शहीद पुलिस कर्मियों को किया याद, श्रद्धांजलि अर्पित की

संवाद सहयोगी, ऊधमपुर : शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए जिला पुलिस लाइन ऊधमपुर में सोमवार को पुलिस स्मरणोत्सव दिवस परेड का आयोजन किया गया। इस दौरान राष्ट्र की सेवा करते हुए अपने प्राणों का बलिदान देने वालों को याद किया गया और उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर ऊधमपुर-रियासी रेंज के आइपीएस डीआइजी सुजीत कुमार, डीसी ऊधमपुर डॉ. पियूष सिगला, एसएसपी ऊधमपुर राजीव पांडे, एएसपी ऊधमपुर राजिदर सिंह कटोच ने समारोह की अध्यक्षता की और स्मारक पर परेड की।

इस मौके पर शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए जिला ऊधमपुर के शहीद हुए पुलिस जवानों के परिजनों के अलावा सेवानिवृत्त पुलिस कर्मियों, प्रमुख नागरिकों और विशिष्ट अतिथियों को पुलिस स्मरणोत्सव परेड के लिए आमंत्रित किया गया था। इस मौके पर एसएसपी ऊधमपुर राजीव पांडे ने शहीदों के नामों को सम्मान और स्मरण के रूप में पढ़ा। उन्होंने परिवार के सभी सदस्यों को भी धन्यवाद दिया। इस मौके पर गार्ड ऑफ ऑनर के बाद शहीद पुलिस कर्मियों के परिजनों, प्रमुख नागरिकों, सेवानिवृत्त पुलिस कर्मियों और विशिष्ट अतिथियों ने शहीदी स्मारक पर पुष्पांजलि अíपत की। स्मरण के टोकन के रूप में जिला पुलिस ऊधमपुर द्वारा शहीदों के परिजनों को उपहार पैक दिए गए थे।

इस अवसर पर एसएसपी ने संबोधित करते हुए कहा कि सीआरपीएफ के गश्ती दल के दस जवानों ने 21 अक्टूबर 1959 को भारत-चीन सीमा की रक्षा करते हुए अपने प्राणों का बलिदान दिया था। पुलिस कमिश्नरी दिवस, शहीदों के पिता और सेवानिवृत्त पुलिस कार्मिक बैठक, बातचीत और शिकायत निवारण सत्र के आयोजन के हिस्से के रूप में डीसी, एसएसपी, एसपी और अन्य अधिकारियों के साथ डीआइजी द्वारा परेड के बाद बातचीत की गई और उन्हें आ रही समस्याओं को सुना।

इस मौके पर डीएसपी एसओ कामेश्वर पुरी, एसडीपीओ चिनैनी संतोख राज देओल, डीएसपी डीआर ऊधमपुर हिम्मत सिंह, डीएसपी हेड क्वार्टर ऊधमपुर डॉ. रोहित चड़गाल के अलावा अन्य लोग भी उपस्थित थे। वहीं, इसी संदर्भ में शेर-ए-पुलिस एकेडमी ऊधमपुर में भी कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें स्मरणोत्सव दिवस परेड का आयोजन किया गया, जहां एकेडमी के डायरेक्टर आइजीपी डॉ. एसडी सिंह जम्वाल ने शहीदों को श्रद्धांजलि अíपत की। इस मौके पर बीएसएफ, सीआइएसएफ, सीआरपीएफ, दमकल विभाग, सिविल डिफेंस, होमगार्ड, आइटीबीपी, एनसीबी, एनडीआरएफ, एसएसबी के आला अधिकारी मौजूद थे। इस मौके पर एकेडमी के डायरेक्टर आइजीपी डॉ. एसडी सिंह जम्वाल ने संबोधित करते हुए कहा कि 21 अक्टूबर 1959 को भारत-चीन सीमा की रक्षा करते हुए सीआरपीएफ के गश्ती दल के दस जवानों ने अपने प्राणों का बलिदान दिया था। शहीद अमन ठाकुर के नाम पर बनेगा पार्क

इस मौके पर आइजीपी डॉ. एसडी सिंह जम्वाल ने बताया कि शेर-ए-पुलिस एकेडमी ऊधमपुर परिसर में एक पार्क बनाया जाएगा, जिसका नाम शहीद अमन ठाकुर मेमोरियल पार्क रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि 2011 बैच के डीएसपी शहीद अमन ठाकुर ने एक साल इसी एकेडमी में प्रशिक्षण लिया था। उन्होंने बताया कि 24 फरवरी 2019 को श्रीनगर के कुलगाम में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों को मौत के घाट उतारकर शहीद हो गए थे। इस मौके पर पुलिस के आला अधिकारियों के अलावा प्रशासनिक अधिकारियों में मोहन लाल, राकेश कुमार, कमल शर्मा, आशीष राठौड़, सुरेंद्र कुमार, रमेश कटारिया, केके शर्मा, डीएसपी सूरज सिंह, डीएसपी विद्या सागर के अलावा अन्य अधिकारियों ने शहीदी स्मारक पर पुष्प अíपत कर श्रद्धांजलि दी।

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.