डबल स्टोरेज ब्लॉक की ढह गई बाहरी छत, फंस गए आठ परिवार

कथारा (बेरमो) सीसीएल कथारा प्रक्षेत्र की कथारा बांध कॉलोनी के एक डबल स्टोरेज आवासीय ब्ला

JagranSun, 20 Jun 2021 11:31 PM (IST)
डबल स्टोरेज ब्लॉक की ढह गई बाहरी छत, फंस गए आठ परिवार

कथारा (बेरमो): सीसीएल कथारा प्रक्षेत्र की कथारा बांध कॉलोनी के एक डबल स्टोरेज आवासीय ब्लॉक की बाहरी छत ढह गई, जिससे उस ब्लॉक में ऊपर के आठ क्वार्टरों में रह रहे सीसीएलकर्मियों के परिवार फंस गए है। इस ब्लॉक की बाहरी छत रविवार को तड़के लगभग चार बजे जब ध्वस्त हुई, उस दौरान ब्लॉक के सभी 16 क्वार्टरों में लोग सोए हुए थे। छत गिरने से जोरदार आवाज हुई, तब लोगों ने अपने-अपने क्वार्टरों से झांककर देखा तो हतप्रभ होने के साथ ही दहशत में भी आ गए। क्योंकि कुल 16 क्वार्टरों के इस ब्लॉक के निचले आठ क्वार्टरों के दरवाजे जहां मलबे से भरकर जाम हो गए थे। वहीं, ऊपरी तल्ले के आठ क्वार्टरों से निकलने की कोई राह नहीं थी। क्योंकि जो बाहरी छत गिरी, वह निचले तल्ले के बरामदे के ऊपर व ऊपरी तल्ले के कॉरिडोर के रूप में थी। इसलिए ऊपरी तल्ले के आठ क्वार्टरों में लोग फंसे रह गए। बाद में उन सबको स्थानीय लोगों ने लकड़ी की सीढ़ी लगाकर बाहर निकाला। साथ ही इस हादसे की सूचना सीसीएल कथारा परियोजना के पीओ को देनी चाही तो उनका मोबाइल फोन स्विच्ड ऑफ पाया गया।

--अधिकारियों ने लिया ध्वस्त छत व पूरे ब्लॉक का जायजा : यह सूचना जब गोमिया विधायक डॉ. लंबोदर महतो को मिली, तब उन्होंने अपने पुत्र शशि महतो को भेजा। उनके साथ गोमिया के बीडीओ कपिल कुमार, अंचल निरीक्षक सुरेश वर्मा, बोकारो थर्मल थाना प्रभारी रवींद्र कुमार सिंह, गोमिया थाना प्रभारी आशीष खाखा, कथारा ओपी प्रभारी बबुआनंद भगत, सीसीएल कथारा प्रक्षेत्र के असैनिक अभियंता आरके प्रधान, संजय कुमार सिंह, सुरक्षा पदाधिकारी केके झा, निवर्तमान मुखिया तुलसी गोप, पंसस गोपाल यादव आदि ने पहुंचकर ध्वस्त छत व पूरे ब्लॉक का जायजा लिया। इस ब्लॉक में रह रहे गोपीचंद रजवार, शांति देवी, कासिम खान, रामजी मांझी, मटरू कमार, संजू देवी, असलम खान, सहदेव रविदास, मो. शहादत, सुमीत रविदास, रमेश मांझी आदि ने बताया कि इस कॉलोनी में कुल सात डबल स्टोरेज आवासीय ब्लॉक हैं। सभी ब्लॉक की छत एवं क्वार्टर काफी जर्जर हो चुके हैं। पिछले तीन वर्षों से लिखित एवं मौखिक सूचना सीसीएल कथारा कोलियरी प्रबंधन व कथारा क्षेत्रीय प्रबंधन को दर्जनों बार देकर मरम्मत कराने की गुहार लगाई जा चुकी है। इसके बावजूद प्रबंधन के कानों पर जूं तक नही रेंगी। फलस्वरूप, इस ब्लॉक की बाहरी छत ढह गई। खैर रही कि जब छत ढही तब उस दौरान क्वार्टरों में सभी लोग सोए हुए थे। अन्यथा बड़ा हादसा हो जाता।

-बीडीओ ने दिया सुरक्षित क्वार्टरों में शिफ्ट कराने का निर्देश : कथारा बांध कॉलोनी के जिस आवासीय ब्लॉक की बाहरी छत ढही, उसके सभी 16 क्वार्टर के लोगों को अन्य सुरक्षित क्वार्टरों में शिफ्ट कराने का निर्देश बीडीओ कपिल कुमार ने सीसीएल के अधिकारियों को दिया। कहा कि ध्वस्त छत का पुनर्निर्माण कराने के साथ ही इस कॉलोनी के सभी सात आवासीय ब्लॉक की मरम्मत कराई जाए। ताकि इस तरह की अन्य घटना यहां न घटे। बीडीओ के निर्देश के बाद सभी 16 क्वार्टर के लोगों को सीसीएल की ओर से सुरक्षित स्थान में ले जाने की कवायद की जाने लगी। वर्जन

कथारा बांध कॉलोनी के आवासीय ब्लॉकों के जर्जर हो जाने की जानकारी मुझे नहीं मिली थी। एक ब्लॉक की बाहरी छत ढह जाने के बाद संज्ञान में आया कि सभी सात ब्लॉक जर्जर हो गए हैं। इस बारे में सीसीएल के वरीय अधिकारियों को अवगत कराकर जल्द से जल्द मरम्मत कराई जाएगी।

- केके झा, सुरक्षा पदाधिकारी, सीसीएल कथारा प्रक्षेत्र

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.