ बंद कमरे में पकड़ा गया सीआइएसएफ जवान ( सांकेतिक फोटो)।

धनबाद, जेएनएन। रातभर पड़ोस की महिला के घर में सीआइएसएफ जवान था। वह महिला के साथ बंद कमरे में था। इसकी भनक महिला की सास को लग गई। वह सुबह होते ही छापेमारी कर दी। दरवाजे पर खड़ा होकर शोर मचाने लगी। यह सुनकर काफी संख्या में लोग जुट गए। सीआइएसएफ जवान को पकड़ लिया। इसके बाद तो हंगामा मच गया। खुद को घिरा देख जवान ने सहयोगियों को फोन लगाया। सहयोगी पहुंचे। हंगामा की सूचना पर मधुबन थाना की पुलिस भी पहुची। पुलिस किसी तरह भीड़ से बचाकर जवान को थाना ले गई। 

माहाैल खराब होने का आरोप लगा लोगों ने मचाया हंगामा

सिनीडीह में अहले सुबह शादीशुदा महिला के कमरे में सीआईएसएफ जवान को देख जमकर हंगामा हुआ। महिला की सास द्वारा शोर मचाए जाने पर काफी संख्या में लोग पहुंच गए और जवान को घेर लिया। आरोप था कि दोनों एक कमरे में थे। इनके हरकत से मोहल्ले का माहौल खराब हो रहा है। आक्रोशित लोगों ने आरोपी जवान पर गुस्सा उतारना शुरु कर दिया। इस बीच आरोपी जवान के साथी वहां पहुंच गए। सूचना पाकर मधुबन थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को समझा बुझाकर जवान को भीड़ से निकालकर थाना ले आई।

दिनभर थाना में हुआ हंगामा

गुरुवार 17 जून की सुबह सीआइएसएफ जवान महिला के साथ पकड़ा गया। दोपहर तक जवान के सहकर्मी और ग्रामीणों की भीड़ थाना में जमी रही। करीब तीन घंटे तक हंगामा होता रहा। बाद में पुलिस के समक्ष महिला व आरोपी जवान के बीच सुलहनामा हुआ। दोनों ने आज के बाद से आपस में कोई संबंध नहीं रखने की बात कही। इसके बाद माहौल शांत हुआ। पुलिस ने पी आर बांड भरवा कर दोनों को थाना से छोड़ दिया। बताते हैं कि जवान राजेंद्र महिला का पड़ोसी है जो वर्तमान में गोविंदपुर क्षेत्र में पदस्थापित हैं।

पीआर बांड पर थानेदार ने छोड़ा

मधुबन थाना प्रभारी सोनू चौधरी ने बताया कि मामला प्रेम प्रसंग से जुड़ा था। दोनों पक्ष ने आज के बाद एक दूसरे से संबंध नही रखने की बात कही है। किसी पक्ष के द्वारा कोई लिखित शिकायत नहीं दी गई । बांड भरवाकर और कड़ी हिदायत देकर दोनों को छोड़ दिया गया।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.