एक जनवरी से बढ़ जाएगा एटीएम से पैसा निकालने का चार्ज, पांच ट्रांजेक्शन से अधिक होने पर लगेंगे इतने रुपये

ATM cash withdrawal charge नए साल में एटीएम से पैसा निकासी शुल्क बढ़ जाएगा। इसके लिए आरबीआइ ने बैंकों को मंजूरी दे दी है। इसके बाद बैंकों द्वारा ग्राहकों को एसएमएस भेजकर ट्रांजेक्शन शुल्क बढ़ोतरी की सूचना दी जा रही है। धनबाद में 554 से ज्यादा एटीएम हैं।

MritunjayPublish:Thu, 09 Dec 2021 06:06 AM (IST) Updated:Fri, 10 Dec 2021 04:22 AM (IST)
एक जनवरी से बढ़ जाएगा एटीएम से पैसा निकालने का चार्ज, पांच ट्रांजेक्शन से अधिक होने पर लगेंगे इतने रुपये
एक जनवरी से बढ़ जाएगा एटीएम से पैसा निकालने का चार्ज, पांच ट्रांजेक्शन से अधिक होने पर लगेंगे इतने रुपये

जागरण संवाददाता, धनबाद। ATM cash withdrawal charge एटीएम कार्ड का इस्तेमाल करने वाले देश के करोड़ों उपभोक्ताओं के लिए महत्वपूर्ण सूचना है। यह सूचना एटीएम से पैसा निकासी शुल्क से जुड़ी है। शुल्क में बदलाव को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक ने दिशा-निर्देश जारी कर दिया है। यह निर्देश धनबाद के कार्यरत 16 बैंकों की 234 शाखाओं तक पहुंच गई है। इन शाखाओं की यहां 554 से ज्यादा एटीएम हैं। नए साल में जब उपभोक्ता एटीएम से निकासी करने जाएंगे तो उन्हें कुछ ज्यादा चार्ज देना पड़ेगा। इसलिए यह जान लेना जरूरी है कि कितना ज्यादा चार्ज लगेगा ? यह चार्ज किस तारीख से लगेगा? निकासी की सीमा क्या है? वगैरह वगैरह।

 

अब पैसा निकालने के लिए ज्यादा खर्च करना पड़ेगा

ATM से पैसा निकालने वाले बैंक ग्राहकों को एक जनवरी, 2022 से ज्यादा खर्च करना पड़ेगा। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI)ने अपने नए नियम को जारी कर दिए है जिसके तहत उसने बैंकों को आने वाली 1 जनवरी, 2022 से एटीएम के ट्रांजेक्शन पर लगने वाले शुल्क को बढ़ाने की इजाजत दे दी है। इसका नतीजा ये होगा कि एटीएम से कैश निकालना या कोई और ट्रांजेक्शन करना महंगा हो जाएगा। 

इतने रुपये ज्यादा लगेगा चार्ज

RBI ने बैंकों को फ्री मंथली लिमिट के बाद हर ट्रांजेक्शन पर लगाए जा रहे चार्जेज में इजाफा करने के लिए मंजूरी दे दी है। 1 जनवरी से एटीएम के मुफ्त ट्रांजेक्शन के अलावा कैश निकालेंगे तो आपको बढ़ा हुआ शुल्क देना होगा। नए साल की पहली सुबह से प्रभावी होने वाले इस नियम के तहत एटीएम में फ्री लिमिट के ऊपर फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन फीस 21 रुपये होगी जो पहले 20 रुपये थी। अगर आप फ्री ट्रांजेक्शन से ज्यादा पैसे निकालते हैं तो आपको 20 रुपये की जगह 21 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन खर्च करने होंगे। इसके अलावा ग्राहकों को इस पर जीएसटी भी देना होगा। आरबीआई ने सर्कुलर जारी कर इस बारे में जानकारी दी है। 

यह है मुफ्त ट्रांजेक्शन की सीमा

बैंक के कस्टमर्स को एटीएम पर 5 फ्री ट्रांजेक्शन मिलते हैं। इसमें फाइनेंशियल और नॉन फाइनेंशियल दोनों ही तरह के ट्रांजेक्शन शामिल रहेंगे। मेट्रो शहर में रहने वाले बैंक ग्राहक अन्य बैंक के एटीएम से हर महीने तीन बार फ्री ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। अन्य शहरों के ग्राहक दूसरे बैंक के एटीएम से भी हर महीने पांच फ्री ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। अगर कोई टैक्स लागू होता है तो वह इस चार्ज से अलग वसूला जाएगा। 31 दिसंबर तक आपको 20 रुपये चार्ज के अलावा टैक्स लगेगा लेकिन नए साल से 21 रुपये का चार्ज और उस पर लागू टैक्स देना होगा। 

अपभोक्ताओं पर होगा यह असर

फिलहाल बैंक अपने कस्टमर्स को एटीएम से एक महीने में पांच फ्री ट्रांजेक्शन देते हैं जिनमें वित्तीय और गैर-वित्तीय दोनों तरह के ट्रांजेक्शन शामिल हैं। बैंकों की ये सर्विस आगे भी जारी रहेगी तो आपको ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि ज्यादातर ग्राहकों का काम इन्हीं फ्री ट्रांजेक्शन लिमिट्स के अंदर हो जाता है। 

एसएमएस भेज बैंकों की तरफ से ग्राहकों को दी जा रही जानकारी

आरबीआइ की मंजूरी के बाद प्राइवेट सेक्टर के एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों को जानकारी देनी शुरू कर दी है। इसके तहत कस्टमर्स को SMS भेजा जा रहा है। एसएमएस में साफ लिखा गया है कि बैंक या दूसरे बैंक के एटीएम से तय फ्री लिमिट के बाद किए जाने वाले ट्रांजेक्शन पर 21 रुपये का चार्ज और जीएसटी देना होगा। पहले ये 20 रुपये था जो एक जनवरी, 2022 से 21 रुपये हो जाएगा।