बीसीसीएल प्रबंधन बड़े पूंजीपतियों को दे रही बढ़ावा, आंदोलन को ले करेंगे अर्धनग्न प्रदर्शन

कोयलांचल वाहन ओनर्स एसोसिएशन की एक बैठक एरिया 12 में स्थित डुमरकुंडा दक्षिण पंचायत भवन में मंगलवार को हुई। बैठक में एरिया 12 के वाहन मालिकों ने अपनी-अपनी समस्याओं को रखा। वाहन मालिकों ने वर्ष 2014 से लेकर 2019 तक चले वाहनों का सिक्युरिटी मनी बीसीसीएल प्रबंधन द्वारा वापस नहीं किये जाने का विरोध किया और इसे तत्काल वापस दिलाने की मांग की।

JagranTue, 21 Sep 2021 05:28 PM (IST)
बीसीसीएल प्रबंधन बड़े पूंजीपतियों को दे रही बढ़ावा, आंदोलन को ले करेंगे अर्धनग्न प्रदर्शन

संवाद सहयोगी, पंचेत : कोयलांचल वाहन ओनर्स एसोसिएशन की एक बैठक एरिया 12 में स्थित डुमरकुंडा दक्षिण पंचायत भवन में मंगलवार को हुई। बैठक में एरिया 12 के वाहन मालिकों ने अपनी-अपनी समस्याओं को रखा। वाहन मालिकों ने वर्ष 2014 से लेकर 2019 तक चले वाहनों का सिक्युरिटी मनी बीसीसीएल प्रबंधन द्वारा वापस नहीं किये जाने का विरोध किया और इसे तत्काल वापस दिलाने की मांग की। वहीं एरिया में वाहनों के बिल का भुगतान लंबे समय से नही होने को लेकर चर्चा की। एसोसिएशन के अध्यक्ष उदय प्रताप सिंह ने कहा कि बीसीसीएल प्रबंधन को हर हाल में 10 साल तक के वाहन को किसी भी कीमत पर चलाना होगा। बीसीसीएल प्रबंधन अपनी मनमानी कर रही है। जिसे किसी भी सूरत में बर्दास्त नहीं की जाएगी। सिंह ने कहा कि अपनी हक की लड़ाई के लिए किसी भी हद तक जाएंगे। बीसीसीएल प्रबंधन को 2010 और 2014 के शिड्यूल आफ रेट के तहत वाहन को चलवाना होगा। हमलोगों ने वाहन को टेक्स 12 साल तक दे दिए हैं और बीसीसीएल ने 5900 रुपये लेकर 2020 से लेकर 2025 तक के लिए एसओआर का निबंधन किया है। इसलिए बीसीसीएल को एसओआर के तहत ही वाहन लेना पडे़गा। नहीं तो बीसीसीएल के डीपी, डीटी और बीसीसीएल प्रबंधन के खिलाफ सभी एरिया से धोखाधड़ी का प्राथमिकी दर्ज कराया जाएगा। वहीं उदय शंकर दुबे ने कहा कि अपनी हक कि लड़ाई के लिए सभी ओनर एकजुट रहे, तभी हमलोगों कि जीत निश्चित होगी। बैठक की अध्यक्षता लक्ष्मी नारायण सिंह एवं संचालन राम कृष्ण शर्मा ने किया। बैठक में संरक्षक प्रवीण ठक्कर, सुनील जी पांडेय, प्रेम गुप्ता, बिसुन देव यादव, अरुण कुमार सिंह, मो वहाब हुसैन, कृष्णा कुमार पांडेय, अरुण कुमार घोष, अनिल घोष, नगीना देवी, धरम गोपाल बाउरी, मिहिर गोराई, मिट्ठू चंद्र, अंजना देवी, दामोदर पासवान एवं अन्य लोग शामिल थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.