झारखंड में व्यवस्था का अंग बन गया है भ्रष्टाचार : रघुवर दास

संवाद सहयोगी इटखोरी (चतरा) झारखंड में भ्रष्टाचार व्यवस्था का अंग बन गया है। आपराधकि घटना

JagranSat, 04 Dec 2021 07:58 PM (IST)
झारखंड में व्यवस्था का अंग बन गया है भ्रष्टाचार : रघुवर दास

संवाद सहयोगी, इटखोरी (चतरा) : झारखंड में भ्रष्टाचार व्यवस्था का अंग बन गया है। आपराधकि घटनाएं बढ़ी हैं। सरेआम लूट, हत्या व दुष्कर्म की घटनाएं घटित हो रही हैं। दो वर्ष के शासन में वर्तमान सरकार ने राज्य का विनाश कर दिया है। सिर्फ मुख्यमंत्री, उनके परिजन तथा मंत्रियों का विकास हो रहा है। ऐसी सरकार को सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है।

यह बातें प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास ने शनिवार को इटखोरी में कहीं। पूर्व मुख्यमंत्री यहां ऐतिहासिक मां भद्रकाली मंदिर में पूजा अर्चना करने पहुंचे थे। पूजा के पश्चात पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि मां भद्रकाली की पूजा करने के दौरान उन्होंने माता से मन्नत मांगी है कि यहां के लोगों को माता सुख समृद्धि दें। पूर्व मुख्यमंत्री ने राज्य की वर्तमान सरकार के विरुद्ध जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि अब तक के दो वर्ष के शासन में हेमंत सोरेन की सरकार ने प्रदेश में एक किलोमीटर भी सड़क बनाने का काम नहीं किया है। डबल इंजन की सरकार के वक्त राज्य में जो काम हुए थे, यह सरकार उन्हीं योजनाओं का उद्घाटन कर अपनी पीठ थपथपा रही है। ट्रांसफर पोस्टिग में जमकर पैसे लिए जा रहे हैं। इससे प्रदेश में नौकरशाही का राज कायम हो गया है। अपनी नाकामी को छुपाने के लिए सरकार आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार जैसा फ्लाप कार्यक्रम कर रही है। उन्होंने कहा कि यह सरकार पंचायत का चुनाव कराना ही नहीं चाहती है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार के शासनकाल में सबसे ज्यादा प्रताड़ित आदिवासी भाई हो रहे हैं। राज्य के आदिवासी भाइयों का कल्याण करने की बजाय मुख्यमंत्री तथा उनके मंत्री खनिज संपदा की लूट करवाने में लगे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री के इटखोरी आगमन पर सिमरिया के विधायक किशुन कुमार दास, भाजपा के जिला अध्यक्ष अशोक शर्मा, वरिष्ठ भाजपा नेता काली चरण सिंह, जिला महामंत्री मृत्युंजय सिंह, मिथिलेश गुप्ता, जिला मंत्री सतीश सिंह, मंडल अध्यक्ष देव कुमार सिंह, रसिक शिरोमणि, विधायक प्रतिनिधि निरंजन सिंह, मंदिर प्रबंधन समिति के सदस्य रतन शर्मा, सुरेंद्र सिंह आदि ने उनका स्वागत किया।

-------

पर्यटन विकास के प्रोजेक्ट को भी सरकार ने लटकाया रघुवर दास ने भद्रकाली मंदिर के मास्टर प्लान का काम शुरू नहीं होने पर भी निराशा व्यक्त की। कहा कि इस सरकार ने राज्य में पर्यटन विकास की कई योजनाओं को लटका रखा है। करीब पांच सौ करोड़ रुपये से मां भद्रकाली मंदिर परिसर में पर्यटन विकास के लिए मास्टर प्लान की योजना तैयार की गई थी। योजना के तहत दुनिया का सबसे ऊंचा प्रेयर व्हील सनातन, बौद्ध एवं जैन धर्म के इस संगम स्थल पर बनना था। इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो जाता तो राज्य में बड़ी संख्या में विदेशी पर्यटक भी आते। राज्य का राजस्व बढ़ता।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.