खुशबू की रहस्यमय मौत के पीछे भाजपा नेता के बेटे का हाथ!

धनबाद, जेएनएन। जिले के बलियापुर थाना क्षेत्र के खेतटांड गांव की किशोरी खुशबू की मौत से पर्दा उठा तो झारखंड की राजनीति में हंगामा बरप सकता है। मौत के पीछे सत्ताधारी भाजपा के एक बड़े नेता के बेटे का हाथ बताया जा रहा है। किशोरी के पिता विजय मंडल ने उपायुक्त और एसएसपी को निष्पक्ष जांच के लिए पत्र लिख अपना काम कर दिया है। अब पुलिस के सामने अपनी साख कायम करने की चुनौती है। क्या पुलिस मामले की तह तक जाएगी?

क्या है खुशबू प्रकरण : बलियापुर थाना के खेततांड गांव की दो युवती खुशबू मंडल और सोनाली मंडल 29 अगस्त को सल्फॉस की गोली खा ली थी। दोनों गांव के मंदिर के पास बेहोश पाई गई थी। खुशबू की मौत हो गई जबकि इलाज के बाद सोनाली बच गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद खुशबू के पिता को आशंका है कि उसकी बेटी को जहर खिलाकर हत्या की गई। वह पुलिस जांच से संतुष्ट नहीं हैं। पोस्टमार्टम में जहर खाने की बात सामने आई है। लेकिन उसके गाल के पास टुड्डी पर मिले जख्म पूरे मामले को संदिग्ध बना रहे हैं। ये जख्म कई कारणों से बन सकते हैं। जोर जबर्दस्ती का विरोध करने में जख्मी हुई हो या किसी ने जबरदस्ती जहर खिलाया हो। ठुड्डी को पकड़कर जबरन जहर खिलाने के दौरान जख्म हो सकते हैं।

सच को सामने लाए पुलिस : झारखंड विकास मोर्चा के केंद्रीय महासचिव रमेश कुमार राही ने बलियापुर थानेदार से मिलकर सच को सामने लाने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि इस घटना के पीछे लोग दबी जुबान सत्ताधारी भाजपा के एक बड़े नेता के बेटे का नाम ले रहे हैं। परिजन हत्या की आशंका जता रहे हैं। पुलिस द्वारा तीन मोबाइल जब्त करना और एक का सिम गायब हो जाना संदेह पैदा करता है। राही ने पुलिस से दबाव मुक्त होकर काम करने की मांग की है। कहा, पुलिस सच को सामने नहीं लाती है तो झाविमो सड़क पर उतर आंदोलन करेगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.