top menutop menutop menu

कचरा निस्तारण का नहीं है कोई प्रबंध, फैल रही गंदगी

कचरा निस्तारण का नहीं है कोई प्रबंध, फैल रही गंदगी
Publish Date:Thu, 13 Aug 2020 08:20 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, चतरा : शहर में कचरा निस्तारण का कोई प्रबंध नहीं किया गया है। यहां पर कचरा प्रबंधन का समुचित उपाय नहीं है। यही कारण है कि शहर में जमा कचरे का निस्तारित कर पास के इलाके में फेंकने के अलावा अन्य कोई उपाय नहीं है। जाहिर है कि कचरा शहर के आबादी वाले इलाके से उठाकर विकास भवन के पीछे, लरकुआ मोड़ के पास व नवोदय विद्यालय के समीप फेंके जा रहे है। जिसके कारण यहां कचरे का का फैलाव होने लगा है। नगर पालिका के सामने अब कचरे का निस्तारण बड़ी समस्या बन गई है। अबतक न सफाई के आवश्यक संसाधन जुटा पाया है और न ही व्यवस्था संबंधी जरूरी कार्यो का समाधान ही कर पाया है। शहर में व्याप्त कचरे के प्रबंध की बात करें, तो इस मामले में संबंधित अधिकारी अबतक मात्र कागजी कार्रवाई ही करते रहे हैं। शहर के विभिन्न स्थानों पर जमा कचरे का निस्तारण एवं प्रबंधन के लिए उचित स्थान एक बड़ी चुनौती बन गयी है। यदि ठोस अपशिष्ट के प्रबंधन पर नगर परिषद जल्द ध्यान नहीं देगा, तो भविष्य में कचरा यहां एक गंभीर समस्या बन जाएगा। व्यवस्था के नाम पर नगर पालिका जगह-जगह गीले व सूखे कचरे का अलग-अलग डस्टबिन तो लगा दिए है, लेकिन लापरवाही और शिथिलता बरतने के कारण नगरपालिका कर्मी गीले व सूखे कचरे को एकसाथ ही एकत्रित किया जा रहा है। डंपिग यार्ड भी खुले में है, जहां चारदिवारी तक नहीं है। ऐसे में यह कचरा चहुंओर फैलता रहता है एवं आवारा पशुओं का जमघट लगा रहता है। जिससे बीमारियां बढ़ रही और प्रदूषण को भी भारी क्षति हो रही है। विकास भवन के पीछे डंपिग यार्ड अब भर गया है। जहां कचरा के डालने से दुर्गंध के साथ-साथ बीमारियों का खतरा भी बढ़ गया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.