ओमिक्रोन को ले सतर्कता बढ़ी, प्रतिदिन दो हजार का होगा कोरोना टेस्ट

संवाद सहयोगी चतरा कोरोना का नया वैरियंट ओमिक्रोन की संभावित खतरे को देखते हुए जिला प्र

JagranPublish:Sat, 04 Dec 2021 07:02 PM (IST) Updated:Sat, 04 Dec 2021 07:02 PM (IST)
ओमिक्रोन को ले सतर्कता बढ़ी, प्रतिदिन दो हजार का होगा कोरोना टेस्ट
ओमिक्रोन को ले सतर्कता बढ़ी, प्रतिदिन दो हजार का होगा कोरोना टेस्ट

संवाद सहयोगी, चतरा : कोरोना का नया वैरियंट ओमिक्रोन की संभावित खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन ने सतर्कता बढ़ा दी है। वैश्विक महामारी को देखते हुए प्रतिदिन दो हजार लोगों का कोरोना टेस्ट कराने का फैसला लिया गया है। हालांकि कोरोना की दूसरे लहर में प्रतिदिन 1700 का लक्ष्य रखा गया था। जिसे बढ़ाकर दो हजार किया गया है। जिला महामारी पदाधिकारी डा. आशुतोष कुमार ने बताया कि कोरोना के नए वैरियंट ओमिक्रोन के देखते हुए सतर्कता बढ़ा दी गई है। राज्य सरकार ने अधिक से अधिक जांच कर मरीजों को चिन्हित करने का निर्देश दिया है। सूबे में अब हर दिन कम से कम दो हजार लोगों की जांच करानी है। लक्ष्य को देखते हुए जहां स्वास्थ्य विभाग की टीमें जगह-जगह कैंप लगाकर अधिक से अधिक नमूना ले रही हैं। इतना ही नहीं उपायुक्त अंजली यादव के निर्देश पर सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में भी कोविड-19 जांच व वैक्सीनेशन को लेकर स्टॉल लगाए जा रहे है। साथ ही स्वास्थ्य अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है, ताकि लोगों को कोविड टीकाकरण के प्रति जागरूक किया जा सके। वहीं आरटी-पीसीआर के अलावा ट्रूनेट व कोविड-19 एजी रैपिड एंटीजेंड टेस्ट किट से परीक्षण कर त्वरित पहचान की जा रही है। उन्होंने बताया कि जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को 300 से लेकर 500 किट भेजे गए हैं। महामारी पर नियंत्रण के लिए शासन के निर्देश पर अधिक से अधिक जांच की जा रही है। उपायुक्त अंजली यादव के निर्देश पर एक बार फिर जिला नियंत्रण कक्ष को सक्रिय कर दिया गया है। नियंत्रण कक्ष में चौबीसों घंटा अधिकारियों और कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। ताकि किसी भी आपात स्थिति में संभावित खतरों से निपटा जा सके। नियंत्रण कक्ष में प्रतिनियुक्त किए गए अधिकारी और कर्मी 24 घंटे काम करेगी। प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों का मोबाइल नंबर सार्वजनिक कर दिया गया है। ताकि जब किसी को जरूरत पड़े, उनसे तत्काल बात किया जा सके।