Rupa Tirkey Suicide Case: सीएम के विधायक प्रतिनिधि पर कसा शिकंजा, कैंप कार्यालय में बुलाकर सीबीआइ ने दागे सवाल

Rupa Tirkey Suicide Case सीबीआइ ने साहिबगंज महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की आत्महत्या केस में सीबीआइ ने जांच तेज कर दी है। सीबीआइ ने गुरुवार को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को बुलाकर पूछताछ की।

MritunjayThu, 25 Nov 2021 01:11 PM (IST)
साहिबगंज में सीबीआइ के कैंप कार्यालय से बाहर निकलते पंकज मिश्रा ( फोटो जागरण)।

जागरण संवाददाता, साहिबगंज। बहुचर्चित साहिबगंज महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की आत्महत्या केस में सीबीआइ ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा के खिलाफ शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। गुरुवार को साहिबगंज स्थित कैंप कार्यालय में सीबीआइ टीम ने पंकज मिश्रा को बुलाकर पूछताछ की। करीब 11 बजे मिश्रा को हाजिर होने के लिए कहा गया था। लेकिन वह सुबह 9 बजे ही पहुंच गए। 12 बजे तक पूछताछ हुई। पूछताछ के बाद सीबीआइ ने मिश्रा को जाने दिया। इस मामले में सीबीआइ ने कुछ भी कहने से इन्कार किया। हालांकि पंकज ने कहा कि तथ्यपूर्ण बात हुई है। जब भी पूछताछ के लिए सीबीआइ बुलाएगी उपस्थित हो जाऊंगा।

रूपा की मां का पंकज पर गंभीर आरोप

साहिबगंज महिला थाना प्रभारी रूपा तिर्की द्वारा आत्महत्या के बाद यह मामला शुरू से राजनीतिक रूप लेता रहा है। रूपा की मां ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक  प्रतिनिधि पंकज मिश्रा और दो बैचमेट महिला दारोगा पर गंभीर आरोप लगाए थे। यह आरोप लिखित में है। इस आरोप पर सीबीआइ ने मिश्रा को बुलाकर पूछताछ की। पूछताछ के लिए एक दिन पहले 24 नवंबर को सीबीआइ ने नोटिस भेजा था। समय 11 बजे का था। लेकिन मिश्रा ने कुछ कार्यक्रम का हवाला देते हुए 9 बजे से ही आने की बात कही। पूछताछ के बाद मिश्र ने बताया कि रूपा तिर्की आत्महत्या केस का खुलासा होना चाहिए। वह सीबीआइ को हर संभव सहयोग करने को तैयार हैं।

3 मई, 2021 को रूपा ने की थी आत्महत्या

3 मई, 2021 को साहिबगंज महिला थाना की तत्कालीन प्रभारी रूपा तिर्की ने आत्महत्या कर ली थी। सरकारी आवास में फंदे पर शव लटकता मिला था। इस मामले में तिर्की की मां ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा समेत तीन लोगों के खिलाफ प्रताड़ित करने की शिकायत की थी। हालांकि पुलिस का कहना था कि सब इंस्पेक्टर शिव कुमार कनाैजिया और तिर्की के बीच प्रेम संबंध था। दोनों के बीच विवाद हुआ। अवसाद में तिर्की ने आत्महत्या कर ली। लेकिन स्वजन और विरोधी दलों के नेता इसे मानने को तैयार नहीं हुए। बाद में रांची हाई कोर्ट ने मामले की जांच सीबीआइ से कराने का आदेश दिया है। सीबीआइ मामले की जांच कर रही है। 

रूपा की मां का आरोप

रूपा तिर्की की मां पद्यमावती उराईन, बहन व कुछ अन्य लोग रांची से साहिबगंज पहुंचे और उसकी सहकर्मी मनीषा कुमारी व ज्योत्सना महतो पर प्रताडऩा का आरोप लगाया। कहा कि दोनों उसे झामुमो नेता पीके मिश्रा के पास ले गई थी। रूपा तिर्की की मां ने तीन लोगों पर प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की थी। हालांकि, उस आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई। इस आरोप पर सीबीआइ ने पंकज मिश्रा से पूछताछ की।

बरहड़वा विधायक के प्रतिनिधि हैं पंकज मिश्रा

पंकज मिश्रा झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि के साथ-साथ झामुमो के केंद्रीय सचिव हैं। हेमंत सोरेन साहिबगंज के बरहड़वा विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा हैं। मुख्यमंत्री की अनुपस्थिति में उनका सारा काम पंकज ही देखते हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.