वार्ता में सहमति के बाद ब्लाक दो से उठा कर्मी का शव

संवाद सहयोगी बाघमारा छह लाख रुपये मुआवजा व नियोजन पर सहमति बनने के उपरांत केशरगढ़ स

JagranWed, 23 Jun 2021 08:15 PM (IST)
वार्ता में सहमति के बाद ब्लाक दो से उठा कर्मी का शव

संवाद सहयोगी, बाघमारा: छह लाख रुपये मुआवजा व नियोजन पर सहमति बनने के उपरांत केशरगढ़ साइडिग के मृत ठेका मजदूर शक्ति रवानी का शव 24 घंटे बाद उठाया गया। बाघमारा थाना में पूर्व मंत्री जलेश्वर महतो व डीएसपी निशा मुर्मू की उपस्थिति में परिवहन कंपनी के साथ वार्ता में हुई। इसमें 50 हजार रुपये नकद व मृतक के पुत्र उत्तम रवानी को तत्काल नियोजन पर सहमति बनी। शेष साढ़े पांच लाख रुपये का चेक गुरुवार को देने का समझौता हुआ। वार्ता के बाद शाम सात बजे आंदोलनस्थल से स्वजन शव को लेकर अपने गांव चले गए।जलेश्वर ने परिवहन कंपनी प्रबंधन से कहा कि ठेका कर्मी की ड्यूटी के दौरान मौत हुई है, इसलिए सारी जबावदेही परिवहन कंपनी की है, काफी जिच के बाद परिवहन कंपनी एसएमएस जेवी के प्रतिनिधि मुकेश जिदल ने छह लाख मुआवजा व तत्काल नियोजन पर सहमति जताया।

जलेश्वर ने कहा कि आज की वार्ता में ठेका श्रमिकों के लिए नया अध्याय जुड़ा है। यह ठेका कर्मियों की एकता की जीत है। वार्ता में थाना प्रभारी सुबेदार कुमार यादव, झामुमो नेता रतिलाल टुडू, लगनदेव यादव, इंदल यादव, बलराम साव, बैजनाथ यादव, विकास सिंह, जेके झा थे। बता दें कि सोमवार देर रात ब्लाक दो क्षेत्र के नदखरकी 14 नंबर हाजरी घर के पास सेल पीकिग मजदूर का शव कीचड़ में लथपथ पाया गया था। जिसके बाद मंगलवार सुबह से ठेका मजदूर व परिजन बीओसीपी माइंस का चक्का जाम कर धरना पर बैठ गए थे। मंगलवार शाम को परिवहन कंपनी के साथ वार्ता विफल होने के बाद आंदोलनकारियों ने शव को हाजिरी घर के पास रख दिया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.